समाचार ब्यूरो
09/01/2017  :  10:08 HH:MM
छात्रा ने छेड़छाड़ से तंग छोड़ा स्कूल, आरोपियों ने बाप- बेटे को पीटा
Total View  325

कैथलत्न छात्रा से छेड़छाड़ का उलाहना देने गए बाप- बेटे को आरोपी के परिवार ने लाठी, गंडासियों से पीटकर घायल कर दिया। आरोप है कि कुछ युवकों ने स्कूल से लौट रही छात्रा को कार में डालने का प्रयास किया था। यह बात परिवार को पता लगी तो वे आरोपी के घर शिकायत लेकर पहुंचे, इसी बात पर आरोपियों ने पिटाई कर डाली। शहर थाना पुलिस ने इस मामले में पांच व्यक्तियों के खिलाफ केस दर्ज किया है।

शहर निवासी एक युवक ने पुलिस को शिकायत देकर आरोप लगाया कि उसकी बहन 10वीं कक्षा की छात्रा है। दशमेश कॉलोनी निवासी बलजीत उर्फ चूंची स्कूल आते-जाते समय उसकी बहन से छेड़छाड़ करता था। परेशान होकर छात्रा ने इस बारे में अपने परिजनों को बताया। स्कूल जाना बंद कर दिया। आरोप है कि छात्रा के माता-पिता ने इस बारे में आरोपी के परिजनों को अवगत करवाया। छात्रा ने दोबारा स्कूल जाना शुरू किया, लेकिन आरोपी अपनी हरकतों से बाज नहीं आए। 4 जनवरी को छुट्टी के बाद जब छात्रा स्कूल से लौट रही थी तो आरोपी ने दो-दिन अन्य युवकों के साथ मिलकर छात्रा को कार में डालने का प्रयास किया, लेकिन मौके पर अन्य लोग आने के कारण वे सफल नहीं हो पाए तो छात्रा को वहीं फेंककर फरार हो गए। पीडि़ता ने इस बारे में अपने परिवार को बताया। बाद में रात को काम से लौटे छात्रा के भाई को भी दिन में हुई घटना का पता चला तो वह अपने पिता को साथ लेकर आरोपियों के घर शिकायत करने पहुंचा। वहां आरोपी बलजीत,
उसके पिता, भाई, अन्य युवक साहबी व जैंटा ने बाप-बेटे पर लाठी, डंडा व गंडासी से हमला करके घायल कर दिया और जान से मारने की धमकी देने लगे।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   843397
 
     
Related Links :-
मिट्टी गोलमाल पर लिया कविता जैन ने संज्ञान
बठिंडा ब्लास्ट से जुड़े राम रहीम के तार
बठिंडा ब्लास्ट से जुड़े राम रहीम के तार
बादशाहपुर में बसाई जा रही अवैध कॉलोनी
सेना के शिविर पर फिर हमला
हरियाणा व पंजाब ने एफआईआर में जाति व धर्म का कॉलम हटाया
अमेरिकी संसद में असैन्य मदद पर रोक के लिए विधेयक पेश
सवालिया घेरे में डेरा की जांच रिपोर्ट
पैक रजिस्ट्रार की पीए ने सास का गला घोंटा
अमृतसर में मां-बेटी की हत्या कर शवों को आग लगाई