समाचार ब्यूरो
19/05/2019  :  09:56 HH:MM
खराब लाइफस्‍टाइल से होता है हाइपरटेंशन : अरुणा सिंह
Total View  647

नई दिल्लीत्नआज की भाग दौड़ भरी जिंदगी में लोगों के पास समय नहीं है। ऐसे में लोग अपने शरीर व स्वास्थ्य के लिए समय नहीं निकाल पाते हैं। इससे हाइपरटेंशन जैसी बीमारी होने लगती है। इससे बचाव का सबसे अच्छा तरीका अपने लाइफ स्टाइल में बदलाव लाना, क्योंकि एक खऱाब लाइफस्टाइल हाइपरटेंशन जैसी बीमारी का मुख्य कारण होती है।
उन्होंने कहा कि यह बीमारी हमें लकवा और हार्ट अटैक जैसे गंभीर परिणाम दे सकती है। पहले यह समस्या उम्रदराज लोगों में होती थी। लेकिन बदलते माहौल में हाइपरटेंशन की समस्या बच्चों और युवाओं में भी फैलती जा रही है। यह बाते डीपीएमआई की प्रिंसिपल अरुणा सिंह ने विश्व हाइपरटेंशन दिवस के मौके पर आयोजित हेल्थ अवेयरनेस कैंप के दौरान कही। गौरतलब है कि विश्व हाइपरटेंशन दिवस के मौके पर न्यू अशोक नगर स्थित दिल्ली पैरामेडिकल एंड मैनेजमेंट इंस्टीट्यूट ने हाई ब्लड प्रेशर के बारे में जागरूक करने के लिए हेल्थ अवेयरनेस कैंप का आयोजन किया। कॉज कनेक्ट के साथ मिलकर फायर सेफ्टी मैनेजमेंट अकादमी में पहला कैंप आयोजित किया गया, जिसमे हाइपरटेंशन जैसी बीमारी से बचने के लिए योगा कराया गया। वहीं दूसरा कैंप डीपीएमआई के सभागार में आयोजित किया गया जहां छात्रों और डॉक्टर्स द्वारा मरीजों, स्थानीय लोगों, छात्रों और फैकल्टी मेंबर्स की निशुल्क ब्लड प्रेशर जांच की गई। साथ ही सभी को इस बीमारी से बचने और स्वस्थ रहने के लिए क्या खान-पान, सही योग आदि के लिए भी जागरूक किया गया। इस मौके पर डीपीएमआई की मैनेजिंग डायरेक्टर पूनम बछेती, फैकल्टी मेंबर्स और सभी छात्र मौजूद रहे।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   9154757
 
     
Related Links :-
अब भजन सुनते हुए करा सकते हैं एमआरआई
स्वच्छता गतिविधियों में भाग लेना अपने आप में एक बड़ी पहल है : भटनागर
मोहित मदनलाल ग्रोवर ने किया निशुल्क स्तन कैंसर जांच शिविर का आयोजन
पंजाब के सीएम ने शुरू की आयुष्मान भारत सरबत की सेहत योजना
स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण-2019 एप के माध्यम से दे सकते हैं फीडबैक
स्वच्छता हमारी सामूहिक जिम्मेदारी : सुभाष चंद्र
पीजीआई में इलाज न मिलने से मरीजों का बहुत बुरा हाल डॉक्टर्स एनएमसी बिल के विरोध में उतरे हड़ताल पर
जिला बार एसोसिएशन के ऐडवोकेट नें ‘लाइफ सेवर’ ट्रेनिंग में हिस्सा लिया
तीसरा स्वैच्छिक रक्तदान शिविर
आकाश इंस्टीट्यूट के छात्रों और शिक्षकों ने लगाए 324 पौधे