09/01/2019  :  10:48 HH:MM
4 जनवरी से चालू है स्वच्छ सर्वेक्षण-2019 अन्य शहर की तरह गुरूग्राम शहर भी स्वच्छ सर्वेक्षण में ले रहा है हिस्सा
Total View  760

गुरुग्राम स्वच्छ सर्वेक्षण-2019 गत 4 जनवरी से शुरू हो चुका है जिसमें देश के अन्य शहरों के साथ गुरूग्राम शहर भी भाग ले रहा है। इस सर्वेक्षण में शहर को मिलने वाले अंको में शहरवासियों की भी अहम भूमिका है।

शहरवासियों की भूमिका के बारे में लोगो को जागरूक करने के उद्देश्य से आज नगर निगम के अधिकारियों ने लघु सचिवालय के सभागार में सभी जिलाधिकारियों की बैठक ली। बैठक की अध्यक्षता नगर निगम के अतिरिक्त मुनीसीपल कमीशनर वाई एस गुप्ता ने की और बताया कि प्रत्येक शहरवासी अपने गुरूग्राम शहर को देश में स्वच्छता के मामले में अव्वल लाने के लिए अपने स्मार्ट फोन पर स्वच्छता एैप डाउनलोड करे यह एैप गुगल ह्रश्वले स्टोर में उपलब्ध है। इस एैप पर कूड़े- कचरे से संबंधित समस्या डाली जा सकती है।
एैप में नागरिकों की फीडबैक का भी एक कॉलम उन्होंने बताया कि इस एैप में नागरिकों की फीडबैक का भी एक कॉलम है, जिसमें सामान्य से 7 सवाल पूछे गए हैं। प्रत्येक गुरूग्रामवासी उस फीडबैक कॉलम में क्लिक करके अपनी फीडबैक भी दे। उन्होंने कहा कि फीडबैक का ऑह्रश्वशन प्रयोग करने के लिए भी सर्वेक्षण में 1250 ह्रश्ववायंट रखे गए हैं। इसी प्रकार, स्वच्छता एैप के कम से कम 35 हजार डाउनलोड होने चाहिए , जोकि गुरूग्राम में अभी तक 10 हजार से थोड़ा अधिक हैं। उन्होंने कहा कि गुरूग्राम साईबर सिटी है और यहां की आबादी ज्यादातर कंह्रश्वयूटर तथा आईटी का प्रयोग करती है, इसलिए सभी को चाहिए कि अपने शहर की स्वच्छता रैंकिंग अच्छी लाने के लिए स्वच्छता एैप डाउनलोड करें और फीडबैक ऑह्रश्वशन का भी प्रयोग करें। गुरूग्राम की स्वच्छता रैंकिंग अच्छी होगी तो इस
शहर की देशभर में लोकप्रियता बढेगी, जिससे लोगों की इस शहर में रूचि भी बढेगी और यहां ज्यादा लोग आना पंसद करेंगे।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   5930044
 
     
Related Links :-
रोटरी हेल्थ कार्निवाल में रोटेरियंस ने हेल्थ के प्रति किया जागरुक
डॉक्टर्स दिवाली की शुभकामनाएं देने मरीजों के घर पहुंच
डॉ.बेदी ने मिनिमली इनवेसिव सर्जरी में नए डेवलपमेंट्स पर गेस्ट लेक्चर दिया
डायबटीज से पीडि़तों के लिए आर्ट एग्जीबिशन
ऑर्थो कैम्प में 60 सीनियर सिटिजन की जांच की गई
रक्त की कमी से होने वाले थैलेसीमिया रोग का जागरुकता शिविर आयोजित
50 सीनियर सिटीजंस ने ‘मीट योअर डॉक्टर्स’ प्रोग्राम में हिस्सा लिया
भारत में कैंसर दूसरा सबसे बड़ा हत्यारा
वल्र्ड मेंटल हेल्थ डे: युवाओं ने खास अंदाज में दिया जागरूकता संदेश
स्तन कैंसर से बचने के लिए जागरूक और सावधान रहना जरूरी