healthprose viagra http://tramadoltobuy.com/ http://buypropeciaonlinecheap.com/
 
 
समाचार ब्यूरो
16/04/2017  :  10:50 HH:MM
मंडी में नहीं आने दी जाएगी किसानों आढ़तियों को दिक्कत : कविता जैन
Total View  4

शहरी स्थानीय निकाय महिला एवं बाल विकास मंत्री कविता जैन ने कहा कि अनाज मंडियों में किसानों और आढ़तियों को किसी भी तरह की दिक्कत नहीं आने दी जाएगी। अगर कोई अधिकारी या एजेंसी लापरवाही करती है तो उसके खिलाफ तुरंत कार्रवाई की जाएगी।

श्रीमती जैन शनिवार को नई अनाज मंडी का दौरा कर अधिकारियों व किसानों की समस्याएं सुन रही थी। मंडी में पहुंचने पर सबसे पहले किसानों व आढ़तियों ने उनसे उठान समय पर न होने की शिकायत की। इस पर उन्होंने तुरंत एफसीआई के अधिकारी को मौके पर बुलाया और इसका कारण पूछा। इस पर उन्होंने स्थानीय
गोदाम में जगह न मिलने और दो दिन हुई छुट्टियों को इसका कारण बताया। इस पर कैबिनेट मंत्री ने तुरंत जिला खाद्य एवं पूर्ति अधिकारी से बात की और तत्काल 35 हजार कट्टे सोनीपत के खाद्य एवं पूर्ति विभाग के गोदाम में भिजवाने का काम शुरू करवाया। अधिकारियों ने बताया कि गन्नौर में कुछ गोदाम खाली हैं जिनमें गेहूं की ढुलाई की जा सकती है। इस पर मौके पर मौजूद एसडीएम निशांत यादव ने कहा कि सोनीपत में फिलहाल व्यवस्था करवा दी गई है और गन्नौर के लिए भी बात की जा रही है। इस दौरान श्रीमती जैन ने मार्केट कमेटी के अधिकारियों को भी निर्देश दिए कि मंडी में किसी भी किसान को कोई दिक्कत न हो और आढ़तियों को भी कोई परेशानी न हो। आढ़तियों की मांग पर उन्होंने तत्काल स्थाई तौर पर मंडी के गेट पर चौकीदार और पुलिस पीसीआर नियुक्त करने के आदेश दिए। आढ़तियों ने बताया कि कुछ महिलाएं व बच्चे रात के समय चाकू से बोरियां काटकर गेहूं निकाल ले जाते हैं। इसके साथ ही बच्चों का ट्रकों के नीचे आने का खतरा भी रहता है। इस पर मंडी ने तत्काल इनकी मंडी में इंट्री बंद करने व कार्रवाई के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि वर्तमान केंद्र व प्रदेश की भाजपा सरकार पूरी तरह से किसानों की हितैषी है और किसानों को कोई दिक्कत नहीं होने दी जाएगी। उन्होंने बताया कि सोनीपत मंडी में अभी तक एक लाख 65 हजार मीट्रिक टन गेहूं की आवक हो चुकी है और 50 प्रतिशत से अधिक गेहूं का उठान भी हो चुका है। उन्होंने बताया कि पहले गेहंू का सीजन दो महीने का होता था लेकिन अब कंबाईन से कटाई होने की वजह से सीजन 10 से 15 दिन का रह गया है। ऐसे में पूरा गेहूं एकदम से मंडी में पहुंचने से कई दिन तक दबाव रहता है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   7195911
 
     
Related Links :-
राज्य नए विपणन अधिनियम को लागू करें : राधामोहन
गेहंू की आवक 61.63 लाख मीट्रिक टन से अधिक
सोना 29,650 रुपये प्रति दस ग्राम
छह प्रतिशत महँगी हो सकती हैं कारें
पंजाब की अनाज मंडियों का औचक निरीक्षण
हायर परचेज आधार पर फ्लैटों के आबंटन के लिए आवेदन आमंत्रित
विदेशी मुद्रा भंडार 88.9 करोड़ डॉलर बढ़ा
प्रदेश में वाउचर का डिजिटलीकरण लागू
सोना हुआ 30 हजारी
राजस्थान में मोबाइल बैंङ्क्षकग पर शोध