समाचार ब्यूरो
07/04/2019  :  11:40 HH:MM
कैथल एसपी से बोली पीडि़ता, मुझे मीडिया में बयान देने के लिए मजबूर मत करो
Total View  612

कैथल पहले तो एक युवक ने शादी का झांसा देकर युवती के साथ बलात्कार किया और साथियों से मिलकर अब धमकी देने लगा है। आरोपी व उसके पिता जयपाल शर्मा के खिलाफ मुकदमा नंबर 5 गत 8 जनवरी को धारा 313 व 376 के तहत महिला थाने में दर्ज करवाया था।

आरोपी युवक समाज में उसकी इज्जत उछाल रहा है और अलग अलग तरीकों से उसे व उसकी मां को लगातार परेशान कर रहा है। कभी अपने साथियों को घर भेज कर जान से मारने की धमकी दे रहा है तो कभी केस में समझौता करने की धमकी दे रहा है, जिससे परेशान
होकर पीडि़ता ने कई बार पुलिस से गुहार लगाई लेकिन पुलिस ने उनकी कोई सुनवाई नहीं की। जब पीडि़ता ने इस समस्या को लेकर आज कैथल एसपी से मामले में कार्रवाई करने की गुहार लगाई और कहा कि मुझे मीडिया में बयान देने के लिए मजबूर मत करो तो एसपी
बोले कि आपको जहां जाना है जाओ, जो करना है करो, यह धमकी मुझे मत दो। कैथल शहर निवासी पीडि़ता ने बताया कि उसके साथ सोनू उर्फ नीरज निवासी बोहा जिला मानसा फरवरी माह से लगातार कई दिनों तक शादी का झांसा देकर जबरन दुष्कर्म करता रहा और फिर शादी करने से इंकार कर दिया। पुलिस को जब इसकी शिकायत दी तो मामला दर्ज होने के बाद भी पुलिस ने आरोपी को नहीं पकड़ा। आरोपी के दोस्त केस वापस लेने और समझौता करने का दबाव डाल रहे हैं और आरोपियों द्वारा कहा जा रहा है कि अगर उन्होंने
केस वापस नहीं लिया तो वे तुम्हें मां बेटी को जान से मार देंगे, इसकी शिकायत को लेकर वे बार-बार कभी महिला थाने तो कभी एसपी दरबार में चक्कर लगा रही है लेकिन पुलिस कोई कार्रवाई नहीं कर रही और पीडि़ता परेशान होकर भटकने को मजबूर है। पीडि़ता ने इसकी एक शिकायत सीएम विंडो में भी डाली है। उधर इस बारे में महिला थाना प्रभारी रेखा रानी ने बताया कि एक युवती ने शादी का झांसा देकर जबरन दुष्कर्म करने की शिकायत दी थी जिस पर आरोपी को गिरफ्तार करने का प्रयास जारी है। दूसरी शिकायत उन्होंने आरोपी के दोस्तों द्वारा धमकी देने की दी है जिसको लेकर उन्होंने युवती से धमकी भरे कॉल रिकॉर्ड व अन्य बयान दर्ज करने के लिए कहा है, अगर युवती बयान दर्ज करवाती है तो आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उधर शिकायतकर्ता युवती ने
पुलिस पर आरोप लगाते हुए बताया कि वह बयान दर्ज करने के लिए थाने में कई बार आ चुकी है और इस केस की पूर्व जांच अधिकारी दर्शना देवी को उन्होंने पहले भी कॉल रिकॉर्डिंग और सबूत दिए थे लेकिन दर्शना ने दूसरे पक्ष से मिलीभगत करके सबूत मिटा दिए थे
इसलिए वह पहले मामला दर्ज करने और कोर्ट में ही सबूत देने की बात कर रही है। शिकायतकर्ता युवती ने आरोप लगाया कि पुलिस द्वारा आरोपियों को उनके प्रति बरगलाया गया और उल्टा मुझे ही दोषी बताया गया था जबकि पुलिस दोषियों के साथ मिली हुई है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   853074
 
     
Related Links :-
विधायक आकाश विजयवर्गी ने अफसर को बैट से पीटा
राम रहीम की पैरोल पर दुविधा में फंसी हरियाणा सरकार
किसलय पांडे और राम मणि पांडे के खिलाफ गैरे जमानती गिरफ्तारी वारंट
कुंडली के एएसआई, हवलदार पर कानूनी कार्यवाही की गुहार
राम रहीम की पैरोल पर गरमाई राजनीति विज और पंवार बोले हर कैदी का हक है पैरोल
दिल्ली में शख्स ने अपने 3 बच्चों और पत्नी की हत्या की, खुद को बताया डिप्रेशन का शिकार
पत्नी, बेटी और 2 बेटों की हत्या कर शवों के टुकड़े किए
साध्वी प्रज्ञा को हर हफ्ते पेश होने पर कोर्ट से मिली राहत
अयोध्या में आतंकी हमला चार को आजीवन कारावास, एक बरी
बाल यौन शोषण विषय पर एक कानूनी जागरूकता कैंप