हरियाणा मेल ब्यूरो
19/04/2017  :  09:44 HH:MM
जीत की लय बरकरार रखने उतरेगी सनराइजर्स हैदराबाद
Total View  50

पंजाब के खिलाफ रोमांचक जीत के बाद फिर से पटरी पर लौटती दिखाई दे रही गत चैंपियन सनराइजर्स हैदराबाद की टीम यहां बुधवार को अपने घरेलू मैदान पर दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ इस विजयी लय को बरकरार रखने के इरादे से उतरेगी। हैदराबाद ने अपना पिछला मुकाबला बड़े ही रोचक अंदाज में पंजाब को पांच रन से हराकर जीता था।

इस मैच में आखिरी समय तक दोनों टीमों के बीच मुकाबला निर्णायक बना हुआ था तो वहीं दिल्ली को अपने कोटला मैदान पर चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाने के बावजूद कोलकाता नाइटराइडर्स के हाथों एक गेंद शेष रहते चार विकेट से हार झेलनी पड़ी थी। गत चैंपियन डेविड वार्नर की हैदराबाद का अब तक टूर्नामेंट में सफर उतार चढ़ाव भरा दिख रहा है और वह पांच मैचों में तीन जीत और दो हार के साथ तीसरे पायदान पर है जबकि पिछले सत्रों की फिसड्डी दिल्ली की टीम अब तक चार मैचों में दो जीत और दो हार के साथ चौथे नंबर पर है। केकेआर के खिलाफ अपने मैदान पर मिली हार से जहां दिल्ली के हौंसले कमजोर हुये हैं तो वहीं हैदराबाद ने अपने पिछले मैच में केकेआर से करीबी हार झेलने के बाद पंजाब से करीबी हार टालते हुये रोमांचक जीत दर्ज की थी और वह फिर से घरेलू मैदान पर इसी प्रदर्शन को दोहराने को तैयार दिख रही है। पंजाब के खिलाफ मैन आफ द मैच रहे तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने जिस तरह आखिरी तक अपनी टीम को मुकाबले में बनाये
रखा वह काबिलेतारीफ रहा। पारी में मात्र 19 रन देकर सर्वाधिक पांच विकेट निकालने वाले भुवनेश्वर अब तक हैदराबाद के लिये पांच मैचों में 5.40 के इकोनोमी रेट से 15 विकेट ले चुके हैं और सबसे सफल गेंदबाज हैं। वैसे भी हैदराबाद की टीम बाकी टीमों से इतर अपने बेहतरन गेंदबाजी लाइनअप के लिये जानी जाती हैं 
जिसमें भुवनेश्वर, अफगानिस्तान के राशिद खान, अनुभवी तेज गेंदबाज आशीष नेहरा, सिद्धार्थ कौल और दीपक हुड्डा जैसे खिलाड़ी हैं। निसंदेह कोई भी टीम अपने गेंदबाजों की वजह से ही मुकाबला जीतती है और हैदराबाद के लिये यह उसकी सबसे बड़ी ताकत है। वार्नर की टीम को अपने घरेलू मैदान पर जिस तरह दर्शकों का अपार समर्थन मिल रहा है वह भी उसके लिये काफी सकारात्मक बात है। साथ ही बल्लेबाजों में टीम के पास कह्रश्वतान वार्नर, शिखर धवन, ऑलराउंडर युवराज ङ्क्षसह, मोएसिस हैनरिक्स जैसे अच्छे खिलाड़ी हैं, लेकिन पिछले मैचों में धवन और युवराज ने जिस तरह बल्ले से निराश किया है उसने कह्रश्वतान पर दबाव बढ़ा दिया है।





----------------------------------------------------

Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   578615
 
     
Related Links :-
11वीं स्लम युवा दौड़ को दिखाई हरी झंडी
ब्राजीली सेरी-ए में फ्लामेंगो ने कोरितिबा को 2-1 से हराया
नेमार को बार्सिलोना में ही चाहते हैं
आईएसएल नीलामी : जमशेदपुर एफसी ने अनुभवी खिलाडिय़ों को खरीदा
शरद को रजत, वरुण को कांस्य
जील देसाई की नजरें दो स्वर्ण पर
पैरा एथलेटिक्स में पदक जीतने वालों को बधाई
बैडमिंटन: अमेरिका ओपन के दूसरे दौर में प्रणव, कश्यप
अगर द्रविड़ फ्री हैं तो मुझे कोई दिक्कत नहीं: शास्त्री
वीरेंद्र सहवाग के साथ व्हॉट द डक 2 सीरीज का समापन
 
http://buypropeciaonlinecheap.com/