हरियाणा मेल ब्यूरो
09/03/2017  :  15:28 HH:MM
जाटों का सरकार को 17 मार्च तक का अल्टीमेटम
Total View  42

हिसार त्न आरक्षण समेत सात मांगों को लेकर 39 दिनों से हरियाणा में धरने पर बैठे जाटों ने प्रदेश सरकार को अल्टीमेटम दिया है कि 17 मार्च तक उनकी मांगें मंजूर नहीं की तो उसके बाद बातचीत के बजाय दिल्ली कूच होगा। रामायण रेलवे ट्रैक के निकट धरना स्थल पर आज पत्रकारों से बातचीत में अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के प्रदेश प्रवक्ता रामभगत मलिक ने कहा कि मुख्यमंत्री ने 10 दिन पहले घोषणा की थी कि उनके दरवाजे बातचीत के लिये खुले हैं लेकिन आज तक हमें उनके दरवाजों के रास्तों का पता नहीं चल सका कि कौन से रास्ते से उनके दरवाजे तक पहुंचना है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री बोलते कुछ हैं और करते कुछ हैं। मलिक ने कहा कि संघर्ष समिति मुख्यमंत्री को 17 मार्च तक का बातचीत का अल्टीमेटम दे रही है। यदि 17 मार्च तक श्री खट्टर या उनके मंत्री उन्हें बाचतीत के लिए बुलाएंगे तो समिति बात करने को तैयार है अन्यथा इसके बाद समिति सरकार से बात नहीं करेगी और अपने पूर्व घोषित एलान के अनुसार 20 मार्च को दिल्ली मे पड़ाव डालकर संसद का घेराव करेगी।





----------------------------------------------------

Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   7357788
 
     
Related Links :-
इंदौर में टमाटरों की सुरक्षा के लिए गार्ड तैनात !
अमरनाथ यात्रा: लोगों का जोश बरकरार
पार्टी को मजबूत बनाने वाले विस्तारकों को मिलेगी सुविधा
धुरुव और मीना ने फारसी कवी बेदिल के शेरों को सुर में बांधा
प्रणव मुखर्जी ने अदा किया सबका शुक्रिया
अनधिकृत बस्तियां और कालोनियां होगी नियमित : मुख्यमंत्री
राशन डिपोधारकों का कमीशन बढ़ाने पर विचार
दिल्ली मेट्रो के कर्मचारियों ने सोमवार की हड़ताल वापस ली
सेना, पुलिस को बांटने की देशद्रोहियों की मंशा नहीं होगी पूरी : संधू
राजग सरकार पूरी तरह से किसान विरोधी : इनेलो
 
http://buypropeciaonlinecheap.com/