समाचार ब्यूरो
25/05/2019  :  09:24 HH:MM
खटीक बस्ती में गंदा पानी भरा, लोगों का प्रदर्शन
Total View  655

समालखा प्रशासन जहां शहर में साफ सफाई के बड़े बड़े दावे करता है वहीं नगरपालिका कार्यालय के दरवाजे के बार ही एनएचएआई द्वारा बनवाए गए अधूरे नाले से गंदा पानी खटीक मोहल्ले में भरने से लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। प्रशासन की अनदेखी के चलते पिछले करीब दो सप्ताह से दुखी लोगों ने नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया।
उल्लेखनीय है कि एनएचआई द्वारा जीटी रोड को चौड़ा करने का काम किया जा रहा है। इसी के तहत करीब साल भर पहले एनएचएआई के ठेकेदार ने पानीपत सर्विस लेन की तरफ नाला बनवाया था। लेकिन उसका पूरा निर्माण करने की बजाए उसे अधर में ही छोड़ दिया गया और यह नगरपालिका के आगे खटीक गली के मुहाने पर अधूरा है। करीब दो सप्ताह से सीवरेज ब्लॉक होने के कारण बैक के चलते गंदा पानी अधूरे नाले से ओवर फ्लो होकर खटीक मोहल्ले में जा रहा है। जिससे मोहल्ले वासियों सहित आने जाने वाले लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। लोगों में बीमारियों के फैलने का भय बना हुआ है। शुक्रवार सुबह हुई बारिश से उनकी परेशानी दुगनी हो गई तथा मानसून भी आने वाला है और उनकी परेशानी बढ़ जाएगी। इससे परेशान मोहल्ले वासियों मंजू, शंकुतला, तोषी, कृष्णा, सोनिया, सावित्री, रोशन लाल, दर्शन, रामू, शिव चरण, विक्की, प्रदीप, गुलशन, रामफल आदि ने आरटीआई एक्टिविस्ट पीपी कपूर नेतृत्व में नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया। वहीं प्रदेर्शन के बाद नपा के सफाई कर्मी सीवर ब्लॉकेज को दूर करने में लग गए।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   9851964
 
     
Related Links :-
अब भजन सुनते हुए करा सकते हैं एमआरआई
स्वच्छता गतिविधियों में भाग लेना अपने आप में एक बड़ी पहल है : भटनागर
मोहित मदनलाल ग्रोवर ने किया निशुल्क स्तन कैंसर जांच शिविर का आयोजन
पंजाब के सीएम ने शुरू की आयुष्मान भारत सरबत की सेहत योजना
स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण-2019 एप के माध्यम से दे सकते हैं फीडबैक
स्वच्छता हमारी सामूहिक जिम्मेदारी : सुभाष चंद्र
पीजीआई में इलाज न मिलने से मरीजों का बहुत बुरा हाल डॉक्टर्स एनएमसी बिल के विरोध में उतरे हड़ताल पर
जिला बार एसोसिएशन के ऐडवोकेट नें ‘लाइफ सेवर’ ट्रेनिंग में हिस्सा लिया
तीसरा स्वैच्छिक रक्तदान शिविर
आकाश इंस्टीट्यूट के छात्रों और शिक्षकों ने लगाए 324 पौधे