समाचार ब्यूरो
22/01/2017  :  16:56 HH:MM
दलित महापंचायत 22 की जगह 26 जनवरी को
Total View  350

वार्ड न. 12 (आरक्षित) सीट से भाजपा पार्षद सुमन बाला पिता श्री अलोक नाथ अरोड़ा पत्नी स्व. सचिन खेड़ा अनुसूचित जाति का फर्जी प्रमाण पत्र बनाकर मेयर बनाए जाने को लेकर दलित समाज ने सामाजिक बहिष्कार कर दिया है। समाज के लोगों का कहना है कि सुमन बाला का परिवार व ससुराल दोनों ही दलित समाज से ताल्लुक नहीं रखते है और ना ही यह लोग दलित समाज के सुख दुख में शामिल हुए है।

समाज के प्रबुद्ध लोगो का कहना है कि वर्षों बाद समाज को शहर प्रतिनिधित्व करने का अवसर आया है। मेयर पद के लिए दलित समाज से ही योगय पार्षद को ही इसकी जिम्मेदारी दी जानी चाहिए। इसको लेकर दलित समाज ने महापंचायत करने का निर्णय लिया है। जिससे सुमन बाला का सामाजिक बहिष्कार किया जा
सके। महापंचायत 26 जनवरी 2017 को ह्रश्वयाली चौक स्थित पार्क में आयोतिजत की जाएगी। जिसमें दलित समाज के सामाजिक, शिक्षित संगठन, राजनैतिक पार्टीयों के वरिष्ट नेता व प्रबुद्ध लोग पंचायत में मेयर पद का बहिष्कार करेंगे। इसके साथ ही यदि सरकार ने वार्ड 12 की पार्षद को मेयर पद दिया तो दलित समाज पूरे प्रदेश में सामाजिक स्तर पर भाजपा का पुरजोर विरोध करेगा और दलित विरोधी नितियों को जागरूक करेगा।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   9791006
 
     
Related Links :-
राजनीति के पुरोधा थे अटल बिहारी वाजपेयी : मंगत राम बागड़ी
अटल जी हम युवाओं के हमेशा प्रेरणास्रोत रहेंगे : मनीष यादव
कांग्रेसियों ने दी वाजपेयी को श्रद्धांजलि
सादगी जीवन को ऊंचा उठा पाप से बचाती है : उपेंद्र मुनि
सिद्धेश्वर स्कूल में अपने प्रिय नेता को दी अंतिम विदाई
सामाजिक न्याय मोर्चा के लोकसभा कार्यालय का उद्घाटन १९ को
यात्रियों से खचाखच भरी रोडवेज बस अनियंत्रित होकर पलटी
सरकार दे शहीद के परिवार को एक करोड़ रुपए की आर्थिक मदद : जयहिंद
लोकतंत्र सुरक्षा मंच ने दी अटल बिहारी वाजपयी जी को श्रद्धांजलि
दौगंली में धूमधाम से मनाया गया स्वतंत्रता दिवस पर कार्यक्रम