समाचार ब्यूरो
11/11/2018  :  11:22 HH:MM
शेडो इकनॉमी में आई है कमी : सूरी
Total View  50

नई दिल्ली इंटीग्रेटेड चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री की नेशनल सेक्रेटरी कुलनीत सूरी ने कहा कि सरकार की नोटबंदी अपने मूल उद्देश्य में सफल रही और इससे देश की बेहिसाबी अर्थव्यवस्था (शेडो इकनॉमी) में भारी कमी आई।

इसका मूल उद्देश्य था देश में शेडो अर्थव्यवस्था को घटाना और इसमें नोटबंदी एक सफल उपाय साबित हुआ। उन्होंने कहा कि भीम एप, यूपीआई ये आंकड़े इसके गवाह हैं कि हम कितनी तेजी से औपचारिक अर्थव्यवस्था की ओर बढ़े हैं। कुलनीत सूरी ने कहा कि जब नोटबंदी 
हुई उस समय इस देश में शेडो इकनामी 23.7 प्रतिशत थी। किसी भी विकसित देश में ऐसा आंकड़ा नहीं था। यह इकनामी, आर्थिक गतिविधि तो है लेकिन जीडीपी में इसकी गणना नहीं होती। शेडो इकनामी देश में अपराध बढ़ा रही थी, काले धन को बढ़ा रही थी और कर संग्रहण को भी प्रभावित कर रही थी। निश्चिततौर पर डिजिटल लेनदेन भी बड़ा मुद्दा था। सरकार ने दो बड़े प्रयास नोटबंदी व जीएसटी किए जिससे आज शैडो अर्थव्यव- स्था पर चोट पड़ी। खासतौर पर डिजिटल ट्रांजेक्शन बढऩे से शेडो इकनामी को चोट पहुंची। सरकार इसे
15 या 14, 13 प्रतिशत तक ले जाते हैं तो यह भारत के लिए बड़ी उपलब्धि है। कुलनीत सूरी ने कहा कि व्यापार सुगमता सूचकांक में भारत के 143वें पायदान से 77वें पायदान पर आने तथा कर संग्रहण के एक लाख करोड़ रुपये का आंकड़ां छूने जैसी उपलब्धियों का भी जिक्र किया।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   2547164
 
     
Related Links :-
सेनी इंडिया ने नई रेंज के साथ बाउमा कॉनएक्सपो इंडिया में आने वाले विजिटर्स को किया आकर्षित
हमारा प्रदेश उद्योग के क्षेत्र में निवेशकों की पहली पसंद बना हुआ है त्न: शर्मा
घाटा कम करने से ही मजबूत होगी बैंकिंग प्रणाली : कर्नम शेखर
आरआरटीएस कॉरीडोर के एक हिस्से की डीपीआर को मंजूरी मिली
ऑनलाइन पंजीकरण करवाने के लिए दुकानदारों को जागरूक करने का अभियान
घाटा कम करने से ही मजबूत होगी बैंकिंग प्रणाली : कर्नम शेखर
सनकिस्ट लाई सेहतमंद जूस -डीटॉक्स और रीफ्यूल
पालिका क्षेत्र में खुले सैकड़ों मैरिज पैलेस-बैंक्वेट हाल होंगे नियमित
वीवो ने बनाई पंजाब में आक्रामक विस्तार रणनीति
टाटा सन्ज़ के चेयरमैन ने मुख्यमंत्री के साथ की मीटिंग पंजाब में ताज होटल के बड़े स्तर पर विस्तार की चर्चा