समाचार ब्यूरो
22/01/2017  :  16:56 HH:MM
दलित महापंचायत 22 की जगह 26 जनवरी को
Total View  437

वार्ड न. 12 (आरक्षित) सीट से भाजपा पार्षद सुमन बाला पिता श्री अलोक नाथ अरोड़ा पत्नी स्व. सचिन खेड़ा अनुसूचित जाति का फर्जी प्रमाण पत्र बनाकर मेयर बनाए जाने को लेकर दलित समाज ने सामाजिक बहिष्कार कर दिया है। समाज के लोगों का कहना है कि सुमन बाला का परिवार व ससुराल दोनों ही दलित समाज से ताल्लुक नहीं रखते है और ना ही यह लोग दलित समाज के सुख दुख में शामिल हुए है।

समाज के प्रबुद्ध लोगो का कहना है कि वर्षों बाद समाज को शहर प्रतिनिधित्व करने का अवसर आया है। मेयर पद के लिए दलित समाज से ही योगय पार्षद को ही इसकी जिम्मेदारी दी जानी चाहिए। इसको लेकर दलित समाज ने महापंचायत करने का निर्णय लिया है। जिससे सुमन बाला का सामाजिक बहिष्कार किया जा
सके। महापंचायत 26 जनवरी 2017 को ह्रश्वयाली चौक स्थित पार्क में आयोतिजत की जाएगी। जिसमें दलित समाज के सामाजिक, शिक्षित संगठन, राजनैतिक पार्टीयों के वरिष्ट नेता व प्रबुद्ध लोग पंचायत में मेयर पद का बहिष्कार करेंगे। इसके साथ ही यदि सरकार ने वार्ड 12 की पार्षद को मेयर पद दिया तो दलित समाज पूरे प्रदेश में सामाजिक स्तर पर भाजपा का पुरजोर विरोध करेगा और दलित विरोधी नितियों को जागरूक करेगा।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   5155926
 
     
Related Links :-
जाब के लोकसभा चुनाव के प्रभारी कैह्रश्वटन अभिमन्यु ने कहा मिशन २०१९ : पंजाब में अकाली दल से मिलकर लड़ेगी भाजपा
कालका तक के क्षेत्र को पर्यटन के तौर पर विकसित किया जाएगा : मुख्यमंत्री
‘जो कैथल, नरवाना का नहीं हुआ, वो जींद का कैसे होगा’
विशेष निदेशक राकेश अस्थाना की भी सीबीआई से छुट्टी
शादियां बनी नेताओं के लिए परेशानी का सबब
जेबीटी संघ नियुक्ति की मांग को लेकर नवचयनित उठाएंगे बड़ा कदम
लोकसभा चुनाव से पहले पंजाब में ‘आप’ को झटका आम आदमी पार्टी के जैतू विधायक मास्टर बलदेव सिंह ने छोड़ी पार्टी
तेल एवं गैस संरक्षण अभियान सक्षम 2019 शुरू
अभय सिंह चौटाला ने मायावती के जन्म दिवस पर दी बधाई
हरियाणा पुलिस के शहीदों के नाम पर खंड स्तरीय शौर्य पुरस्कार : मुख्यमंत्री