समाचार ब्यूरो
25/09/2019  :  10:39 HH:MM
बाजरा की सरकारी खरीद एक अक्टूबर से होगी शुरू
Total View  69

गुरुग्राम जिला में बाजरा की सरकारी खरीद एक अक्टूबर से शुरू होगी लेकिन सरकारी ऐजेंसियों द्वारा बाजरा केवल उन्हीं किसानों का खरीदा जाएगा जिन्होंने मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन करवाया है। इस संबंध में जानकारी आज मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजेश खुल्लर तथा खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव एस एन रॉय द्वारा ली गई वीडियों कॉन्फ्रेंस बैठक में दी गई।
मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव वी उमाशंकर इस बैठक में गुरूग्राम से शामिल हुए। बैठक में उमाशंकर ने बताया कि इस बार एक किसान का एक दिन में 40 क्विंटल बाजरे की खरीद की जाएगी। उन्होंने बताया कि इस खरीद को सुचारू बनाने के लिए उपायुक्तों को तीन बिंदुओं पर ध्यान देना है जिनमें एक, शुक्रवार तक गांव वार खरीद की रोटेशन सूची बनवाकर हरियाणा राज्य कृषि विपणन बोर्ड के मुख्य प्रशासक के पास भिजवा दें और दूसरा, किला नंबर वैरिफाई करवा लें। इसके अलावा तीसरा बिंदु, मण्डी के गेट पर गेट पास सुविधा पर निगरानी रखें। उन्होंने बताया कि इस बार बाजरे की खरीद की ऐसी व्यवस्था की गई है कि गांव वार रोटेशन सूची कृषि विपणन बोर्ड के मुख्यालय पहुंचने के बाद मेरी फसल-मेरा ब्योरा पोर्टल में रजिस्टर किसान के पास उसके मोबाइल फोन पर एसएमएस चला जाएगा कि उसे किस दिन मण्डी में अपनी बाजरे की फसल लेकर आना है। उन्होंने बताया कि मण्डी के गेट पर जब किसान जब किसान अपनी फसल लेकर आएगा तो उसे केवल अपना मोबाइल नंबर बताना है, उसे गेट पास मिल जाएगा। इस प्रक्रिया में किसी को जमीन की फरद या अन्य कागज लाने की जरूरत नहीं है। जिस किसान ने पोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन नहीं करवाया, उसका बाजरा सरकारी ऐजेंसी द्वारा नहीं खरीदा जाएगा। खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव एस एन रॉय ने बताया कि बाजरा, मक्का तथा धान की खरीद शुरू करने के लिए उन्होंने निर्वाचन आयोग से मंजूरी ले ली है। उन्होंने बताया कि बाजरा और मक्का की खरीद आगामी एक अक्टूबर से शुरू कर दी जाएगी तथा धान की खरीद उससे अगले तीन-चार दिन में शुरू होगी। उन्होंने कहा कि बाजरे की खरीद के लिए 8 क्विंटल प्रति एकड़ की सीमा निर्धारित की गई है और राजस्व विभाग द्वारा पटवारियों के माध्यम से फसलों की ई-गिरदावरी करवाई गई है जिसमें पूरा विवरण ऑनलाईन उपलब्ध है कि कौन से किला नंबर में कौन सी फसल की बिजाई की गई थी। उन्होंने यह भी बताया कि पिछली बार प्रदेश में लगभग 1.8 लाख मीट्रिक टन बाजरे की खरीद की गई थी जबकि अबकि बार 6 लाख मीट्रिक टन बाजरे की खरीद करने का लक्ष्य रखा गया है। इस बैठक में गुरुग्राम के उपायुक्त अमित खत्री ने बताया कि गुरुग्राम जिला में बाजरा की सरकारी खरीद जिला की चार मण्डियों में की जाएगी जिनमें हेलीमण्डी, फरूखनगर, गुरुग्राम तथा सोहना की मण्डियां शामिल हैं। गुरुग्राम जिला में मक्का और धान की फसल नहीं होने के कारण यहां इन फसलों की सरकारी खरीद नहीं होगी।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   7629013
 
     
Related Links :-
महिंद्रा ब्लेजो ने लांच के 3 साल में कुशल ट्रक के रूप में स्थापित किया
शहरों में बड़ी जमीने खाली रखने वालों पर लगेगा टैक्स : योगेंद्र यादव
कांग्रेस प्रत्याशी संजय अग्रवाल का पलवार भाजपा सरकार ने अर्थव्यवस्था की धज्जियां उड़ा दी है
ट्राइसिटी में मैनेजमेंट ट्रेनी से लेकर महाप्रबंधक तक
हीरो इलेक्ट्रिक ने स्कूटरों की रेंज में आकर्षक ऑफर पेश किया
टाटा मोटर्स ने ग्राहक संवाद कार्यक्रम और सर्विस कैम्‍पेन की घोषणा की
उपभोक्ताओं की मांग पर पारले प्रोडक्टस वापस लाए रोला कोला
पैनासोनिक ने की 16 नए आउटलेट्स खोलने की घोषणा
बुनियादी असुविधाएं बन रहीं महिला व्यापारियों के लिए बेडिय़ा
एफबीबी ने नए अभियान ‘एफ बीबी हैज इट ऑल’ का ऐलान किया