समाचार ब्यूरो
19/10/2018  :  11:35 HH:MM
राष्ट्रीय अध्यक्ष के विरुद्ध अनुशासनहीनता के आरोपों पर भी विचार
Total View  17

गुरुवार को गुरुग्राम में हुई इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) की कार्यकारिणी की बैठक में दुष्यंत चौटाला, सांसद और उनके छोटे भाई दिग्विजय सिंह चौटाला, भंग की गई इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष के विरुद्ध अनुशासनहीनता के आरोपों पर भी विचार किया गया।

कार्यकारिणी ने यह निर्णय लिया कि इस मुद्दे को पार्टी की अनुशासनात्मक समिति को भेजा जाए। उपरोक्त समिति से कहा गया है कि वह आरोपों पर विचार कर 25 अक्तूबर 2018 तक अपनी रिपोर्ट कार्यकारिणी को प्रस्तुत करे। तब तक दुष्यंत चौटाला और दिग्विजय
चौटाला पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित रहेंगे। उन दोनों पर यह आरोप है कि 7 अक्तूबर 2018 को गोहाना में आयोजित चौधरी देवीलाल के 105वें जन्मदिवस उत्सव में हुड़दंग करने वालों को उनके द्वारा प्रोत्साहित किया गया था। उन पर यह भी आरोप है कि हरियाणा के इतिहास में सबसे बड़ी रैली को पार्टी विरोधी शाक्तियों से मिलकर बाधित करने का प्रयास किया गया।कार्यकारिणी की बैठक की अध्यक्षता इनेलो राष्ट्रीय पार्टी अध्यक्ष चौधरी ओमप्रकाश चौटाला ने की और उन्होंने अपने वक्तव्य के दौरान बारबार पार्टी में अनुशासन के महत्व पर बल दिया। उन्होंने कड़े शब्दों में यह चेतावनी भी दी कि यदि कोई भी व्यक्ति अनुशासनहीनता में संलिप्त पाया जाता है तो उसके पद को देखे बिना कड़ी अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने याद दिलाया कि इनेलो की प्रतिष्ठा उसके अनुशासित कार्यकर्ताओं पर निर्भर करती है जिस प्रकार के दृश्य रैली में देखे गए, उनको कर्मठ कार्यकर्ता और नेता आहत हुए और उन्होंने उसे गंभीरता से लिया है। इस कारण अनुशासनात्मक कार्रवाई ऐसे मामलों में आवश्यक हो जाती है।वहीं बैठक में इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने कहा कि एसवाईएल निर्माण को लेकर इनेलो-बसपा 1 नवंबर से प्रदेशव्यापी आंदोलन खड़ा करेगी। इसके अलावा उन्होंने मौसम की मार के चलते बर्बाद हो चुकी फैसलों की अभी तक गिरदावरी न करवाने के लिए प्रदेश सरकार की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि भाजपा सरकार किसानों की समस्याओं की अनदेखी कर रही है।

बारिश और ओलावृष्टि के कारण जहां फसलें नष्ट हो चुकी हैं वहीं जो फसल बची है उसकी उत्पादकता भी घटी है। इस लिए इनेलो सरकार से मांग करती है कि बर्बाद हो चुकी फसल का कम से कम 25 हजार रुपए प्रति एकड़ के हिसाब से मुआवजा दिया जाए। वहीं
उपज कम होने से किसान के नुकसान की भरपाई करने के लिए 200 रुपए प्रति क्विंटल बोनस दिया जाए। इनेलो वरिष्ठ नेता ने खट्टर सरकार में कानूनव्यवस्था पर चिंता प्रकट करते हुए कहा कि भाजपा के राज में प्रदेश की कानून व्यवस्था खस्ता हाल है। इसको दुरुस्त करने में प्रदेश सरकार पूर्ण रूप से विफल हुई है। आज प्रदेश में बच्चियों से लेकर वृद्ध महिलाओं तक कोई भी सुरक्षित नहीं है। उन्होंने यह भी कहा कि प्रदेश में बेरोजगारी चरम पर है। प्रदेश के पढ़े-लिखे युवाओं को रोजगार और नौकरियों के नाम पर आउटसोर्सिंग मिला है।बैठक सम्पन्न होने के बाद नेता विपक्ष अभय सिंह चौटाला ने इनेलो सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला और इनेलो परिवार की ओर से प्रदेशवासियों को दशहरा की शुभ कामनाएं दी।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   1310575
 
     
Related Links :-
विधानसभा में हमेशा भाजपा की पोल खोली : अभय चौटाला
छठ पूजा के लिए शीतला माता मंदिर में जल्द बनेगा भव्य स्थल: उमेश अग्रवाल
किसान नेता योगेंद्र यादव का हरियाणा दौरा शुरू
एनपीए वसूली की समीक्षा बैठक आयोजित
सेंटर फॉर एजुकेशन ग्रोथ एंड रिसर्च ने वर्कशॉप का आयोजन किया
घरौंडा को स्वच्छता में प्रथम लाना है तो सभी का सहयोग जरूरी: रजा
उपायुक्त डॉ. आदित्य दहिया ने किया नंबरदारों का सम्मान
बेटे को दी गई सिपाही की नौकरी एसआई स्व. नरेन्द्र के परिवार को एक करोड़ की आर्थिक सहायता
आने वाला समय इनेलो का: कौशिक
जांच की स्टेटस रिर्पोट पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट में बंद लिफाफे में पेश हाईकोर्ट ने बरगाड़ी मामले पर सरकार को लगाई फटकार