Breaking News
भाजपा ने महज 10 महीने में कांग्रेस से हथिया ली दो राज्यों की सत्ता   |  अवैध रूप से सीएंडडी वेस्ट डंपिंग करने वालों पर की जा रही है कार्रवाई  |  कोराना (कोविड-19) से स्वच्छता, सतर्कता व जागरुकता ही बचाव : नरेश नरवाल  |  आज का देश की महिलाओं व हमारी बच्ची के लिए ऐतिहासिक दिन है : बजरंग गर्ग  |  कोविड 2019 संक्रमण को फैलने से रोकने के उपायों के बारे में आम जनता को ज्यादा से ज्यादा जागरूक करें : उपायुक्त  |  संदिग्ध मरीजों के लिए गुरुग्राम जिला में 22 आइसोलेटिड वार्ड तथा 4 क्वारंर्टाइन सुविधा बनाई गई  |  स्वयंसेवी संस्थाओं द्वारा संक्रमण से बचने के लिए लोगों को जागरूक किया जा रहा है  |  भाजपा ने प्रदेश पदाधिकारियों तथा प्रदेश मोर्चा अध्यक्षों की घोषणा की   |  
 
 
समाचार ब्यूरो
10/09/2019  :  11:29 HH:MM
भारत-फ्रांस को घनिष्टतापूर्वक शांति अग्रदूत के रूप में करना चाहिए काम: नायडू
Total View  857

नई दिल्ली उपराष्‍ट्रपति एम.वेंकैया नायडू ने भारत और फ्रांस के मध्‍य सामरिक भागीदारी को भारत की विदेशी नीति का एक महत्‍वपूर्ण स्‍तंभ बताते हुए कहा कि भारत और फ्रांस शांति और स्थिरता के अग्रदूत के रूप में काम कर सकते हैं। आर्थिक मामलों की स्‍थाई समिति की अध्‍यक्ष और सीनेट सुश्री सोफी प्राइमास के नेतृत्‍व में फ्रांस के सांसदों के शिष्‍टमंडल के साथ आज दिल्‍ली में बातचीत करते हुए नायडू ने विश्‍व में शांति और सद्भाव को बढ़ावा देने के लिए भारत और फ्रांस में नजदीकी सहयोग का आह्वान किया।

नायडू ने कहा कि भारत अपने पड़ोसियों सहित सभी देशों के साथ सदैव शांतिपूर्ण सह-अस्‍तित्‍व में विश्‍वास करता है। हम नहीं चाहते हैं कि कोई हमारे देश के अंदरूनी मामलों में हस्‍तक्षेप करे न ही हम स्‍वयं अन्‍य देशों के मामले में दखल देना चाहते हैं। उपराष्‍ट्रपति ने कहा कि भारत रक्षा सहयोग, समुद्री सुरक्षा, आतंकवाद निरोध, अंतरिक्ष सहयोग, आर्थिक भागीदारी और अन्‍य क्षेत्रों में फ्रांस के साथ अपनी भागीदारी को बहुत महत्‍व देता है। यह देखते हुए उन्‍होंने दोनों देशों के बीच नजदीकी संबंधों को बढ़ावा देने के लिए भारत-फ्रांस संसदीय
मैत्री समूह की स्‍थापना का सुझाव दिया। उन्‍होंने स्‍मार्टसिटी पहल के तहत भारत के साथ भागीदारी करने के फ्रांस के निर्णय के बारे में प्रसन्‍नता जाहिर की और कहा कि भारत के विकास के लिए शहरी नवीकरण और स्‍वच्‍छ ऊर्जा में भारी निवेश की जरूरत है।
नायडू ने कहा कि 2022 तक माल के व्‍यापार के निर्धारित लक्ष्‍य को 15 बिलियन यूरो तक पहुंचाने के लिए द्वीपक्षीय व्‍यापार की गति को कई गुना बढ़ाये जाने की जरूरत है। यह कहते हुए कि जलवायु परिवर्तन, भारत सरकार के लिए एक विश्‍वास का विषय है, उन्‍होंने पेरिस समझौते के प्रति भारत की प्रतिबद्धता की पुष्टि की। उन्‍होंने कहा कि भारत इस समझौते के लक्ष्‍यों को प्राह्रश्व‍त करने के मार्ग पर अग्रसर है। उन्‍होंने इस बारे में विशेष रूप से ‘वन ह्रश्व‍लैनिट समिट’ आयाजित करने के लिए फ्रांस की सराहना की। नायडू ने नवम्‍बर 2018 में आयोजित प्रथम विश्‍व युद्ध की युद्ध विराम संधि के शताब्‍दी वर्ष समारोह के दौरान फ्रांस की अपनी यात्रा का स्‍मरण किया। उन्‍होंने कहा कि इस युद्ध में अपना बलिदान देने वाले 9,000 से भी अधिक भारतीय वीरों की याद में विलर्स गुइस्‍लैन में पहले भारतीय युद्ध स्‍मारक का उन्‍होंने उद्घाटन किया था। इसरो और सीएनईएस के माध्‍यम से भारत और फ्रांस के बीच दीर्घकालीन और बहुमुखी अंतरिक्ष सहयोग का उल्‍लेख करते हुए नायडू ने कहा हम इस सहयोग को और आगे ले जाने के लिए प्रतिबद्ध हैं।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   8331371
 
     
Related Links :-
सर्विस लेन पर लगने वाला जाम लोगों के लिए सिरदर्द बना
विपक्ष ने भाजपा पर ईवीएम से छेड़छाड़ के आरोप लगाए ईवीएम से छेड़छाड़ को लेकर कई घंटों चला हाई वोल्टेज ड्रामा
पाकिस्तान नौ नवंबर को खोलेगा करतारपुर कॉरिडोर
विपक्ष ने भाजपा पर ईवीएम से छेड़छाड़ के आरोप लगाए ईवीएम से छेड़छाड़ को लेकर कई घंटों चला हाई वोल्टेज ड्रामा
भारत ने संयुक्त राष्ट्र में स्थापित किया गांधी सोलर पार्क
कश्मीर पर सवाल पूछने वाले पाक पत्रकारों पर खीझे ट्रंप, कई बार फटकारा कश्मीर एक जटिल मुद्दा, दोनों पक्ष राजी हों तो मैं हमेशा मध्यस्थता को तैयार: ट्रंप
दिल्ली समेत उत्तर भारत में तेज भूकंप के झटके पीओके में तबाही १९ की मौत, ३०० घायल
क्लाइमेट समिट : पीएम मोदी ने कहा 80 देश भारत की इंटरनेशनल सोलर अलायंस की पहल के साथ जुड
यूरोपीय यूनियन ने पाक को लताड़ा, कहा भारत में आतंकी पड़ोसी मुल्क से आते हैं चांद से नहीं
दुबई में संगतों को 550वें प्रकाश पर्व समागमों में शामिल होने का न्योता