30/12/2018  :  12:20 HH:MM
द योगा इंस्टीट्यूट, मुंबई’ के 100 साल पूरे होने के जश्न का उद्घाटन योग में राष्ट्रों को एकजुट करने की क्षमता : राष्ट्रपति
Total View  761

रेवाड़ी राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने आज भारत के सबसे विशाल वैलनेस फेस्टिवल में विश्व के सबसे पुराने योग केंद्र द योगा इंस्टीट्यूट, मुंबई के शताब्दी समारोह का शानदार उद्घाटन किया। बडी संख्या में मुंबई के गणमान्य लोगों ने इस समारोह में भाग लिया। इस अवसर पर राष्ट्रपति कोविंद ने कहा, ‘‘योग दुनिया की ऐसी सौम्य शक्ति है, जो लोगों, समुदायों और राष्ट्रों को एक साथ ला सकती है।

योग सबसे मूल्यवान उपहार है जो भारत ने मानवता और दुनिया को दिया है। द योग इंस्टीट्यूट के 100 वें वर्ष के जश्न के अवसर पर, मैं इस ऐतिहासिक संस्थान और इससे जुड़े सभी लोगों को शुभकामनाएं देता हूं, जो लोगों के लाभ के लिए योग की अच्छाई को चारों तरफ फैलाने का बेहतरीन प्रयास कर रहे हैं। ‘शताब्दी समारोह के उद्घाटन के अवसर पर आयोजित इस कार्यक्रम में भारत के माननीय राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल हुए। उनकी पत्नी भी इस कार्यक्रम में शामिल हुईं। समारोह की शोभा बढ़ाने वाले अन्य प्रतिष्ठित अतिथियों में सी. विद्यासागर राव महाराष्ट्र के माननीय राज्यपाल, देवेंद्र फडणवीस -महाराष्ट्र के माननीय मुख्यमंत्री और केंद्रीय आयुष राज्य मंत्री श्रीपद वाई. नायक के नाम प्रमुख हैं। समारोह की अध्यक्षता द योगा इंस्टीट्यूट, मुंबई की निदेशक डॉ. श्रीमती हंसाजी जयदेव योगेंद्र ने की।

हस्तियों में मुंबई के माननीय मेयर विश्वनाथ महादेश्वर, मोक्षायतन इंटरनेशनल योगाश्रम के संस्थापक पद्मश्री स्वामी भारत भूषण, सीबीआई के पूर्व निदेशक पद्मश्री डॉ डी आर कार्तिकेयन, परमार्थ निकेतन के अध्यक्ष स्वामी चिदानंद सरस्वती और इस्कॉन के श्री गौर गोपाल दास के नाम प्रमुख हैं। समारोह का संचालन स्टार एक्टर और प्रजेंटर कबीर बेदी ने किया। माननीय राज्यपाल सी एच विद्यासागर राव ने इस अवसर पर हंसाजी जयदेव योगेंद्र लिखित पुस्तक ‘योगा फॉर ऑल’ का विमोचन भी किया। तीन वर्षों के श्रम के बाद तैयार यह पुस्तक योगा इंस्टीट्यूट के सौ वर्षीय शोध पर आधारित है। इस समारोह में महाराष्ट्र के माननीय मुख्यमंत्री देवेंद्र फडऩवीस ने कहा, ‘सद्भाव योग की एक बड़ी ताकत है, जो शरीर, मन और आत्मा को शुद्ध करता है और एक व्यक्ति को प्रकृति के करीब लाता है। मैं योग संस्थान को 100 साल पूरे करने और इसे सद्भाव उत्सव के साथ मनाने के लिए बधाई देता हूं।’ उन्होंने कहा कि उनकी सरकार हमेशा योग संस्थान की प्रशंसनीय पहल का समर्थन करेगी। योगा इंस्टीट्यूट, मुंबई की निदेशक डॉ. हंसाजी जयदेव योगेंद्र ने कहा, ‘पिछले 100
वर्षों में योगा इंस्टीट्यूट ने जिन लाखों लोगों की जिंदगी को छुआ है, मैं उन सभी की तरफ से भारत के माननीय राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद और उनकी धर्मपत्नी तथा अन्य गणमान्य व्यक्तियों का आभार व्यक्त करती हूं, जिन्होंने अपनी उपस्थिति से इस समारोह को गरिमा प्रदान की है। ‘उन्होंने आगे कहा, ‘लाखों लोगों की जिंदगी को बदलने का योगा इंस्टीट्यूट का सौ साल का यह सफर हमारे संस्थापक, महान योग गुरु श्री योगेंद्र जी और योगियों की तीन पीढियों के कारण संभव हुआ है और साथ ही हम उन हजारों लोगों का भी
शुक्रिया अदा करना चाहते हैं, जिन्होंने पिछली एक सदी के दौरान परिवार के सदस्यों की तरह योगा इंस्टीट्यूट का साथ निभाया। आज 101 वें साल में कदम रखते हुए हम योग संस्थान के माध्यम से गृहस्थ की सेवा जारी रखने के लिए कृतसंकल्प हैं। योग जैसा कि हम हमेशा से रहे हैं, उसी पर कायम रहते हुए हम योग गुरु योगेंद्र जी के विजन को अगले सौ वर्षों और उससे आगे तक ले जाना चाहते हैं।

हार्मनी फेस्ट: द योगा इंस्टीट्यूट द हार्मोनी फेस्ट के साथ 100 साल पूरे होने का जश्न मना रहा है, - यह भारत का सबसे विशाल वैलनैस फेस्टिवल है, जो आज दोपहर 12 बजे खुला और कल शनिवार, 29 दिसंबर को मुंबई के बांद्राकुर्ला कॉम्ह्रश्वलेक्स में एमएमआरडीए ग्राउंड में जारी रहेगा। । हार्मनी फेस्ट - 28-29 दिसंबर 2018, एमएमआरडीए ग्राउंड्स, बीकेसी, मुंबई। 12 बजे से 9 बजे तकनिशुल्क और सभी के लिए खुला हार्मनी फेस्ट संगीत, मनोरंजन, अच्छा फूड फेस्टिवल साबित होगा, वहीं वहीं टिकाऊ सामान और कलात्मक वस्तुओं के एक बाजार का भी लाभ देगा, साथ ही यहां योग के लिए समर्पित 20 घंटों में पैनल चर्चा, कार्यशालाएं, परामर्श और मार्गदर्शन वार्ताएं, नौसिखियों से लेकर दक्ष लोगों के सीखने के लिए कार्यक्रम सहित बहुत कुछ रखा गया है; जो वास्तव में विचार, मस्तिष्क, शरीर और
आत्मा के लिए स्वास्थ्य और कल्याण की भावना से ओतप्रोत है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   6692813
 
     
Related Links :-
रोटरी हेल्थ कार्निवाल में रोटेरियंस ने हेल्थ के प्रति किया जागरुक
डॉक्टर्स दिवाली की शुभकामनाएं देने मरीजों के घर पहुंच
डॉ.बेदी ने मिनिमली इनवेसिव सर्जरी में नए डेवलपमेंट्स पर गेस्ट लेक्चर दिया
डायबटीज से पीडि़तों के लिए आर्ट एग्जीबिशन
ऑर्थो कैम्प में 60 सीनियर सिटिजन की जांच की गई
रक्त की कमी से होने वाले थैलेसीमिया रोग का जागरुकता शिविर आयोजित
50 सीनियर सिटीजंस ने ‘मीट योअर डॉक्टर्स’ प्रोग्राम में हिस्सा लिया
भारत में कैंसर दूसरा सबसे बड़ा हत्यारा
वल्र्ड मेंटल हेल्थ डे: युवाओं ने खास अंदाज में दिया जागरूकता संदेश
स्तन कैंसर से बचने के लिए जागरूक और सावधान रहना जरूरी