Breaking News
फाइन आर्टस एसोएिसशन ने अपनी मांगों को लेकर डिप्टी सीएम से मुलाकात की  |  शीरा घोटाला और सुगर मिल मामलों में मुख्यमंत्री की क्लीन के विरोध में बलराज कुण्डू का समर्थन वापसी का ऐलान  |   दिल्ली हिंसा पर गुर्जर समाज की पंचायत, मदद का दिया भरोसा  |  सैलजा ने अवैध निर्माण, वन्य जीवों की मौत, पेड़ों की अवैध कटाई जैसे मुद्दे पर मुख्यमंत्री को पत्र लिख कर चिंत्ता जताईं  |  बेरोजगारी खत्म करने के लिए बजट में उद्योगों को ज्यादा से ज्यादा सुविधा दी जाए : बजरंग गर्ग  |  सरकार द्वारा विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग में एक कमेटी का गठन करने का निर्णय लिया गया : अनिल विज  |  सेंसेक्स 143 अंक गिरा  |  चेन्नइयन का मुकाबला गोवा से  |  
 
17/10/2019  :  10:42 HH:MM
कार्तिक मास में ऐसे मिलेगी मां लक्ष्मी की कृपा
Total View  763

कार्तिक मास भगवान विष्णु को अत्यंत प्रिय है। इसलिए मां लक्ष्मी को भी अत्यंत प्रिय है। इसी महीने भगवान विष्णु योग निद्रा से जागते हैं और सृष्टि में आनंद और कृपा की वर्षा होती है। इस महीने में मां लक्ष्मी धरती पर भ्रमण करती हैं और भक्तों को अपार धन देती हैं।
मां लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए ही इस महीने धन त्रयोदशी, दीपावली और गोपाष्टमी मनाई जाती है। इस महीने विशेष पूजा और प्रयोग करके आप आने वाले समय के लिए अपार धन पा सकते हैं और कर्ज तथा घाटे से मुक्त हो सकते हैं। वैसे तो कार्तिक मास में मां लक्ष्मी की कृपा के लिए दीपावली जैसा बड़ा पर्व मनाया जाता है। फिर भी कार्तिक मास में हर दिन मां लक्ष्मी की कृपा पाने के उपाय किए जाने चाहिए। कार्तिक मास में रोज रात्रि को भगवान विष्णु और लक्ष्मी जी की संयुक्त पूजा करें। गुलाबी या चमकदार वस्त्र धारण करके उपासना करें। पारिवारिक और वैवाहिक जीवन के लिए तुलसी की पूजा सबसे उत्तम मानी जाती है और तुलसी के पौधे के रोपण तथा पूजन के लिए सबसे अच्छा महीना कार्तिक का ही होता है। कार्तिक मास में किसी भी दिन, बेहतर होगा शुरुआत में ही तुलसी का पौधा ले आएं और घर में रोपण करें। अब नित्य सायंकाल इस पौधे के नीचे घी का या तिल के तेल का दीपक जलाएं। सुखद पारिवारिक जीवन और वैवाहिक जीवन के लिए प्रार्थना करें।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   4007232
 
     
Related Links :-
108 कुंडिया गौ संवर्धन गायत्री महायज्ञ का आयोजन एक से
भगवान विश्वकर्मा के दिखाए मार्ग और शिक्षाओं पर चलना चाहिए : कल्याण
मंदिर मॉडल टाउन समालखा में गोवर्धन पूजा की गई
श्रीमदभगवद् गीता की भूमिका पर सेमिनार का आयोजन
बनासकांठा का नाडेश्वरी माता का मंदिर है आस्था का केन्द्र
शरद पूर्णिमा का है विशेष महत्व
सेक्टर-9 ए में मनाया गया दशहरा
प्रभु को प्रेम भाता है क्रोध और अभिमान नहीं : प्रदीप कृष्ण शास्त्री
विजयदशमी : हुआ रावण का अंत
नवरात्रि पर्व का सातवां दिन : आज करें मां कालरात्रि की पूजा