Breaking News
पाकिस्‍तान के दो सैनिकों को भारतीय जवानों ने जवाबी कार्रवाई में मार गिराया सफेद झंडा दिखाकर ले गए शव  |  टोरंटो स्थित रॉय थॉमसन हॉल में आयोजित टोरंटो इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल 2019 के दौरान अपनी फिल्म द स्काई इज पिंक के प्रीमियर में फरहान अख्तर, सोनाली बोस एवं प्रियंका चोपड़ा जोनस शिरकत करते हुए।  |  बागी 3 में वापस आई श्रद्धा कपूर  |  गुरुग्राम विवि का मलेशिया की एआईएमएसटी के साथ एमओयू  |  ब्राह्मण समाज के बाद पंजाबी समाज ने विधायक अग्रवाल को दिया आशीर्वाद  |  सीग्राम के रॉयल स्टैग ने बुमराह को बनाया ब्रांड एंबेसेडर  |  सलवान पब्लिक स्कूल ने उत्साह के साथ मनाया हिंदी दिवस  |  समाजसेवी नवीन गोयल हर एक रेहड़ी वाले को देंगे डस्टबिन मिलेनियम सिटी की सडक़ों पर नजर नहीं आएंगे फलों के छिलके और गंदगी  |  
 
 
समाचार ब्यूरो
19/05/2019  :  09:25 HH:MM
इंडियन आयल की ऊर्जा क्षेत्रों में दो लाख करोड़ निवेश की योजना
Total View  680

नई दिल्ली सार्वजनिक क्षेत्र की अग्रणी कंपनी इंडियन आयल कॉरपोरेशन (आईओसी) की भविष्य की जरूरतों को ध्यान में रखकर अगले 5 से 7 साल के दौरान ईंधन और ऊर्जा के विविध क्षेत्रों में दो लाख करोड़ निवेश की योजना है। कंपनी अपनी मौजूदा रिफाइनरियों का विस्तार करने के साथ ही स्वच्छ ईंधन और उत्पादन बढ़ाने में नई प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल को बढ़ावा दे रही है। रिफाइनरी-पेट्रोरसायन एकीकृत परिसरों, जैव-ईंधन,कोल गैसिफिकेशन, हाइड्रोजन ईंधन सेल और बैटरी प्रौद्योगिकी जैसे नए क्षेत्रों में अपनी अनुसंधान एवं विकास विशेषज्ञता के बल पर आगे बढ़ रही है।

इंडियन आयल कॉरपोरेशन के चेयरमैन संजीव सिंह ने वार्षिक संवाददाता सम्मेलन में कंपनी की भविष्य की योजनाओं की जानकारी देकर कहा कि वित्तवर्ष 2019-20 में कंपनी रिफाइनरी, पाइपलाइन, पेट्रोरसायन और ऊर्जा के विभिन्न क्षेत्रों में 25,000 करोड़ का पूंजी निवेश करेगी। कंपनी ने 2018-19 में भी तय लक्ष्य के मुकाबले 116 प्रतिशत निवेश करते हुए 26,548 करोड़ का पूंजी निवेश किया है। उन्होंने कहा कि निकट भविष्य में देश में पेट्रोलियम, तेल और लुब्रिकेंट्स उत्पादों की बढ़ती मांग को देखकर इंडियन आयल 2030 तक अपनी मौजूदा रिफाइनिंग क्षमता को दोगुना कर 14 करोड़ टन तक पहुंचाने के एजेंडा पर काम कर रही है। इसके साथ ही पाइपलाइन नेटवर्क और विपणन ढांचे को भी मजबूत बनाया जायेगा। ‘फार्च्यून की वैश्विक-500 सूची में शीर्ष रंैकिंग वाली इंडियन आयल भविष्य की एक ऐसी कंपनी बनने की दिशा में अग्रसर है जहां नवीन प्रौद्योगिकी और ऊर्जा क्षेत्र में बदलावों के इस दौर में विविध प्रकार की ऊर्जा मांग की जरूरतों को पूरा किया जा सके। सिंह ने बताया कि 2018-19 में पेट्रोलियम पदार्थों, गैस, पेट्रोरसायन और अन्य उत्पादों सहित कंपनी ने
घरेलू बाजार में 3.9 प्रतिशत की वृद्धि हासिल करते हुए 8 करोड़ 46 लाख 50 हजार टन उत्पादों की बिक्री की। कंपनी की नौ रिफाइनरियों में 7.19 करोड़ टन कच्चे तेल का प्रसंस्करण किया गया, जबकि देशभर में फैले पाइपलाइन नेटवर्क में 8.85 करोड़ टन रिकार्ड कच्चे तेल और पेट्रोलियम उत्पादों का परिवहन किया गया।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   1093053
 
     
Related Links :-
पैनासोनिक इंडिया ने वॉशिंग मशीन सेगमेंट में 38 नए मॉडल लॉन्च किए
बहुप्रतीक्षित सेल 29 से फिलपकार्ट की ‘द बिग बिलियन डेज़’ की फिर हुई वापसी
नारेडको के वाइस चेयरमैन प्रवीण जैन ने जताई फेस्टिव सीजन से उम्मीद
फ्रंटिजो बिजनेस सर्विसेज ने पंचकूला में खोला नया कांटेक्ट सेंटर
ढाबा, डेयरी और पोल्ट्री फार्मों की दरों का निर्धारण
पात्र लोगों को ऋण सुविधा उपलब्ध कराया जाएगा : रजा
स्टड्स हेलमेट ने रोहतक में खोला एक्सक्लूसिव ब्रांड आउटलेट
मारुति सुजुकी : 2 दिन के लिए गुरुग्राम-मानेसर ह्रश्वलांट बंद
सोलर पंप आवेदन के लिए 30 सितंबर तक बढ़ाया गया समय
ट्रांसपोर्ट विभाग की 5 एकड़ भूमि विकसित होगी