19/01/2019  :  10:16 HH:MM
गंदगी में तब्दील हो चुके तालाब को पाईट कॉलेज बनाएगा सुंदर झील
Total View  735

समालखात्नपाईट कॉलेज तथा आस्ट्रेलियन इंस्टीट्यूट ऑफ वाटर सार्इंस द्वारा गांव पट्टीकल्याणा के तालाब की सफाई की जाएगी। साथ ही उसमें स्वच्छ पानी भरने के साथ उसके आसपास का सौंदर्यीकरण किया जाएगा।

इसको लेकर पाईट की एनएसएस टीम, बीओजी मैम्बर राकेश तायल, शुभम तायल, ऑस्ट्रेलियन इंस्टीट्यूट ऑफ वाटर साईंस के सीईओ प्रोफेसर फिलिप बेल, जनसम्पर्क अधिकारी ओपी रनौलिया, बीबी शर्मा के साथ मिलकर गांव पट्टीकल्याणा के तालाबों का निरीक्षण किया। इस दौरान सरपंच पति अनिल छौकर, मैम्बर पंचायत भी उनके साथ थे। मैम्बर बीओजी राकेश तायल ने बताया कि टीम ने गांवों के तालाबों का निरीक्षण किया। उन्होंने बताया कि वहां पानी और मिट्टी के सैंपल लिए जिन्हें प्रयोगशाला में भेजा जाएगा। किसी एक तालाब को
साफ करने के साथ ही पानी को स्वच्छ किया जाएगा। अमेरिका से उनके एक मित्र विटेनी भी में सहयोग करेंगे। पीआरओ ओम प्रकाश रनोलिया ने बताया कि प्रोफेसर फिलिप बेल ने इस तरह के प्रोजेक्ट्स पर काफी शोध किया है और उनके 44 सालो के अनुभव से लाभ
मिलेगा। एनएसएस की टीम ने ग्रामीणों को इस बारे में समझाया है। सरपंच पति अनिल छौकर के साथ भी प्रोफेसर फिलिप और राकेश तायल ने भी वार्तालाप किया और इस कार्य के लिए ग्रामीणों से सहयोग की अपील की। प्रोफेसर फिलिप ने कहा कि इस प्रोजेक्ट को जल्द से जल्द पूरा कर के वो गाँव को एक सौगात देंगे। इस अवसर पर ग्रामीण मुकेश, विकास, रामनिवास, टेकचंद, पालेराम, रण सिंह, मांगी राम, शुगनचंद, रामवीर, हरि किशन सहित पाईट कॉलेज से राजन सलूजा, ज्ञानेंदर घणघस, रामनिवास, संजीव, रामबीर, संजीव, अक्षित गर्ग, तरुण, अमन आदि मौजूद थे।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   6324460
 
     
Related Links :-
रोटरी हेल्थ कार्निवाल में रोटेरियंस ने हेल्थ के प्रति किया जागरुक
डॉक्टर्स दिवाली की शुभकामनाएं देने मरीजों के घर पहुंच
डॉ.बेदी ने मिनिमली इनवेसिव सर्जरी में नए डेवलपमेंट्स पर गेस्ट लेक्चर दिया
डायबटीज से पीडि़तों के लिए आर्ट एग्जीबिशन
ऑर्थो कैम्प में 60 सीनियर सिटिजन की जांच की गई
रक्त की कमी से होने वाले थैलेसीमिया रोग का जागरुकता शिविर आयोजित
50 सीनियर सिटीजंस ने ‘मीट योअर डॉक्टर्स’ प्रोग्राम में हिस्सा लिया
भारत में कैंसर दूसरा सबसे बड़ा हत्यारा
वल्र्ड मेंटल हेल्थ डे: युवाओं ने खास अंदाज में दिया जागरूकता संदेश
स्तन कैंसर से बचने के लिए जागरूक और सावधान रहना जरूरी