Breaking News
भाजपा ने महज 10 महीने में कांग्रेस से हथिया ली दो राज्यों की सत्ता   |  अवैध रूप से सीएंडडी वेस्ट डंपिंग करने वालों पर की जा रही है कार्रवाई  |  कोराना (कोविड-19) से स्वच्छता, सतर्कता व जागरुकता ही बचाव : नरेश नरवाल  |  आज का देश की महिलाओं व हमारी बच्ची के लिए ऐतिहासिक दिन है : बजरंग गर्ग  |  कोविड 2019 संक्रमण को फैलने से रोकने के उपायों के बारे में आम जनता को ज्यादा से ज्यादा जागरूक करें : उपायुक्त  |  संदिग्ध मरीजों के लिए गुरुग्राम जिला में 22 आइसोलेटिड वार्ड तथा 4 क्वारंर्टाइन सुविधा बनाई गई  |  स्वयंसेवी संस्थाओं द्वारा संक्रमण से बचने के लिए लोगों को जागरूक किया जा रहा है  |  भाजपा ने प्रदेश पदाधिकारियों तथा प्रदेश मोर्चा अध्यक्षों की घोषणा की   |  
 
22/02/2020  :  19:34 HH:MM
हरियाणा सरकार ने लगाई शूटर फिल्म पर रोक
Total View  813

हाईकोर्ट के निर्देश के बाद गृहमंत्रालय ने जारी किए आदेश गृह विभाग ने सभी पुलिस अधीक्षकों को जारी किए निर्देश

चंडीगढ़। पंजाब सरकार के बाद अब हरियाणा ने भी विवादित फिल्म शूटर पर रोक लगा दी है। सरकार ने यह फैसला पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट के दिशा-निर्देश पर लिया है। निर्माता निर्देशक केवी ढिल्लों ने पंजाब के नामी गैंगस्टर सुखा काहलवां के जीवन पर एक फिल्म का निर्माण किया है।
पहले इस फिल्म का नाम सुखा था, लेकिन पंजाब सरकार द्वारा चेताने के बाद फिल्म के निर्माता निर्देशक ने कुछ समय पहले मोहाली के एसएसपी के समक्ष पेश होकर उन्हें लिखित में आश्वासन देते हुए कहा था कि वह न केवल फिल्म का नाम बदलेंगे बल्कि इसमें सुखा काहलवां के जीवन से संबंधित विवादित दृश्यों को भी शामिल नहीं करेंगे। इसके बावजूद यह फिल्म न केवल बन चुकी है बल्कि गत दिवस रिलीज भी हो चुकी है। फिल्म के प्रोमो में ङ्क्षहसा, घिनौने अपराध, जबरन वसूली आदि जैसे कई ऐसे दृश्य पंजाब पर केंद्रित करके फिल्माए गए हैं जिस पर सरकार का आपत्ति है। हालही में पंजाब विश्वविद्यालय चंडीगढ़ के एक छात्र संगठन ने भी इस फिल्म का विरोध किया था। सुखा काहलवां ने लंबे समय तक पंजाब में एक बड़े गैंग का नेतृत्व किया है। सुखा काहलवां को कई नौजवान कथित तौर पर अपना आदर्श भी मानने लगे थे और पंजाब व हरियाणा के कई कालेजों में उनके नाम के पोस्टर तक चस्पा होने लगे थे। गैंगवार में सुखा की हत्या के बाद केवी ढिल्लों ने फिल्म बनाने का ऐलान किया था। जिस पर पंजाब सरकार ने दो सप्ताह पहले रोक लगाई थी। इसके बाद चंडीगढ़ के वकील एचसी अरोड़ा ने हाईकोर्ट में याचिका दायर करके हरियाणा व चंडीगढ़ में रोक लगाने की मांग की थी। हाईकोर्ट ने हरियाणा सरकार को निर्देश दिए थे कि वह प्रदेश की कानून-व्यवस्था का रिव्यू करके अपने स्तर पर फैसला करे। जिसके चलते गृहमंत्री ने प्रदेश के सभी पुलिस अधीक्षकों तथा जिला उपायुक्तों को निर्देश दिए हैं कि वह अपने कार्यक्षेत्रों में यह यकीनी बनाएं कि शूटर फिल्म का प्रदर्शन न हो। इस संबंध में पुलिस अधीक्षकों को निर्देश दिए गए हैं कि वह अपने-अपने क्षेत्रों में चल रहे सिनेमाघरों की निगरानी रखें।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   3172324
 
     
Related Links :-
भाजपा ने महज 10 महीने में कांग्रेस से हथिया ली दो राज्यों की सत्ता
अवैध रूप से सीएंडडी वेस्ट डंपिंग करने वालों पर की जा रही है कार्रवाई
कोराना (कोविड-19) से स्वच्छता, सतर्कता व जागरुकता ही बचाव : नरेश नरवाल
आज का देश की महिलाओं व हमारी बच्ची के लिए ऐतिहासिक दिन है : बजरंग गर्ग
कोविड 2019 संक्रमण को फैलने से रोकने के उपायों के बारे में आम जनता को ज्यादा से ज्यादा जागरूक करें : उपायुक्त
संदिग्ध मरीजों के लिए गुरुग्राम जिला में 22 आइसोलेटिड वार्ड तथा 4 क्वारंर्टाइन सुविधा बनाई गई
स्वयंसेवी संस्थाओं द्वारा संक्रमण से बचने के लिए लोगों को जागरूक किया जा रहा है
भाजपा ने प्रदेश पदाधिकारियों तथा प्रदेश मोर्चा अध्यक्षों की घोषणा की
मारपीट कर लूटपाट करने वाले फरार तीसरे आरोपी को भी पुलिस ने पकड़कर भेजा जेल
आम जनता और निवेशकों में विश्वास पैदा करने की जरूरत: संजय बी चोरड़िया