Breaking News
अस्थायी तौर पर जेट की सभी उड़ानें रद्द की गइ  |  मतदान में बुजुर्ग भी नहीं रहे पीछे कोई एम्बुलेंस से तो कोई व्हील चेयर पर वोट डालने पहुंचे  |  अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस के प्रस्ताव को किया खारिज मसूद अजहर को लेकर चीन के रुख में कोई बदलाव नहीं  |  गुड फ्रायडे : त्याग और बलिदान का दिन  |  दिनों दिन बढ़ती जा रही है वोटिंग ताऊ की लोकप्रियत  |  राइडिंग को बनाए रोमांचक! होंडा ने भारत में शुरू किया अपना एक्सक्लुसिव प्रीमियम रीटेल होंडा बिग विंग  |  प्रशासन, विभागों और आमजन के बीच में तालमेल आवश्यक : एक्सपेंडिचर ऑब्जर्वर  |  राव अभय सिंह के भाजपा कार्यालय का राव इंद्रजीत सिंह ने किया उद्घाटन ‘विकास के हर कार्य का हिसाब दंूगा’  |  
 
 
समाचार ब्यूरो
21/10/2018  :  11:19 HH:MM
प्रजा को संतुष्ट रखने के लिए उन्होंने मां सीता को अग्नि परीक्षा देने के लिए कहा श्री राम के लिए परिवार से बड़ा राजधर्म : अलका गौरी
Total View  539

गुरुग्राम भगवान श्री राम समय-समय पर मर्यादा का श्रेष्ठतम पालन करते हैं। वन गमन का विषय हो, बाली का मरण हो, अहिल्या का उद्धार हो, मां सीता की अग्नि परीक्षा अथवा उनका वियोग। मां सीता की अग्नि परीक्षा पर बहुत लोग प्रश्न खड़ा करते हैं।

परंतु उस समय उनके लिए राष्ट्र धर्म सर्वोपरि था। राजधर्म निभाने के लिए, प्रजा को संतुष्ट रखने के लिए उन्होंने मां सीता को अग्नि परीक्षा देने के लिए कहा। और मां सीता यह समझती थी, इसलिए उन्होंने सहर्ष यह परीक्षा स्वीकार की। उपरोक्त विचार गुरुग्राम सांस्कृतिक गौरव समिति द्वारा आयोजित दो दिवसीय व्याख्यानमाला के अंतिम दिवस पर ‘मर्यादा के श्रेष्ठतम उदाहरण भगवान श्रीराम’ विषय पर बोलते हुए विवेकानंद केंद्र की जीवन व्रती कार्यकर्ता, हरियाणा व पंजाब की प्रमुख सुश्री अलका गोरी ने प्रकट किए। इस अवसर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रांत संघ चालक ‘माननीय पवन जिंदल जी’ उपस्थित थे।उन्होंने कहा आज के इस वातावरण में व्याख्यानमाला का आयोजन निश्चित ही सराहनीय है। जिसने भी एक दिन का व्याख्यान नहीं सुना, यह उसके लिए हानी की बात है। इस तरह के आयोजन देश को आगे बढ़ाने में सहायक होते हैं। जीव जंतु कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष ‘श्री एस पी गुप्ता’ ने कहा कि गुरुग्राम जैसे भौतिकवादी शहर में इस तरह के कार्यक्रमों के माध्यम से संस्कृति को अक्षुण्ण रखने के लिए गुरुग्राम सांस्कृतिक गौरव समिति बधाई की पात्र है। 

गुरुग्राम सांस्कृतिक गौरव समिति के अध्यक्ष श्री अजय सिंहल ने प्रस्तावना रखते हुए कहा की ‘निर्माणो के पावन युग में हम चरित्र निर्माण न भूलें, स्वार्थ साधना की आंधी में वसुधा का कल्याण न भूले’। गुरुग्राम शहर की भौतिकता को अगर स्थाई रखना है तो उसका सांस्कृतिक विकास अवश्य होना चाहिए। यह शहर महाभारत कालीन शहर है। इसके प्रत्येक चौक चौराहे का नाम महाभारत कालीन पात्रों के नाम पर होने चाहिए। कार्यक्रम का संचालन संस्कार भारती के कार्यकर्ता मोहित त्यागी ने किया। जबकि अभिनंदन भाषण श्री मोहनीश लारोइया द्वारा किया गया। धन्यवाद श्रीमती सीमा शर्मा द्वारा किया गया। इस अवसर पर नौ दिवसीय व्याख्यानमाला में लगने वाले सभी कार्यकर्ताओं का अभिनंदन किया गया। राम रतन व शत्रुघ्न विश्वकर्मा ने अपने भजनों से कार्यक्रम को आनंदमय बनाया। आयोजन में लगे लगे सभी कार्यकर्ताओं ने कार्यक्रम के संयोजक श्री अजय सिंहल का चंदन और इत्र देकर अभिनंदन किया। इस अवसर पर महिला मोर्चा भारतीय जनता पार्टी की अध्यक्ष सुंदरी खत्री ,मीडिया प्रभारी प्रवीण वशिष्ठ, मंडल अध्यक्ष दिनेश राघव, जिला उपाध्यक्ष मीनू राघव, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के महानगर संघचालक जगदीश ग्रोवर, सह विभाग कार्यवाह हरीश, पल्लवी मीलवानी, वीणा अग्रवाल, सुधांशु सुथार, यशवंत शेखावत, प्रमोद मंगला, संजय सिंह, संत कुमार, पीसी गुप्ता, विवेकानंद तिवारी, आदि विशेष रूप से उपस्थित रहे। कार्यक्रम का समापन कल्याण मंत्र के साथ किया गया।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   8436850
 
     
Related Links :-
मतदान में बुजुर्ग भी नहीं रहे पीछे कोई एम्बुलेंस से तो कोई व्हील चेयर पर वोट डालने पहुंचे
प्रशासन, विभागों और आमजन के बीच में तालमेल आवश्यक : एक्सपेंडिचर ऑब्जर्वर
हरियाणा में भाजपा ने इन 10 चेहरों पर खेला दांव
आतंकवाद को घाटी के ढाई जिलों तक सीमित करने में सफल रही सरकार: मोदी
गुजरात को मुआवजा देने पर कमलनाथ ने पीएम को घेरा
पश्चिमी दिल्ली की जनता के बीच बहुत लोकप्रिय है पत्रकार सुनील सौरभ
बाला प्रीतम हरक्रिशन जी का जोति ज्योति समाने का गुरूपर्व बड़ी श्रद्धापूर्वक मनाया गया
भगवान महावीर जयंती पर विभिन्न धार्मिक और सामाजिक कार्यक्रम
विपक्ष विहीन लोकसभा क्षेत्र है गुरुग्राम राव इंद्रजीत के मुकाबले में कोई नहीं : उमेश अग्रवाल
महावीर जयंती पर निकाली प्रभात फेरी