Breaking News
बिहार में बाढ़ का तांडव, 29 लोगों की जान गई  |  भारत का लंबा प्रयास हो रहा निष्प्रभावी अफगानिस्तान-अमेरिका ने शांति वार्ता से भारत को किया अलग  |  गुरुग्राम को हरा भरा और प्रदूषण मुक्त करना सभी की जिम्मेदारी : राव  |  दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर चर्चा  |  पुलिस आयुक्त मोहम्मद अकिल और उपायुक्त अमित खत्री सम्मानित  |  अशोक सांगवान की अध्यक्षता में गुरुग्राम महानगर विकास प्राधिकरण की बैठक जल भराव संबंधी शिकायतों के लिए बना कंट्रोल रूम  |  हुनरमंद युवा अपनी प्रतिभा के दम पर प्राप्त कर सकेगा रोजगार :बीरपंथी  |  बरसात के बाद जी.टी. रोड पर भरा पानी, राहगीर हुए परेशान  |  
 
 
समाचार ब्यूरो
16/06/2019  :  10:06 HH:MM
हड़ताली डॉक्टरों ने सीएम ममता बैनर्जी को दिया अल्टीमेटम 48 घंटे में मांगे नहीं मानीं तो डॉक्टर करेंगे अनिश्चित कालीन हड़ताल
Total View  658

नई दिल्ली दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) और सफदरजंग अस्पतालों के रेजिडेंट डॉक्टरों ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को राज्य के आंदोलनकारी डॉक्टरों की मांगों को पूरा करने के लिए 48 घंटे का अल्टीमेटम दिया है। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि ऐसा नहीं किया गया तो वे अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाएंगे। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) और सफदरजंग अस्पताल के डॉक्टरों ने कोलकाता में अपने सहयोगियों पर हमलों के विरोध में शुक्रवार को काम का बहिष्कार किया था।

शनिवार को काम फिर से शुरू करने वाले एम्स रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन (आरडीए) के सदस्यों ने कहा अगर पश्चिम बंगाल के डॉक्टरों की मांगें 48 घंटे के भीतर पूरी नहीं की जाती हैं, तो उन्हें अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने के लिए मजबूर होना पड़ेगा। उन्होंने कहा हम पश्चिम बंगाल सरकार के शत्रुतापूर्ण और अडिय़ल रवैये की निंदा करते हैं। एम्स, नई दिल्ली में हमारा विरोध तब तक जारी रहेगा जब तक न्याय नहीं मिल जाता। एम्स आरडीए ने एक बयान में कहा 14 जून को हुई आम सभा की बैठक में लिए गए निर्णय के अनुसार आरडीए पश्चिम बंगाल सरकार को हड़ताली डॉक्टरों की मांगों को पूरा करने के लिए 48 घंटे का अल्टीमेटम देती है। मांगें पूरी नहीं होने पर एम्स नई दिल्ली में हम अनिश्चितकालीन हड़ताल करेंगे। हमें उम्मीद है कि देशभर में हमारे सहयोगी जरूरत की इस घड़ी में हमारे साथ जुड़ेंगे। आरडीए सदस्यों ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन के प्रति आभार व्यक्त किया और गतिरोध को दूर करने के लिए उनके कदमों की सराहना की। उन्होंने कहा हमें पूरी उम्मीद है कि वह इसे प्राथमिकता देते हुए इस मामले का अति शीघ्र समाधान करेंगे। सफदरजंग अस्पताल आरडीए के अध्यक्ष प्रकाश ठाकुर ने भी इस मामले पर समान रुख अपनाया। दिल्ली के चिकित्सकों ने यह कदम ऐसे समय उठाया है, जब ममता बनर्जी ने कुछ दिन पहले अपने राज्य में हड़ताली डॉक्टरों को हड़ताल वापस लेने या छात्रावास खाली
करने के लिए चार घंटे का अल्टीमेटम दिया था। पश्चिम बंगाल में अपने सहयोगियों पर हमले के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे डॉक्टरों के साथ एकजुटता व्यक्त करते हुए इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) ने 17 जून को हड़ताल का आह्वान किया है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   2368081
 
     
Related Links :-
बिहार में बाढ़ का तांडव, 29 लोगों की जान गई
गुरुग्राम को हरा भरा और प्रदूषण मुक्त करना सभी की जिम्मेदारी : राव
दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर चर्चा
पुलिस आयुक्त मोहम्मद अकिल और उपायुक्त अमित खत्री सम्मानित
अशोक सांगवान की अध्यक्षता में गुरुग्राम महानगर विकास प्राधिकरण की बैठक जल भराव संबंधी शिकायतों के लिए बना कंट्रोल रूम
बरसात के बाद जी.टी. रोड पर भरा पानी, राहगीर हुए परेशान
मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने जिलावासियों को दी सौगात रोहतक को करोड़ों की तीन परियोजनाओं की सौगाते
यदि सिद्धू अपना काम नहीं करना चाहता तो मैं इसमें क्या कर सकता हूं : कैह्रश्वटन अमरिन्दर
मुख्यमंत्री ने दिया जलशक्तिअभियान के तहत पानी बचाने का संदेश
लोकसभा : तीखी नोंकझोंक के बीच एनआईए संशोधन विधेयक को मंजूरी