Breaking News
बिहार में बाढ़ का तांडव, 29 लोगों की जान गई  |  भारत का लंबा प्रयास हो रहा निष्प्रभावी अफगानिस्तान-अमेरिका ने शांति वार्ता से भारत को किया अलग  |  गुरुग्राम को हरा भरा और प्रदूषण मुक्त करना सभी की जिम्मेदारी : राव  |  दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर चर्चा  |  पुलिस आयुक्त मोहम्मद अकिल और उपायुक्त अमित खत्री सम्मानित  |  अशोक सांगवान की अध्यक्षता में गुरुग्राम महानगर विकास प्राधिकरण की बैठक जल भराव संबंधी शिकायतों के लिए बना कंट्रोल रूम  |  हुनरमंद युवा अपनी प्रतिभा के दम पर प्राप्त कर सकेगा रोजगार :बीरपंथी  |  बरसात के बाद जी.टी. रोड पर भरा पानी, राहगीर हुए परेशान  |  
 
 
समाचार ब्यूरो
12/05/2019  :  10:45 HH:MM
पोलिंग पार्टियां कर्मठता, लगन, ईमानदारी, निर्भय होकर करें चुनाव ड्यूटी : विनय प्रताप सिंह
Total View  672

करनाल जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त विनय प्रताप सिंह ने करनाल और पानीपत के सभी मतदाताओं से अपील की है कि रविवार 12 मई को सभी मतदाता अपने परिवार के सभी सदस्यों और साथियों के साथ जाकर मताधिकार का प्रयोग अवश्य करके देश के प्रति अपनी जिम्मेवारी निभाएं। उन्होंने कहा कि पोलिंग के लिए प्रात: 7 बजे से लेकर सांय 6 बजे तक का समय रहेगा।

वे शनिवार को करनाल की सभी विधानसभा क्षेत्रों के सहायक रिटर्निंग अधिकारियों द्वारा पोलिंग पार्टियों को दिए जा रहे प्रशिक्षण और चुनाव वितरण सामग्री के कार्य का निरीक्षण कर रहे थे। इस दौरान जनरल पर्यवेक्षक शशिभूषण सिंह भी उपस्थित रहे। जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि चुनाव को लेकर जिला प्रशासन पूरी तरह से तैयार है और सभी पोलिंग पार्टियों को चुनाव सामग्री वितरित की गई। उन्होंने बताया कि जिले में संवेदनशील और अतिसंवेदनशील बूथों की संख्या 143 है। इस बात को मद्ïदेनजर रखते हुए जिला प्रशासन द्वारा सुरक्षा के इंतजाम व्यापक स्तर पर किए गए हैं। पुलिस बल के साथ-साथ केन्द्रीय अर्धसैनिक बल की भी तैनाती की गई है। उन्होंने बताया कि 60 अतिसंवेदनशील बूथों की लाईव वेबकास्टिंग भी की जाएगी। उन्होंने कहा कि दिव्यांग, वृद्घ और गर्भवती महिलाओं के लिए भी मतदान केन्द्र पर उनकी सहूलियत के अनुसार व्यवस्था की गई है, ताकि सभी अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकें। उन्होंने कहा कि चुनाव को शांतिपूर्व करवाने और कानून व्यवस्था को कायम रखने के दृष्टिगत उम्मीदवारों को मतदान केन्द्र की
200 मीटर की परिधि के बाहर बूथ स्थापित करने के निर्देश जारी किए गए हैं। इस मौके पर उन्होंने सूक्ष्म पर्यवेक्षकों को सम्बोधित करते हुए कहा कि सूक्ष्म पर्यवेक्षकों की नियुक्ति मतदान केन्द्रों पर मॉनिटरिंग के लिए की जाती है। एक मतदान केन्द्र के अंतर्गत आने वाले सभी पोलिंग बूथों पर एक सूक्ष्म पर्यवेक्षक की नियुक्ति की जाती है, जिसे एक से लेकर पांच पोलिंग बूथों तक चुनावी प्रक्रिया पर नजर बनाये रखने के लिए नियुक्त किया जाता है, जो कि एक महत्वपूर्ण कार्य है। उन्होंने कहा कि सूक्ष्म पर्यवेक्षकों का कार्य चुनाव करवाना नहीं है बल्कि पीठासीन अधिकारियों, सहायक पीठासीन अधिकारियों तथा पोलिंग अधिकारियों द्वारा करवाए जा रहे चुनाव पर निगरानी करने की है। उन्होंने कहा कि 12 मई को होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए सभी सूक्ष्म पर्यवेक्षक अपने-अपने मतदान केन्द्र पर पोलिंग शुरू होने के डेढ़ घंटा पहले प्रात: साढ़े 5 बजे पहुंचना सुनिश्चित करेंगे और मॉक पोल करवाना सुनिश्चित करेंगे। मॉक पोल के बाद मशीन में क्लीयर का बटन दबाने तथा मतदान पूर्ण होने पर क्लोज बटन दबाने के लिए पीठासीन अधिकारी को अवश्य निर्देशित करें।
उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग द्वारा वांछित चुनाव सम्बंधी जानकारियों को पोल मॉनिटर एप में दर्ज करना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि चुनाव से सम्बंधित सूक्ष्म पर्यवेक्षकों द्वारा दी जाने वाली रिपोर्ट एक के अंतर्गत आने वाले सभी 18 बिन्दुओं तथा रिपोर्ट दो के भाग ए व भाग बी के अंतर्गत आने वाले क्रमश: 9 व 7 बिन्दु निर्धारित प्रफोर्मा में भरकर सामान्य पर्यवेक्षक के पास जमा करवाना सुनिश्चित करें और इसके उपरांत ही सम्बंधित सहायक रिटर्निंग अधिकारी से रिलीविंग सर्टिफिकेट लें।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   9451269
 
     
Related Links :-
बिहार में बाढ़ का तांडव, 29 लोगों की जान गई
गुरुग्राम को हरा भरा और प्रदूषण मुक्त करना सभी की जिम्मेदारी : राव
दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर चर्चा
पुलिस आयुक्त मोहम्मद अकिल और उपायुक्त अमित खत्री सम्मानित
अशोक सांगवान की अध्यक्षता में गुरुग्राम महानगर विकास प्राधिकरण की बैठक जल भराव संबंधी शिकायतों के लिए बना कंट्रोल रूम
बरसात के बाद जी.टी. रोड पर भरा पानी, राहगीर हुए परेशान
मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने जिलावासियों को दी सौगात रोहतक को करोड़ों की तीन परियोजनाओं की सौगाते
यदि सिद्धू अपना काम नहीं करना चाहता तो मैं इसमें क्या कर सकता हूं : कैह्रश्वटन अमरिन्दर
मुख्यमंत्री ने दिया जलशक्तिअभियान के तहत पानी बचाने का संदेश
लोकसभा : तीखी नोंकझोंक के बीच एनआईए संशोधन विधेयक को मंजूरी