23/12/2018  :  11:28 HH:MM
स्किन सफर रथ को झंडा दिखाकर रवाना किया, रोगों के बारे में जागरूकता
Total View  730

नई दिल्ली इंडियन एसोसिएशन ऑफ डर्मेटोलॉजी वेरनोलॉजी एंड लेप्रोसी ने स्किन संबंधित बीमारी जैसे सफेद दाग, कुष्ठ रोग, इत्यादि जागरूकता के लिए स्किन सफर रथ को प्रेस क्लब ऑफ इंडिया नई दिल्ली से झंडा दिखाकर रवाना किया।
स्किन सफर रथ लगभग दिल्ली,गुरुग्राम सूरत,मुंबई,चेन्नई, इत्यादि लगभग 11 हजार किमी 15 राज्य और 60 दिनों से ज्यादा की यात्रा करते हुऐ दिल्ली वापस पहुंचेंगी। इस अवसर पर प्रोफेसर डर्मेटोलॉजी मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज दिल्ली की डॉक्टर रश्मि सरकार अध्यक्षा दिल्ली स्टेट ब्रांच ने कहा हमारे समाज में बीमारी को लेकर लोग गंभीर नही है और बीमारी का लक्षण दिखने के बाद भी जब तक बीमारी बढ़ नही जाती तब तक इलाज के लिये डॉक्टर के पास नही जाते जबकि अगर बीमारी के शुरू में ही डॉक्टर के पास जाएं तो बीमारी जल्दी ठीक हो सकती है इसी जागरूकता के लिये इस स्किन सफर रथ को हम भेज रहे हैं। डॉ कृष्णा देबबर्मन महासचिव दिल्ली स्टेट ब्रांच ने कहा लोगों में गलत धारणा है कि सफेद दाग, कुष्ठ रोग जैसे स्किन बीमारी का इलाज नही है या फिर बहुत महंगा है परंतु ऐसा नही है अगर इसका इलाज कराया जाए तो यह बीमारी ठीक हो सकती है और महंगा भी नही है जबकि बहुत से सरकारी अस्पताल में इसका इलाज एकदम फ्री है ओर अगर किसी भी बीमारी का जरा सा भी लक्षण नजर आए तो डॉक्टर को अवश्य दिखाएं कियोंकि शुरू में किसी भी बीमारी का इलाज आसान और संभव है इसी जागरूकता के लिए हम स्किन सफर रथ को भेज रहे हैं। डॉ वरुण खुल्लर कोऑर्डिनेटर दिल्ली। स्टेट ब्रांच ने बताया फेयरनेस क्रीम और स्टीरिड क्रीम इत्यादि का प्रयोग सीधा दबाइयों की दुकान से लेकर ना करें कियोंकि इससे स्किन पर बुरा असर पड़ सकता है इसलिये स्किन सफर रथ के माध्यम से इन छोटी छोटी बातों की जागरूकता करेंगे।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   535564
 
     
Related Links :-
रोटरी हेल्थ कार्निवाल में रोटेरियंस ने हेल्थ के प्रति किया जागरुक
डॉक्टर्स दिवाली की शुभकामनाएं देने मरीजों के घर पहुंच
डॉ.बेदी ने मिनिमली इनवेसिव सर्जरी में नए डेवलपमेंट्स पर गेस्ट लेक्चर दिया
डायबटीज से पीडि़तों के लिए आर्ट एग्जीबिशन
ऑर्थो कैम्प में 60 सीनियर सिटिजन की जांच की गई
रक्त की कमी से होने वाले थैलेसीमिया रोग का जागरुकता शिविर आयोजित
50 सीनियर सिटीजंस ने ‘मीट योअर डॉक्टर्स’ प्रोग्राम में हिस्सा लिया
भारत में कैंसर दूसरा सबसे बड़ा हत्यारा
वल्र्ड मेंटल हेल्थ डे: युवाओं ने खास अंदाज में दिया जागरूकता संदेश
स्तन कैंसर से बचने के लिए जागरूक और सावधान रहना जरूरी