समाचार ब्यूरो
29/03/2017  :  10:21 HH:MM
झज्जर जिला बनेगा फूलों का केंद्र
Total View  380

हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री ओम प्रकाश धनखड़ ने कहा कि नीदरलैंड की मदद से झज्जर जिले में फूलों का उत्कृष्टता केंद्र स्थापित किए जाने की दिशा में काम शुरू हो चुका है और गन्नौर में स्थापित की जा रही फल एवं सब्जियों के अंतरराष्ट्रीय टर्मिनस के अलावा गुरुग्राम में फूलों की मंडी स्थापित की जाएगी।

इसके अलावा, किसान को पारम्परिक खेती की बजाए पैरी एग्रीकल्चर अवधारणा की ओर बढऩा चाहिए और बाजार की मांग के अनुरूप स्वयं को ढ़ालना चाहिए। श्री धनखड़ आज फरीदाबाद में पीएचडी चैंबर ऑफ कामर्स एंड इंडस्ट्री तथा एचएसआईआईडीसी के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित तीन दिवसीय हरियाणा  इंटरनेशनल ट्रेड एक्सपो (हाईटैक्स)-2017 के समापन समारोह के अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में बोल रहे थे। कृषि मंत्री ने गन्नौर के निकट छह सौ एकड़ में अंतरराष्ट्रीय स्तर की मंडी बनाने की घोषणा करते हुए कहा कि सरकार विदेशों की तर्ज पर अपनी मंडियों को फ्रोजन, ड्राई और फ्रैश मार्केट के रूप में संचालित करना चाहती है, जिसके चलते प्रदेश की मंडियों को इंटरनेट के साथ जोड़ा जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की 12 लाख एकड़ भूमि पर सब्जी,फल,फूल की खेती को 22 लाख तक बढ़ाना सरकार का लक्ष्य है।  सरकार द्वारा 517 करोड़ की लागत से 340 बागवानी गांव विकसित किए जा रहे हैं। किसानों को इस दिशा में प्रेरित करने के हर जिले में उत्कृष्टता केंद्र खोले जा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि रोजाना 100 करोड़ के एनसीआर के बाजार को ध्यान में रखकर हरियाणा पैरी अर्बन खेती की तरफ बढ़ रहा है। प्रदेश की 1.50 लाख एकड़ भूमि सेम (सिलहन) से प्रभावित है। ऐसे क्षेत्र के किसानों के लिए कृषि के अन्य विकल्प बेहतर कारगर सिद्ध हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि कृषि के क्षेत्र में उद्योग जगत से जुड़ी अपार संभावनाएं हैं, जिसका सदुपयोग करके हम अपने उत्पादों को आसपास व विदेशों तक पहुंचा सकते हैं।

उन्होंने उपस्थित कृषि व उद्योग जगत से जुड़े प्रतिनिधियों का आहवान किया कि ऐसे समारोह की जानकारी किसानों तक अवश्य पहुंचाए ताकि वे बदलते परिदृश्य में दिल्ली और एनसीआर के 4 करोड़ लोगों की मांग को पूरा करने के लिए पैरी एग्रीकल्चर अवधारणा की ओर बढ़े और वर्ष 2022 तक प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी किसानों की आय दुगनी करने के विजन को साकार कर सकें। इससे पहले पीएचडी चैंबर ऑफ कामर्स कृषि कारोबारी कमेटी के को-चेयरमैन डॉ.आर.एस. खन्ना ने धनखड़ का यहां पहुंचने पर स्वागत किया। इस अवसर पर हरियाणा एग्रो इंडस्ट्री के चेयरमैन गोविंद भारद्वाज, विधायक महीपाल ढांडा, भाजपा प्रदेश महामंत्री संदीप जोशी, भाजपा जिला अध्यक्ष गोपाल शर्मा, हरियाणा भूमि सुधार विकास निगम के चेयरमैन, अजय गौड़ सहित कई गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   5430836
 
     
Related Links :-
बदइंतजामी और लापरवाही का दर्दनाक परिणाम है अमृतसर की घटना : गोयल
प्रजा को संतुष्ट रखने के लिए उन्होंने मां सीता को अग्नि परीक्षा देने के लिए कहा श्री राम के लिए परिवार से बड़ा राजधर्म : अलका गौरी
महिलाओं का उत्पीडऩ करने वाले रावण रूपी राक्षसों का अन्त जरूरी : रविन्द्र जैन
रोडवेज कर्मचारियों के समर्थन में कटोरा लेकर निकलेंगे नवीन जयहिंद
नवजोत सिद्धू के बचाव में आए पूर्व रेल मंत्री बंसल
जलनिकासी के कार्य की समीक्षा बैठक में बोले कृषि मंत्री जलभराव की समस्या से निपटने के लिए तेजी लाएं : धनखड
एसएफआई जिला कमेटी ने काली पट्टी बांध कर जताया रोष
रेल दुर्घटना को लेकर स्‍थानीय लोगों में रोष
राजनीति के भेंट चढ़े सुलगते सवाल
पूर्णाहूति के साथ सम्पन्न हुआ रामकथा महोत्सव