Breaking News
अस्थायी तौर पर जेट की सभी उड़ानें रद्द की गइ  |  मतदान में बुजुर्ग भी नहीं रहे पीछे कोई एम्बुलेंस से तो कोई व्हील चेयर पर वोट डालने पहुंचे  |  अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस के प्रस्ताव को किया खारिज मसूद अजहर को लेकर चीन के रुख में कोई बदलाव नहीं  |  गुड फ्रायडे : त्याग और बलिदान का दिन  |  दिनों दिन बढ़ती जा रही है वोटिंग ताऊ की लोकप्रियत  |  राइडिंग को बनाए रोमांचक! होंडा ने भारत में शुरू किया अपना एक्सक्लुसिव प्रीमियम रीटेल होंडा बिग विंग  |  प्रशासन, विभागों और आमजन के बीच में तालमेल आवश्यक : एक्सपेंडिचर ऑब्जर्वर  |  राव अभय सिंह के भाजपा कार्यालय का राव इंद्रजीत सिंह ने किया उद्घाटन ‘विकास के हर कार्य का हिसाब दंूगा’  |  
 
 
समाचार ब्यूरो
21/10/2018  :  11:19 HH:MM
बदइंतजामी और लापरवाही का दर्दनाक परिणाम है अमृतसर की घटना : गोयल
Total View  536

गुरुग्राम दशहरा पर्व पर पंजाब के अमृतसर में रावण दहन के दौरान मची भगदड़ के बाद ट्रेन की चपेट में आने से 65 से अधिक लोगों की मौत पर नव जन चेतना मंच के संयोजक वशिष्ठ कुमार गोयल ने बेहद दुख व्यक्त करते हुए मरने वालों के प्रति शोक प्रकट किया है। हृदय विदारक इस हादसे पर गहरा दु:ख प्रकट करते हुए उन्होंने ईश्वर से दिवंगत आत्माओं की शांति एवं दुर्घटना में घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना भी की है। उन्होंने इस बड़ी दुर्घटना को रेलवे और जिला प्रशासन की बदइंतजामी और लापरवाही का दर्दनाक परिणाम बताया।

वशिष्ठ गोयल ने इस हादसे के लिए जिम्मेवार लोगों के खिलाफ तुरंत कार्रवाई करने की मांग करते हुए कहा कि रेलवे ट्रैक के पास बड़े पैमाने पर दशहरा कार्यक्रम का आयोजन किया गया पर इसकी अनुमति नहीं ली गई थी। अब सवाल उठता है कि बिना अनुमति के हो रहे इस कार्यक्रम को प्रशासन ने रोकने का प्रयास क्यों नहीं किया? उन्होंने दर्शकों की सुरक्षा का प्रवाह किए बगैर कार्यक्रम आयोजित करने और प्रशासन से इसकी अनुमति नहीं लेने पर कार्यक्रम के आयोजकों पर भी सवाल उठाए और इस घटना के लिए उन्हें भी जिम्मेवार ठहराया। ट्रेन की स्पीड ज्यादा होन पर भी गोयल ने सवाल उठाए। उन्होंने पूरे मामले की जांच करवाकर दोषियों को तुरंत सजा दिलाने की मांग की है। गौरतलब है कि पंजाब के अमृतसर में दशहरा के मौके पर बीती रात ट्रेन हादसा में 65 से अधिक लोगों की मौत हो गई जबकि सौ से अधिक लोग घायल हैं। हादसा जोड़ा रेल फाटक के पास उस वक्त हुआ जब पठानकोट से अमृतसर जा रही डीएमयू ट्रेन गुजर रही थी। करीब दस सेकेंड में ही सैकड़ों लोग ट्रेन की चपेट में आ गए। मृतकों में ज्यादातर लोग उत्तर प्रदेश और बिहार के है। उस
समय मौके पर कम से कम 300 लोग मौजूद थे जो पटरियों के निकट एक मैदान में रावण दहन देख रहे थे। उस समय रावण दहन कार्यक्रम में पंजाब के डिह्रश्वटी सीएम नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी भी मौजूद थीं।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   7132927
 
     
Related Links :-
मतदान में बुजुर्ग भी नहीं रहे पीछे कोई एम्बुलेंस से तो कोई व्हील चेयर पर वोट डालने पहुंचे
प्रशासन, विभागों और आमजन के बीच में तालमेल आवश्यक : एक्सपेंडिचर ऑब्जर्वर
हरियाणा में भाजपा ने इन 10 चेहरों पर खेला दांव
आतंकवाद को घाटी के ढाई जिलों तक सीमित करने में सफल रही सरकार: मोदी
गुजरात को मुआवजा देने पर कमलनाथ ने पीएम को घेरा
पश्चिमी दिल्ली की जनता के बीच बहुत लोकप्रिय है पत्रकार सुनील सौरभ
बाला प्रीतम हरक्रिशन जी का जोति ज्योति समाने का गुरूपर्व बड़ी श्रद्धापूर्वक मनाया गया
भगवान महावीर जयंती पर विभिन्न धार्मिक और सामाजिक कार्यक्रम
विपक्ष विहीन लोकसभा क्षेत्र है गुरुग्राम राव इंद्रजीत के मुकाबले में कोई नहीं : उमेश अग्रवाल
महावीर जयंती पर निकाली प्रभात फेरी