Breaking News
बिहार में बाढ़ का तांडव, 29 लोगों की जान गई  |  भारत का लंबा प्रयास हो रहा निष्प्रभावी अफगानिस्तान-अमेरिका ने शांति वार्ता से भारत को किया अलग  |  गुरुग्राम को हरा भरा और प्रदूषण मुक्त करना सभी की जिम्मेदारी : राव  |  दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर चर्चा  |  पुलिस आयुक्त मोहम्मद अकिल और उपायुक्त अमित खत्री सम्मानित  |  अशोक सांगवान की अध्यक्षता में गुरुग्राम महानगर विकास प्राधिकरण की बैठक जल भराव संबंधी शिकायतों के लिए बना कंट्रोल रूम  |  हुनरमंद युवा अपनी प्रतिभा के दम पर प्राप्त कर सकेगा रोजगार :बीरपंथी  |  बरसात के बाद जी.टी. रोड पर भरा पानी, राहगीर हुए परेशान  |  
 
 
समाचार ब्यूरो
16/06/2019  :  09:49 HH:MM
ठोस कचरा प्रबंधन नियम-2016 के तहत कचरा अलग-अलग करना जरूरी
Total View  665

गुरुग्राम नगर निगम गुरुग्राम के आयुक्त विनय सिंह ने कहा कि ठोस कचरा प्रबंधन नियम-2016 के अनुसार सभी नागरिकों को अपने घरों में ही गीला और सूखा कचरा अलग-अलग करना अनिवार्य है। इसलिए सभी से अनुरोध है कि वे कचरा उठाने वाली गाड़ी में गीला और सूखा कचरा अलग-अलग करके ही डालें।

उन्होंने कहा कि सभी लोग अपने घरों में हरे और नीले रंग के डस्टबिन रखें। हरे डस्टबिन में सब्जी-फल आदि के छिल्के अर्थात रसोईघर से निकलने वाला गलनशील कचरा डालें। इसके अलावा नीले रंग के डस्टबिन में गत्ते, कागज सहित अन्य सूखा रिसायकिल हो सकने वाला कचरा डालकर रखें। जब कचरा उठाने वाली गाड़ी आए, तो दोनों डस्टबिन अलग- अलग ही कर्मचारी सौंपें। नगर निगम गुरुग्राम द्वारा घर-घर से कचरा उठाने की व्यवस्था की गई है तथा पार्टिशंड व्हीकल लगाए गए हैं। निगमायुक्त ने कहा कि ठोस कचरा प्रबंधन  नियम2 016 की पालना करना हम सभी की जिम्मेदारी है। नगर निगम गुरुग्राम आने वाले 10 दिनों के बाद ऐसे घरों से कचरा उठाना भी बंद कर सकता है, जो कचरा अलग-अलग करके नहीं देंगे। सभी से अपील है कि वे शहर को स्वच्छ, सुंदर और बेहतर बनाने में अपना
योगदान दें तथा अपने कचरे को अलग-अलग करना शुरू करें। उन्होंने कहा कि अगर सभी लोग स्थानीय स्तर पर ही कचरा अलग-अलग करके देंगे, तो उसका प्रबंधन करना आसान होगा और हमारा शहर स्वच्छ बनेगा।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   4901692
 
     
Related Links :-
ग्रामीण बरसाती पानी का तालाबों में करें भंडारण
पौधारोपण कर जागरूकता सेमिनार का आयोजन
सीएम ने किया जल शक्ति अभियान के तहत पौधारोपण कार्यक्रम
स्मार्ट सिटी करनाल में जल संचयन की दिशा में बढ़ते कदम
81 डार्क जोन वाले ब्लॉकों में विशेष जल संरक्षण अभियान
७६ फीसद स्मार्टफोन उपयोगकर्ताओं ने नहीं किया रिसाइकल
69वें वन महोत्सव: कम से कम दो पौधे अवश्य लगाने की अपील हर व्यक्ति पौधारोपण अभियान में सहयोग दें : राव नरबीर सिंह
अब तक कमजोर दिख रहे मॉनसून ने पकड़ी तेजी
गंगा की सहायक नदियों से संबंधित प्रस्ताव नमामि गंगे में स्वीकृत हो
अरावली ना होती तो रेगिस्तान बन जाता गुरुग्राम