Breaking News
भाजपा ने महज 10 महीने में कांग्रेस से हथिया ली दो राज्यों की सत्ता   |  अवैध रूप से सीएंडडी वेस्ट डंपिंग करने वालों पर की जा रही है कार्रवाई  |  कोराना (कोविड-19) से स्वच्छता, सतर्कता व जागरुकता ही बचाव : नरेश नरवाल  |  आज का देश की महिलाओं व हमारी बच्ची के लिए ऐतिहासिक दिन है : बजरंग गर्ग  |  कोविड 2019 संक्रमण को फैलने से रोकने के उपायों के बारे में आम जनता को ज्यादा से ज्यादा जागरूक करें : उपायुक्त  |  संदिग्ध मरीजों के लिए गुरुग्राम जिला में 22 आइसोलेटिड वार्ड तथा 4 क्वारंर्टाइन सुविधा बनाई गई  |  स्वयंसेवी संस्थाओं द्वारा संक्रमण से बचने के लिए लोगों को जागरूक किया जा रहा है  |  भाजपा ने प्रदेश पदाधिकारियों तथा प्रदेश मोर्चा अध्यक्षों की घोषणा की   |  
 
 
समाचार ब्यूरो
24/10/2019  :  09:33 HH:MM
हाईकोर्ट का फरमान रात 8 से 10 बजे के बीच ही छोड़ सकेंगे पटाखे
Total View  862

चंडीगढ़ पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट ने हरियाणा, पंजाब और चंडीगढ़ में गुरुपर्व व दिवाली पर पटाखे चलाने के लिए रात 8 से 10 बजे का समय तय किया है। हाईकोर्ट ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट गत वर्ष रात से 8 बजे 10 बजे के बीच ही पटाखे और आतिशबाजी चलाने का समय निर्धारित कर चुका है लिहाजा इस वर्ष भी सुप्रीम कोर्ट के आदेशों के तहत दिवाली के दिन पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में इन्हीं दो घंटों के बीच पटाखे चलाने की इजाजत होगी। 2017 में बढ़ते ध्वनि और वायु प्रदूषण के चलते हाईकोर्ट ने संज्ञान लेकर मामले पर सुनवाई आरंभ की थी। गत वर्ष हाईकोर्ट ने शाम साढ़े 6 से रात साढ़े 9 बजे के बीच तीन घंटे के लिए पटाखे चलाने की इजाजत दी थी।

हाईकोर्ट के इस आदेश के बाद सुप्रीम कोर्ट ने दिवाली की रात 8 से 10 बजे के बीच ही पटाखे चलाने के आदेश जारी कर दिए थे। हाईकोर्ट ने कहा कि गत वर्ष सुप्रीम कोर्ट ने जो समय तय किया था, उसी समय के बीच ही इस वर्ष दिवाली की रात पटाखे चलाने की इजाजत
होगी। दिवाली से पहले और उसके बाद पटाखे चलाने पर पूरी तरह से पाबंदी रहेगी। आदेशों को लागू कराने की जि मेदारी पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ के संबंधित डीसी, एसएसपी/एसपी को सौंपी गई है। अधिकारी तय करेंगे कि हाईकोर्ट के इन आदेशों का उल्लंघन न हो पाए। गत वर्ष भी हाईकोर्ट ने आदेश दिए थे कि कोई भी व्यक्ति दिवाली से पहले और बाद में पटाखे न चलाए और सिर्फ दिवाली की रात 8 से 10 बजे के बीच ही पटाखे चलाए जाएं। वर्ष 2017 में हाईकोर्ट ने वर्ष 2016 में जारी टेंपरेरी लाइसेंस की तुलना में सिर्फ 20 प्रतिशत लाइसेंस जारी करने के आदेश दिए थे। उतने ही लाइसेंस इस वर्ष भी पटाखे बेचने के लिए जारी करने के आदेश हाईकोर्ट ने दिए हैं। इसके साथ ही हाईकोर्ट ने पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ को पटाखे बेचने के परमानेंट लाइसेंस तय कानून के तहत दिए जाने के आदेश दे दिए हैं।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   3966084
 
     
Related Links :-
घर बैठे पुलिस वेरिफिकेशन रिपोर्ट उपलब्ध कराने वाला, हरियाणा पहला प्रदेशः एडीजीपी एएस चावला
हरियाणा एसटीएफ को मिली बडी कामयाबी
घरौंडा-चार दिन में चार यौन शोषण की घटनाएं आई सामने
देश के 47 वें सीजेआई के रुप में 18 को शपथ लेंगे जस्टिस बोबड
घर का ताला तोड़ डेढ़ लाख पर हाथ साफ कर गए चोर
आतंकियों ने शोपियां में सेब लेने गए दो ट्रक चालकों की हत्या की
सर्विस लेन पर लगने वाला जाम लोगों के लिए सिरदर्द बना
ग्रैप के 19 उल्लघनकर्ताओं पर 11,2500 रुपए का जुर्माना
सर्विस लेन पर लगने वाला जाम लोगों के लिए सिरदर्द बना
आईएनएक्स मीडिया भ्रष्टाचार मामले में चिदंबरम को दी जमानत लेकिन एक अन्य मामले में अभी रहना होगा जेल में