समाचार ब्यूरो
11/11/2018  :  11:22 HH:MM
शेडो इकनॉमी में आई है कमी : सूरी
Total View  569

नई दिल्ली इंटीग्रेटेड चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री की नेशनल सेक्रेटरी कुलनीत सूरी ने कहा कि सरकार की नोटबंदी अपने मूल उद्देश्य में सफल रही और इससे देश की बेहिसाबी अर्थव्यवस्था (शेडो इकनॉमी) में भारी कमी आई।

इसका मूल उद्देश्य था देश में शेडो अर्थव्यवस्था को घटाना और इसमें नोटबंदी एक सफल उपाय साबित हुआ। उन्होंने कहा कि भीम एप, यूपीआई ये आंकड़े इसके गवाह हैं कि हम कितनी तेजी से औपचारिक अर्थव्यवस्था की ओर बढ़े हैं। कुलनीत सूरी ने कहा कि जब नोटबंदी 
हुई उस समय इस देश में शेडो इकनामी 23.7 प्रतिशत थी। किसी भी विकसित देश में ऐसा आंकड़ा नहीं था। यह इकनामी, आर्थिक गतिविधि तो है लेकिन जीडीपी में इसकी गणना नहीं होती। शेडो इकनामी देश में अपराध बढ़ा रही थी, काले धन को बढ़ा रही थी और कर संग्रहण को भी प्रभावित कर रही थी। निश्चिततौर पर डिजिटल लेनदेन भी बड़ा मुद्दा था। सरकार ने दो बड़े प्रयास नोटबंदी व जीएसटी किए जिससे आज शैडो अर्थव्यव- स्था पर चोट पड़ी। खासतौर पर डिजिटल ट्रांजेक्शन बढऩे से शेडो इकनामी को चोट पहुंची। सरकार इसे
15 या 14, 13 प्रतिशत तक ले जाते हैं तो यह भारत के लिए बड़ी उपलब्धि है। कुलनीत सूरी ने कहा कि व्यापार सुगमता सूचकांक में भारत के 143वें पायदान से 77वें पायदान पर आने तथा कर संग्रहण के एक लाख करोड़ रुपये का आंकड़ां छूने जैसी उपलब्धियों का भी जिक्र किया।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   6855611
 
     
Related Links :-
अमेरिकी-चीन व्यापार युद्ध से भारतीय टेक्सटाइल को फायदा
इंडियन आयल की ऊर्जा क्षेत्रों में दो लाख करोड़ निवेश की योजना
उपायुक्त अमित खत्री ने दी जानकारी किसानों की सरसों और गेंहू की खरीददारी का काम पूरा
भारतीय उद्यमियों को मिल रहा है वॉलमार्ट के ग्‍लोबल मार्केटह्रश्व‍लेस तक सुगमतापूर्वक पहुंच
यूटीआई म्यूचुअल फं ड ने रोहतक में खोला एक नया वित्तीय केंद्र
लवेबल ने किया अपना नया एसएस’ 19 कलेक्शन लॉन्च
केन्द्र ने एमएसपी कटौती वापस नहीं ली तो पंजाब सरकार करेगी भरपाई : अमरिंदर
साल 2021 तक 100 स्टोर्स खोलेगा ‘ग्रेविटी’, गुरुग्राम तक होगा विस्तार
इस अक्षय तृतीया पर फॉरेवरमार्क डायमंड्स के साथ संपन्नता का जश्न मनाएं
रैली निकाल मारुति सुजुकी मजदूर संघ ने मनाया मजदूर दिवस