02/01/2019  :  10:10 HH:MM
प्राइवेट अस्पतालों में भी मिल रहा है 5 लाख का मुफ्त इलाज
Total View  734

करनाल आयुष्मान भारत जन अरोग्य योजना भारत सरकार की एक महत्वाकांक्षी योजना है, जिसके तहत गरीब वर्ग के लोगों को 5 लाख रूपए तक का मुफ्त में ईलाज मिलता है। यह योजना परिवारों को अपना ईलाज कैशलेस व पेपरलेस तरीके से करवाने में बहुत ही लाभदायक सिद्घ हो रही है।

करनाल जिला के सभी सरकारी व प्राईवेट अस्पताल, जो आयुष्मान भारत योजना के तहत रजिस्टर्ड हैं, उन सभी में गरीब और वंचित वर्ग के लोगो को मुफ्त में ईलाज मिल रहा है। जिला में अब तक कुल 18132 गोल्डन कार्ड बनाए जा चुके हैं। इनमे से 315 लाभर्थियों की क्लेम सम्बंधित अस्पतालों को दी जा चुकी है। यह जानकारी उपायुक्त डॉ. आदित्य दहिया ने दी। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री जन अरोग्य योजना, (आयुष्मान भारत) को लेकर जिला के 24 सरकारी व प्राइवेट अस्पताल सूचीबद्ध हो गए हैं। इस स्कीम के तहत लाभार्थियों की
भिन्न-भिन्न श्रेणियों बनाई गई हैं, जिनमें 1 हजार से भी अधिक पैकेज मौजूद हैं, जो कैंसर के ईलाज, रेडिएशन थेरेपी, कीमो थेरेपी, हृदय से जुड़ी दिक्कतें, स्टेंट डालने, दिमागी ऑपरेशन, दांतो व आंखो का ऑपरेशन, एम.आर.आई. व सी.टी. स्कैन जैसे विशेष टेस्ट कवर होते हैं, यानि इस योजना में कुल 1350 ट्रीटमेंट पैकेज हैं जिनमे से 276 पैकेज सरकारी अस्पतालों के लिए अरक्षित रखे गये है तथा बाकि के पैकेज रजिस्टर्ड प्राइवेट अस्पतालों के लिए हैं। इस योजना के तहत लाभार्थी परिवार के सदस्य का 5 लाख रूपये तक का ईलाज सूचीबद्ध
अस्पतालो में फ्री किया जाएगा। सदस्यो की संख्या और आयु सीमा की कोई बाध्यता नही है। उन्होने बताया कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना के लाभार्थी भी इस स्कीम में फायदा ले सकेंगे। इस योजना के तहत परिवार के सदस्य अपना राशन कार्ड तथा आधार कार्ड सरकारी
या प्राइवेट अस्पताल में जाकर काउंटर पर बैठे आयुष्मान मित्र को मिलकर अपना नाम लाभार्थी सूची में चेक करवा सकते हैं तथा लाभार्थी सूची में नाम पाए जाने पर अपना व परिवार के सभी सदस्यों का गोल्डन कार्ड बनवा सकते हैं।

सरकारी अस्पातालो में कल्पना चावला राजकीय मैडिकल कॉलेज, सिविल अस्पताल करनाल तथा नीलोखेड़ी व असंध के उपमण्डल स्तरीय अस्पताल शामिल हैं। जबकि प्राईवेट अस्पतालो में शहर के रामा सुपर स्पेसिलिटी एंड क्रिटिकल केयर अस्पताल, संजीव बंसल सिग्नस अस्पताल, बाला जी अस्पताल, मिनानी अस्पताल, विर्क अस्पताल प्राईवेट लिमिटेड, डॉ. के.सी. सचदेवा अस्पताल, मिगलानी नर्सिंग होम, सुशील गर्ग अस्पताल, सरस्वती नेत्रालय, पार्क अस्पताल, भटनागर आई केयर सेंटर, हरियाणा अस्पताल, अरविंद अस्पताल, ठाकुर आई एंड मैटरनिटी हॉस्पिटल, श्री मूलचंद किडनी हॉस्पिटल एंड यूरोलॉजिकल इंस्टीट्यूट, सूर्या हॉस्पिटल तथा श्रीहरि हॉस्पिटल, अर्पणा हॉस्पिटल, सेठ हॉस्पिटल, हरियाणा नर्सिंग होम, श्री रामचन्द हॉस्पिटल तथा पारस नर्सिंग होम शामिल हैं।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   396973
 
     
Related Links :-
रोटरी हेल्थ कार्निवाल में रोटेरियंस ने हेल्थ के प्रति किया जागरुक
डॉक्टर्स दिवाली की शुभकामनाएं देने मरीजों के घर पहुंच
डॉ.बेदी ने मिनिमली इनवेसिव सर्जरी में नए डेवलपमेंट्स पर गेस्ट लेक्चर दिया
डायबटीज से पीडि़तों के लिए आर्ट एग्जीबिशन
ऑर्थो कैम्प में 60 सीनियर सिटिजन की जांच की गई
रक्त की कमी से होने वाले थैलेसीमिया रोग का जागरुकता शिविर आयोजित
50 सीनियर सिटीजंस ने ‘मीट योअर डॉक्टर्स’ प्रोग्राम में हिस्सा लिया
भारत में कैंसर दूसरा सबसे बड़ा हत्यारा
वल्र्ड मेंटल हेल्थ डे: युवाओं ने खास अंदाज में दिया जागरूकता संदेश
स्तन कैंसर से बचने के लिए जागरूक और सावधान रहना जरूरी