समाचार ब्यूरो
25/09/2019  :  10:20 HH:MM
ह्रश्वयाज की कीमतें अगले कुछ दिनों में कम होंगी : तोमर
Total View  56

नई दिल्ली कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने मंगलवार को कहा कि ह्रश्वयाज की कीमतें अगले कुछ दिनों में कम हो जाएगी। देश के कुछ भागों में इस समय में 70-80 रुपये प्रति किलोग्राम के आसपास चल रहे हैं। उन्होंने कहा कि नेफेड जैसी एजेंसियों के माध्यम से ह्रश्वयाज की आपूर्ति बढ़ाई जा रही है। महाराष्ट्र देश के प्रमुख ह्रश्वयाज उत्पादक राज्य में बाढ़ के कारण मंडियों में आपूर्ति प्रभावित हुई है। इस कारण ह्रश्वयाज के दामों में तेजी आयी है।

पिछले सप्ताह की बारिश ने आपूर्ति को और प्रभावित किया है, जिसके कारण राष्ट्रीय राजधानी और देश के अन्य हिस्सों में ह्रश्वयाज के दाम चढ़ कर 70-80 रुपये प्रति किलोग्राम तक पहुंच गए गए हैं। तोमर ने किसानों के लिए दो मोबाइल ऐप की पेशकश करने के बाद कहा, अगले कुछ दिनों में ह्रश्वयाज की स्थिति में सुधार होगा। सहकारी संस्था नाफेड केंद्रीय बफर स्टॉक से कम कीमत पर अपना स्टॉक बाजार में ला रहा है। हमारे पास ह्रश्वयाज का पर्याप्त स्टॉक है।’’ उन्होंने कहा कि सरकार ह्रश्वयाज की स्थिति से अवगत है और वह किसानों और उपभोक्ताओं दोनों के हित में संतुलन कायम करने के उपाय कर रही है। तोमर ने कहा,कई बार, उपभोक्ताओं को कृषि वस्तुओं के लिए अधिक कीमत चुकानी पड़ती है, और कई बार किसानों को उनकी उपज के लिए कम कीमत मिलती है। इसमें संतुलन कायम करने में हमारी भूमिका है। हम इसकी जानकारी है और हम विभिन्न उपाय कर रहे हैं। व्यापारियों ने आगे कहा कि देश में पिछले साल के भंडारित ह्रश्वयाज की पर्याप्त आपूर्ति हो रही है, लेकिन भारी बारिश के कारण इसका परिवहन प्रभावित हुआ है। केंद्र सरकार ने
दिल्ली और देश के अन्य भागों में ह्रश्वयाज की कीमतें कम करने के कई उपाय किए हैं। सरकार नाफेड तथा राष्ट्रीय सहकारी उपभोक्ता फेडरेशन ऑफ इंडिया (एनसीसीएफ) जैसी एजेंसियों के माध्यम से अपने बफर स्टॉक से ह्रश्वयाज को बाजार में ला रही है। सरकारी उपक्रम मदर डेयरी पर इस 23.90 रुपये प्रति किलो के भाव से बेचा जा रहा है। राज्य सरकारों से कहा गया है कि वे केंद्रीय बफर स्टॉक से अपना स्टॉक उठाकर अपने राज्यों में आपूर्ति को बढ़ायें। अभी तक दिल्ली, त्रिपुरा और आंध्र प्रदेश जैसे कुछ राज्यों ने इस बारे में रुचि दर्शायी है। केंद्र के पास 56,000 टन ह्रश्वयाज का बफर स्टॉक है, जिसमें से अबतक 16,000 टन को मंडी में लाया जा चुका है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   8369772
 
     
Related Links :-
महिंद्रा ब्लेजो ने लांच के 3 साल में कुशल ट्रक के रूप में स्थापित किया
शहरों में बड़ी जमीने खाली रखने वालों पर लगेगा टैक्स : योगेंद्र यादव
कांग्रेस प्रत्याशी संजय अग्रवाल का पलवार भाजपा सरकार ने अर्थव्यवस्था की धज्जियां उड़ा दी है
ट्राइसिटी में मैनेजमेंट ट्रेनी से लेकर महाप्रबंधक तक
हीरो इलेक्ट्रिक ने स्कूटरों की रेंज में आकर्षक ऑफर पेश किया
टाटा मोटर्स ने ग्राहक संवाद कार्यक्रम और सर्विस कैम्‍पेन की घोषणा की
उपभोक्ताओं की मांग पर पारले प्रोडक्टस वापस लाए रोला कोला
पैनासोनिक ने की 16 नए आउटलेट्स खोलने की घोषणा
बुनियादी असुविधाएं बन रहीं महिला व्यापारियों के लिए बेडिय़ा
एफबीबी ने नए अभियान ‘एफ बीबी हैज इट ऑल’ का ऐलान किया