Breaking News
भाजपा ने महज 10 महीने में कांग्रेस से हथिया ली दो राज्यों की सत्ता   |  अवैध रूप से सीएंडडी वेस्ट डंपिंग करने वालों पर की जा रही है कार्रवाई  |  कोराना (कोविड-19) से स्वच्छता, सतर्कता व जागरुकता ही बचाव : नरेश नरवाल  |  आज का देश की महिलाओं व हमारी बच्ची के लिए ऐतिहासिक दिन है : बजरंग गर्ग  |  कोविड 2019 संक्रमण को फैलने से रोकने के उपायों के बारे में आम जनता को ज्यादा से ज्यादा जागरूक करें : उपायुक्त  |  संदिग्ध मरीजों के लिए गुरुग्राम जिला में 22 आइसोलेटिड वार्ड तथा 4 क्वारंर्टाइन सुविधा बनाई गई  |  स्वयंसेवी संस्थाओं द्वारा संक्रमण से बचने के लिए लोगों को जागरूक किया जा रहा है  |  भाजपा ने प्रदेश पदाधिकारियों तथा प्रदेश मोर्चा अध्यक्षों की घोषणा की   |  
 
27/02/2020  :  19:07 HH:MM
दिल्ली हिंसा पर गुर्जर समाज की पंचायत, मदद का दिया भरोसा
Total View  76


फरीदाबाद, फरीदाबाद सेक्टर-16 स्थित गुर्जर भवन में गुरुवार को गुर्जर समाज की एक पंचायत हुई। पंचायत में दिल्ली-एनसीआर के शहरों से पहुंचे गुर्जर समाज के लोगों ने दिल्ली में हुई हिंसा पर चिंता व्यक्त की गई। उनका कहना था कि दिल्ली में हुई हिंसा में गुर्जर समाज का सबसे अधिक नुकसान हुआ है। समाज के लोग एक-दूसरे की मदद के लिए तत्पर रहेंगे। दिल्ली में अधिकांश गांव गुर्जर बाहुल्य हैं। सरकार को उपद्रवियों के साथ सख्ती से निपटना चाहिए। पंचायत में आए लोगों ने कहा कि शाहीन बाग आंदोलन के कारण लोगों को खासी दिक्कत हो रही है। कुछ लोगों ने सीएए के विरोध के नाम पर दिल्ली को बंधक बनाया हुआ है। सरकार को कानून-व्यवस्था कायम करते हुए शाहीन बाग की सड़क को तुरंत खाली कराया जाना चाहिए। ज्ञात हो कि उत्तर-पूर्वी दिल्ली में नागरिकता (संशोधन) कानून (सीएए) को लेकर हुई साम्प्रदायिक हिंसा में मारे गए लोगों की संख्या बढ़कर 34 हो गई है। यह संख्या बुधवार तक 27 थी, जिसमें से 25 लोगों की मौत दिलशाद गार्डन स्थिति जीटीबी अस्पाल में हुई थी। दिल्ली स्वास्थ्य विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि जीटीबी अस्पताल में पांच और एलएनजेपी में एक और व्यक्ति की मौत हो गई। जग प्रवेश चंद्र अस्पताल में भी गुरुवार को एक व्यक्ति ने दम तोड़ दिया, जिससे कुल मृतक संख्या 34 तक पहुंच गई। लोक नायक जय प्रकाश नारायण अस्पताल (एलएनजेपी) में बुधवार को एक व्यक्ति की मौत इलाज के दौरान हो गई थी और एक को वहां लाते ही डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया था। अस्पताल में मौजूद अधिकारियों ने बताया कि एलएनजेपी में हिंसा के बाद उत्तर-पूर्वी दिल्ली के विभिन्न हिस्सों से 50 से अधिक लोगों को लाया गया था। उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा में 200 से अधिक लोग घायल हुए हैं।

दिल्ली हिंसा पर हरियाणा सरकार के मंत्री ने कहा, दंगे होते रहे हैं, पहले भी होते रहे हैं

चंडीगढ़, दिल्‍ली हिंसा पर हरियाणा सरकार में मंत्री और निर्दलीय विधायक रंजीत चौटाला ने विवादित बयान दिया है। चौटाला ने गुरुवार को कहा कि दंगे होते रहे हैं, पहले भी होते रहे हैं, ऐसा नहीं है। जब पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्‍या हुई,तब भी पूरी दिल्‍ली जलती रही। यह सब जीवन का हिस्‍सा है, जो होते रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि सरकार मुस्‍तैदी से अपना काम कर रही है। सरकार मुस्‍तैदी से नियंत्रण कर रही है। कर्फ्यू लगा दिया गया है। इसमें इतना इसकारण हुआ क्‍योंकि यह दिल्‍ली का मामला है। रंजीत के इस बयान के बाद अब राजनीति गरमा सकती है। चौटाला हरियाणा के एकमात्र निर्दलीय विधायक हैं। बता दें कि नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में उपद्रवियों की हिंसा के बाद गुरुवार को पांचवें दिन अधिकतर इलाकों में तनावपूर्ण शांति है।गुरुवार को फिलहाल हिंसा की खबर नहीं मिली है।बुधवार को एनएसए अजीत डोभाल और सीएम अरविंद केजरीवाल ने भी इलाके का दौरा किया था। हिंसा में अब तक 36 जानें गई हैं। घायलों की तादाद 200 के पार पहुंच गई है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   1315824
 
     
Related Links :-
भाजपा ने महज 10 महीने में कांग्रेस से हथिया ली दो राज्यों की सत्ता
अवैध रूप से सीएंडडी वेस्ट डंपिंग करने वालों पर की जा रही है कार्रवाई
कोराना (कोविड-19) से स्वच्छता, सतर्कता व जागरुकता ही बचाव : नरेश नरवाल
आज का देश की महिलाओं व हमारी बच्ची के लिए ऐतिहासिक दिन है : बजरंग गर्ग
कोविड 2019 संक्रमण को फैलने से रोकने के उपायों के बारे में आम जनता को ज्यादा से ज्यादा जागरूक करें : उपायुक्त
संदिग्ध मरीजों के लिए गुरुग्राम जिला में 22 आइसोलेटिड वार्ड तथा 4 क्वारंर्टाइन सुविधा बनाई गई
स्वयंसेवी संस्थाओं द्वारा संक्रमण से बचने के लिए लोगों को जागरूक किया जा रहा है
भाजपा ने प्रदेश पदाधिकारियों तथा प्रदेश मोर्चा अध्यक्षों की घोषणा की
मारपीट कर लूटपाट करने वाले फरार तीसरे आरोपी को भी पुलिस ने पकड़कर भेजा जेल
आम जनता और निवेशकों में विश्वास पैदा करने की जरूरत: संजय बी चोरड़िया