Breaking News
भाजपा ने महज 10 महीने में कांग्रेस से हथिया ली दो राज्यों की सत्ता   |  अवैध रूप से सीएंडडी वेस्ट डंपिंग करने वालों पर की जा रही है कार्रवाई  |  कोराना (कोविड-19) से स्वच्छता, सतर्कता व जागरुकता ही बचाव : नरेश नरवाल  |  आज का देश की महिलाओं व हमारी बच्ची के लिए ऐतिहासिक दिन है : बजरंग गर्ग  |  कोविड 2019 संक्रमण को फैलने से रोकने के उपायों के बारे में आम जनता को ज्यादा से ज्यादा जागरूक करें : उपायुक्त  |  संदिग्ध मरीजों के लिए गुरुग्राम जिला में 22 आइसोलेटिड वार्ड तथा 4 क्वारंर्टाइन सुविधा बनाई गई  |  स्वयंसेवी संस्थाओं द्वारा संक्रमण से बचने के लिए लोगों को जागरूक किया जा रहा है  |  भाजपा ने प्रदेश पदाधिकारियों तथा प्रदेश मोर्चा अध्यक्षों की घोषणा की   |  
 
 
समाचार ब्यूरो
21/10/2019  :  12:31 HH:MM
पेटीएम की केवाईसी के नाम पर ठगे साढ़े तीन लाख रुपए
Total View  874

गुरुग्राम शहर से ठगी करने का एक बड़ा मामला सामने आया है। यहां मोबाइल वॉलेट पेटीएम की केवाईसी (नो योअर कस्टमर) करने के नाम पर 3 लाख रुपए की ठगी की गई। दरअसल, मोबाइल में एक अन्य ऐप डाउनलोड करवाकर खाते से करीब साढ़े 3 लाख रुपये ट्रांसफर कर लिए गए।

मामले में शिकायत मिलने पर प्राथमिक जांच के बाद साइबर क्राइम थाना पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है। पुलिस ने बताया कि, सेक्टर-12 निवासी मनीष गुप्ता ने मामले की शिकायत दी है। आरोप है कि कुछ दिन पहले उनके मोबाइल पर एक कॉल आया और
उसने कहा कि आपने अपने पेटीएम वॉलेट की केवाईसी नहीं कराई है। आगे अगर मोबाइल वॉलेट ऐप का प्रयोग करना है तो केवाईसी कराना जरूरी है। इसके लिए उसने मोबाइल पर टीम क्विक सपोर्ट ऐप डाउनलोड करने को कहा। शिकायतकर्ता ने ह्रश्वले स्टोर से यह ऐप डाउनलोड की और फिर डेबिट कार्ड का प्रयोग कर 10 रुपये ट्रांसफर करने को कहा गया। इस दौरान एक्सिस बैंक के डेबिट कार्ड का प्रयोग कर शिकायतकर्ता ने पेटीएम वॉलेट के जरिये 10 रुपये आरोपित के पेटीएम पर ट्रांसफर कर दिए। फिर उसने कॉल होल्ड करने को कहा, लेकिन इसी  दौरान खाते से 3 लाख 54 हजार 871 कट गए। इस बारे में शिकायतकर्ता को मेसेज के जरिये पता चला। पेयू व पेटीएम ऐप वॉलेट में ये रुपये ट्रांसफर हुए। इसके बाद 14 अक्टूबर को मामले की शिकायत पुलिस को दी गई। साइबर क्राइम थाना पुलिस ने प्राथमिक जांच में मामला  सही पाया। इसके बाद शुक्रवार को मामले में अज्ञात के खिलाफ धोखाधड़ी व आईटी एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। पुलिस प्रवक्ता सुभाष बोकन ने बताया कि मोबाइल नंबर व अन्य डिटेल लेकर जांच की जा रही है। जल्द ही जांच पूरी कर आरोपित ठगों को पकड़ लिया जाएगा।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   3578702
 
     
Related Links :-
घर बैठे पुलिस वेरिफिकेशन रिपोर्ट उपलब्ध कराने वाला, हरियाणा पहला प्रदेशः एडीजीपी एएस चावला
हरियाणा एसटीएफ को मिली बडी कामयाबी
घरौंडा-चार दिन में चार यौन शोषण की घटनाएं आई सामने
देश के 47 वें सीजेआई के रुप में 18 को शपथ लेंगे जस्टिस बोबड
घर का ताला तोड़ डेढ़ लाख पर हाथ साफ कर गए चोर
आतंकियों ने शोपियां में सेब लेने गए दो ट्रक चालकों की हत्या की
सर्विस लेन पर लगने वाला जाम लोगों के लिए सिरदर्द बना
हाईकोर्ट का फरमान रात 8 से 10 बजे के बीच ही छोड़ सकेंगे पटाखे
ग्रैप के 19 उल्लघनकर्ताओं पर 11,2500 रुपए का जुर्माना
सर्विस लेन पर लगने वाला जाम लोगों के लिए सिरदर्द बना