हरियाणा मेल ब्यूरो
18/04/2017  :  10:04 HH:MM
ग्राफ को हराना जीवन का सबसे बड़ा क्षण : अरांशा
Total View  36

नई दिल्लीत्न स्पेन की पूर्व दिग्गज महिला टेनिस खिलाड़ी अरांशा सांचेज का मानना है कि उनके जीवन का सबसे बड़ा पल 1989 में तत्कालीन नंबर एक खिलाड़ी जर्मनी की स्टेफी ग्राफ को हराना था। अरांशा सांचेज रोंदेवू जूनियर फ्रेंच ओपन वाइल्ड कार्ड टूर्नामेंट की घोषणा के अवसर पर सोमवार को यहां संवाददाता सम्मेलन में मौजूद थीं। अरांशा पहली बार भारत आयी हैं और उन्होंने पहली भारत यात्रा को अपने लिये एक बड़ा सम्मान बताया। तीन फ्रेंच ओपन सहित चार ग्रैंड स्लेम खिताब जीतने वाली अरांशा ने अपने करियर के बारे में बातचीत करते हुये प्रेस कांफ्रेंस में उपस्थित जूनियर टेनिस खिलाडिय़ों से कहा" मैंने चार वर्ष की उम्र में टेनिस खेलना शुरू किया था और 14 साल में मैं प्रोफेशनल बन गयी थी।





----------------------------------------------------

Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   4299012
 
     
Related Links :-
विजय गोयल और अमृतराज ने दिखाई हरी झंडी
कुंबले के समर्थन में उतरे पूर्व क्रिकेटर
मरे, वावरिंका और राओनिक उलटफेर का शिकार
वल्र्ड लीग सेमीफाइनल के क्वार्टर फाइनल में भारत की भिड़ंत मलेशिया से
इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 श्रृंखला से हम वापसी करेंगे : डिविलियर्स
पाकिस्तानी फैन की बदतमीजी पर भडक़े शमी
धोनी और युवराज के विकल्प तलाशने होंगे
पसीना बहाकर आस्ट्रेलिया पर जीता जर्मनी
पाकिस्तानी खिलाडिय़ों का स्वदेश में जोरदार स्वागत
क्वींस क्लब में उलटफेर का शिकार हुए एडमंड