03/11/2016  :  10:47 HH:MM
पीएम ने दिया खाली झोली का तोहफा : दौलतपुरिया
Total View  348

स्थानीय इनेलो विधायक बलवान दौलतपुरिया ने स्वर्ण जयंती उपलक्ष्य में सरकार द्वारा आयोजित गुरुग्राम कार्यक्रम को पूरी तरह से सरकारी खजाने का दुरुपयोग व सीधे तौर पर प्रदेश की जनता की भावनाओं के साथ खिलवाड़ करार दिया। दौलतपुरिया ने कहा सीएम की हरियाणा के गंभीर मुद्दों के प्रति बेरुखी ही कहेंगे जो कार्यक्रम में देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के पहुंचने उपरांत भी हरियाणा को विकास के नये आयाम स्थापित करने के लिए कुछ नहीं मिला।
पीएम ने स्वर्ण जयंती के नाम पर सिर्फ और खाली झोली का तोहफा ही गुरुग्राम कार्यक्रम में दिया। स्वर्ण जयंती पर हरियाणा प्रदेश के हर जिले की तरह फतेहाबाद को भी पीएम मोदी के हरियाणा आगमन से अनेक उ मीदें थी। क्षेत्र की ऐसी तमाम उ मीदों और मांगों से उन्होंने यहां का नुमाइंदा होने के नाते मु यमंत्री एमएल खट्टर को अवगत भी करवाया, लेकिन अफसोस पीएम के समक्ष प्रदेश के सीएम एक भी ठोस मांग फतेहाबाद ही नहीं प्रदेश के किसी भी जिले के विकास हेतु नहीं रख सके। उन्होंने कहा कि सीएम खट्टर की विकास के मामले में पीएम के समक्ष इस प्रकार की चुह्रश्वपी सीधे तौर पर उनकी कार्य प्रणाली को सवालों के घेरे में खड़ा करती है। दौलतपुरिया ने स्पष्ट किया कि वे फतेहाबाद के विकास से जुड़े मुद्दों को जल्द ही एक बार फिर सीएम के समक्ष विधानसभा में जरूर रखेंगे और उनसे यह सवाल भी जरूर करेंगे कि पीएम के समक्ष उन्होंने प्रदेश के विकास से संबंधित अहम मुद्दों को हल करवाने का ठोस पक्ष क्यों नहीं रखा।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   2613604
 
     
Related Links :-
जम्मू-कश्मीर भारत का अंग, पाक की दलीलों से नहीं बदलेगी सच्चाइ
मोहाली और पंचकूला को मिलाकर बनेगा चंडीगढ़ कैपिटल रीजन
पंजाब ऑन लाईन रजिस्ट्ररियां करने वाला पहला राज्य बना
पंजाब: जेलों की सुरक्षा और होगी सख्त, सीआईएसएफ के हवाले किया जाएगा
परमाणु ऊर्जा : राष्ट्र की ऊर्जा विषय पर निबंध लेखन
गुरुग्राम-फरूखनगर ब्लॉको को शैक्षणिक रूप से सक्षम बनाने के लिए किया चिन्ह्ति
‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ अभियान के तहत जागरूकता कार्यक्रम
एसवाईएल निर्माण पर दोनों बड दलों ने राजनीति की है : चौटाला
निराकरण के लिए एकजुट प्रयास जरूरी : उपायुक्त
भारत 2019 तक ईरान में चाबहार बंदरगाह को चालू करने का होगा प्रयास : गडकरी