30/01/2019  :  10:56 HH:MM
धूम्रपान की आदत कैंसर जैसी बीमारी को देता है दावत
Total View  736

लंदन > एक अध्ययन में कहा गया है कि धूम्रपान की आदत कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी तक को न्योता देती है। यह शरीर को कई तरह से नुकसान पहुंचाती है, जिसमें से एक उम्र को कम करना भी है। अध्ययन कर्ताओं के मुताबिक, स्मोकिंग न सिर्फ उम्र कम करती है बल्कि व्यक्ति को 20 साल जल्दी बूढ़ा भी कर देती है।

मानव शरीर की दो तरह की उम्र होती है, पहली तो क्रानलॉजिकल और दूसरी बायलॉजिकल। क्रानलॉजिकल ऐज वह है जो व्यक्ति के जन्म से गिनी जाती है, वहीं व्यक्ति किस उम्र का दिखता है, यह बायलॉजिकल ऐज में गिना जाता है। साइंटफिक रिपोर्ट में जारी हुई स्टडी के मुताबिक, स्मोकिंग के नुकसान को लेकर 149,000 अडल्ट्स का ब्लड टेस्ट किया गया। इससे यह सामने आया कि स्मोकिंग करने वाले युवाओं की क्रानलॉजिकल उम्र उनसे ऐज में डबल वाले नॉन स्मोकर्स लोगों के बराबर है। वहीं स्मोकिंग नहीं करने वालों की क्रानलॉजिकल ऐज उनके जन्म के समय के मुताबिक सटीक पाई गई। स्टडी में 10 में से 7 ऐसे स्मोकर्स जिनकी उम्र 30 से कम थी उनकी क्रानलॉजिकल ऐज 31 से 40 या 41 से 50 के बीच पाई गई। वहीं 62 प्रतिशत नॉन स्मोकर्स की उम्र सटीक पाई गई। स्टडी में शामिल कुल लोगों में से 49,000 लोग स्मोकर्स थे और उनकी ऐवरेज ऐज 53 पाई गई, जो चिंता का विषय है। स्टडी ऑथर पोलिना मौमोशिना ने कहा कि, ‘स्मोकिंग लोगों की हेल्थ को तबाह करने और उम्र से पहले निधन की बड़ी वजह है। यह कई तरह की बीमारियों को न्योता देता है।’ उन्होंने कहा कि, ‘स्टडी में नॉन स्मोकर्स के मुकाबले स्मोकिंग करने वालों की उम्र बढऩे की प्रक्रिया में तेजी देखी गई, यह प्रक्रिया महिला व पुरुषों में समान दिखी।’






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   1987753
 
     
Related Links :-
रोटरी हेल्थ कार्निवाल में रोटेरियंस ने हेल्थ के प्रति किया जागरुक
डॉक्टर्स दिवाली की शुभकामनाएं देने मरीजों के घर पहुंच
डॉ.बेदी ने मिनिमली इनवेसिव सर्जरी में नए डेवलपमेंट्स पर गेस्ट लेक्चर दिया
डायबटीज से पीडि़तों के लिए आर्ट एग्जीबिशन
ऑर्थो कैम्प में 60 सीनियर सिटिजन की जांच की गई
रक्त की कमी से होने वाले थैलेसीमिया रोग का जागरुकता शिविर आयोजित
50 सीनियर सिटीजंस ने ‘मीट योअर डॉक्टर्स’ प्रोग्राम में हिस्सा लिया
भारत में कैंसर दूसरा सबसे बड़ा हत्यारा
वल्र्ड मेंटल हेल्थ डे: युवाओं ने खास अंदाज में दिया जागरूकता संदेश
स्तन कैंसर से बचने के लिए जागरूक और सावधान रहना जरूरी