समाचार ब्यूरो
08/05/2019  :  09:20 HH:MM
बिल्डरों ने उड़ाया व्यवस्था का मखौल
Total View  591

बहादुरगढ़ बिल्डर खुलेआम व्यवस्था का मखौल उड़ा रहे हैं और उन्हें कानून व्यवस्था का कोई डर नहीं है। ऐसा ही एक मामला पीडीएम यूनिवर्सिटी, बहादुरगढ़, हरियाणा में देखने में आया है, जहां उन्होंने एक रियल एस्टेट परियोजना शुरू की है और लगभग आठ साल बाद दिवालिया होने की पेशकश की है, जबकि दूसरी ओर उन्होंने एक समारोह में पंजाबी गायक हार्डी संधू को आमंत्रित किया और यूनिवर्सिटी का प्रचार करने के लिए उसे मध्यमवर्गीय लोगों की मेहनत की कमाई में से एक मोटी रकम का भुगतान किया।

सेवानिवृत्त रक्षा कर्मचारी, सेवारत लोग, वरिष्ठ नागरिक सभी बिल्डर की मनमानी से पीडि़त हैं। पीडीएम ने पिछले एक साल से अपने कर्मचारियों के वेतन का भुगतान नहीं किया है। इसके जवाब में 200 से अधिक पीडि़त परिवारों ने अपने बच्चों और महिलाओं के साथ शाम 5.30 बजे पीडीएम यूनिवर्सिटी, बहादुरगढ़, हरियाणा में इक_ा हुए, ताकि अपनी मेहनत की कमाई को बचाने के लिए भ्रष्ट बिल्डर के खिलाफ लड़ाई लड़ सकें।

लोगों की मांगें :
1. परियोजना जल्दी पूर्ण करके फ्लैटों का आवंटन किया जाये अथवा ब्याज के साथ धन की वापसी की जाये।

2. पीडीएम समूह को चाहिए कि फ्लैटों का निर्माण पूरा करने का इरादा दिखाये और खर्चीली जीवन शैली बंद करे। पीडीएम यूनिवर्सिटी परिसर में भव्य आयोजनों की मेजबानी जैसे अनावश्यक खर्चों को रोकना चाहिए। तभी तो वे होमबॉयर्स की गाढ़ी कमाई का पैसा
वापस कर सकते हैं।

3. कंपनियों और निदेशकों व उनके परिजनों के बैंक खातों की पिछले 10 वर्षों की पूरी जांच और विस्तृत फोरेंसिक ऑडिट कराया जाना चाहिए।

4. पिछले 3 वर्षों की फोरेंसिक ऑडिट रिपोर्ट और दिल्ली ईओडब्ल्यू एफआईआर नं. 0059 दिनांक 04/04/2019 के आधार पर निदेशकों की गिरफ्तारी होनी चाहिए।

5. कब्जा मिलने या धन की वापसी तक बैंक ऋण के ईएमआई की माफी होनी चाहिए। यद्यपि माननीय दिल्ली उच्च न्यायालय के निर्देश पर, पीडीएम बाइ एफओडब्ल्यू के प्रवर्तक लाठार्स के खिलाफ निष्पक्ष जांच हेतु एक प्राथमिकी दर्ज की गयी है। जैसा कि बिल्डर को अदालत के मामले में दबाव मिल रहा है, उन्होंने खरीदारों को गंभीर परिणाम के साथ स्थानीय गुंडों का उपयोग करने की धमकी देना शुरू कर दिया है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   3807227
 
     
Related Links :-
रिहायशी इलाके में शराब का ठेका खोलने पर डीएलएफ निवासियों ने किया प्रदर्शन
दोषी चाहे कितना बड़ा रसूखदार ही क्यों ना हो कानून सबके लिए एक जैसा है : सोनिया
छेड़छाड़ की घटना को किसी भी सूरत में सहन नहीं किया जायेगा: सुमित
निगम के अधिकारियों की मिलीभगत से चलते है शहर में अवैध निर्माण : स्वामी
713 किलोग्राम गांजा जब्त, तीन गिरफ्तार
चुनाव आयोग के पास शिकायतों की भरमार हरियाणा में वोटिंग के दौरान जमकर हुई गड़बडिय़ां
परनीत के सभा से जाते ही अकाली व कांग्रेसी भिड
राहुल गांधी के दोहरी नागरिक संबंधी याचिका सुप्रीम कोर्ट ने किया खारिज
आप प्रत्याशी आतिशी रोते हुए बोलीं- आपत्तिजनक पर्चे बांटे गए
गुरमीत राम रहीम का प्रयास नाकाम सीबीआई के विरोध पर याचिका वापस ली