Breaking News
भाजपा ने महज 10 महीने में कांग्रेस से हथिया ली दो राज्यों की सत्ता   |  अवैध रूप से सीएंडडी वेस्ट डंपिंग करने वालों पर की जा रही है कार्रवाई  |  कोराना (कोविड-19) से स्वच्छता, सतर्कता व जागरुकता ही बचाव : नरेश नरवाल  |  आज का देश की महिलाओं व हमारी बच्ची के लिए ऐतिहासिक दिन है : बजरंग गर्ग  |  कोविड 2019 संक्रमण को फैलने से रोकने के उपायों के बारे में आम जनता को ज्यादा से ज्यादा जागरूक करें : उपायुक्त  |  संदिग्ध मरीजों के लिए गुरुग्राम जिला में 22 आइसोलेटिड वार्ड तथा 4 क्वारंर्टाइन सुविधा बनाई गई  |  स्वयंसेवी संस्थाओं द्वारा संक्रमण से बचने के लिए लोगों को जागरूक किया जा रहा है  |  भाजपा ने प्रदेश पदाधिकारियों तथा प्रदेश मोर्चा अध्यक्षों की घोषणा की   |  
 
28/02/2020  :  19:08 HH:MM
टेंडर ब्रांच क्लर्क संदीप शर्मा व क्लर्क कमलकांत को निगमायुक्त ने किया टर्मिनेट
Total View  59

दिन भर चला सिफारिश और माफ़ी का दौर, पर आयुक्त का दो टूक जवाब, चाहे किसी की भी सिफारिश आए इन्हें दोबारा मौका नहीं
सचिन सिधवानी
पानीपत। 
रेलवे रोड ‌स्थित ताऊ देवी लाल काम्पलैक्स के नगर निगम कार्यालय में काम कर रहे दो आउटसोर्स के कर्मचारियों को निगम आयुक्त ओम प्रकाश ने शुक्रवार को तुरंत प्रभाव से हमेशा के लिए सेवा मुक्त कर दिया है। इन कर्मचारियों को टर्मिनेट करने का कारण काम में लापरवाही बरतने का बताया जा रहा है। टर्मिनेट होने की भनक लगते ही दोनों कर्मचारियों ने निगम आयुक्त के पास सिफारिश और माफी का जुगाड़ लगाने में जुट गए, लेकिन निगम आयुक्त ओम प्रकाश ने साफ तौर पर दोनों कर्मचारियों को दोबारा काम पर न लेने का ऐलान कर दिया है। आयुक्त का कहना है कि दोनों कर्मचारियों की कई बार शिकायते उनके पास आती रहती थी, अबकी बार फिर से दोनों कर्मचारियों को काम में कोताही बरतते हुए पाया गया जिसके बाद उन्हें हमेशा के लिए नौकरी से निकाल दिया गया है। निगम में काम करने वाले ये दोनों कर्मचारी मैसर्ज कथूरिया मैन पॉवर सिक्योरिटी सर्विसिज के माध्यम से लगे हुए थे। इनमें टेंडर ब्रांच क्लर्क की पोस्ट पर काम करने वाले संदीप शर्मा की शिकायत मिली थी कि वह टेंडरों की फाइलों के साथ छेड़छाड़ करता था। संदीप शर्मा पर कई बार फाइलों को इधर-उधर करने के साथ साथ कई फाइलें गुम करने तक के आरोप भी लगे चुके है। इसके बाद निगम आयुक्त ने तुंरत प्रभाव से संदीप शर्मा को टर्मिनेट कर दिया है। वहीं दूसरा टर्मिनेट कर्मचारी कमलकांत भी मैसर्ज कथूरिया मैन पॉवर सिक्योरिटी सर्विसिज के माध्यम से नगर निगम में क्लर्क की पोस्ट पर काम करता था। कमलकांत पर बिना कार्यालय में सूचना दिए छुट्टी करने का आरोप मिला। कमलकांत बिना किसी वरिष्ठ अधिकारी को सूचना दिए ही कार्यालय में ताला लगाकर बाहर घूमने चला गया था। गत दिवस पहले स्वयं निगम आयुक्त को भी किसी जरूरी काम के लिए टर्मिनेट क्लार्क कमलकांत का दो तीन घंटे तक इंतजार करना पड़ा था। ऐसी शिकायतें पहले भी कई बार कमलकांत के खिलाफ मिल चुकी थी। जिस पर निगम आयुक्त ने दोनों कर्मचारियों को पहले चेतावनी भी दी थी। जिसके बाद शुक्रवार को एक बार फिर से काम में लापरवाही बरतने पर दोनों को निगम आयुक्त ओम प्रकाश ने टर्मिनेट कर हमेशा के नौकरी से निकाल दिया है।
वर्जन-
एक ने फाइल गायब की, दूसरा कार्यालय में नहीं मिला-
टेंडर ब्रांच क्लर्क संदीप शर्मा काम में बहुत ज्यादा लापरवाही बरतता था, एक फाइल तक गुम कर दी। संदीप के खिलाफ टेंडरों की फाइलों में भी छेड़छाड़ की शिकायतें मिलती रही हैं। वहीं कमकांत भी कार्यालय में सही ढंग से काम नहीं करता था। आफिस टाइम में भी कार्यालय में ताला लगाकर बाहर घूमता मिला। जिस पर आज दोनों को हमेशा के लिए नगर निगम से टर्मिनेट कर दिया है। अब किसी भी सिफारिश पर भी दोनों को वापस नहीं लिया जाएगा ।
औमप्रकाश, आयुक्त, नगर निगम, पानीपत।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   6372082
 
     
Related Links :-
भाजपा ने महज 10 महीने में कांग्रेस से हथिया ली दो राज्यों की सत्ता
अवैध रूप से सीएंडडी वेस्ट डंपिंग करने वालों पर की जा रही है कार्रवाई
कोराना (कोविड-19) से स्वच्छता, सतर्कता व जागरुकता ही बचाव : नरेश नरवाल
आज का देश की महिलाओं व हमारी बच्ची के लिए ऐतिहासिक दिन है : बजरंग गर्ग
कोविड 2019 संक्रमण को फैलने से रोकने के उपायों के बारे में आम जनता को ज्यादा से ज्यादा जागरूक करें : उपायुक्त
संदिग्ध मरीजों के लिए गुरुग्राम जिला में 22 आइसोलेटिड वार्ड तथा 4 क्वारंर्टाइन सुविधा बनाई गई
स्वयंसेवी संस्थाओं द्वारा संक्रमण से बचने के लिए लोगों को जागरूक किया जा रहा है
भाजपा ने प्रदेश पदाधिकारियों तथा प्रदेश मोर्चा अध्यक्षों की घोषणा की
मारपीट कर लूटपाट करने वाले फरार तीसरे आरोपी को भी पुलिस ने पकड़कर भेजा जेल
आम जनता और निवेशकों में विश्वास पैदा करने की जरूरत: संजय बी चोरड़िया