समाचार ब्यूरो
20/04/2017  :  08:40 HH:MM
समूचा पश्चिमोत्तर लू की चपेट मे
Total View  341

पश्चिमोत्तर क्षेत्र पिछले कुछ दिनों से भीषण लू की चपेट में है जिससे आम जनजीवन प्रभावित रहा और अगले 36 घंटों तक गर्मी से राहत मिलने की भी संभावना नहीं है। मौसम केन्द्र के अनुसार क्षेत्र के कुछ इलाके प्रचंड लू की चपेट में है तथा रातें भी गर्म रहेंगी। इसके बाद 21 से 22 अप्रैल तक लू से राहत मिलने के आसार हैं और कहीं कहीं 45 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से धूल भरी आंधी के साथ बारिश या बूंदाबांदी की भी संभावना है । हरियाणा में नारनौल, हिसार सहित कुछ इलाकों में आज भी भीषण गर्मी और लू का सितम जारी रहा।

इन इलाकों मे पारा 45 डिग्री सेल्सियस से अधिक बना रहा। अंबाला तथा चंडीगढ़ का पारा 41 डिग्री रहा। पंजाब में राजस्थान से लगे इलाके बङ्क्षठडा में भी लू का प्रकोप बने रहने से जनजीवन पर असर पड़ा। शहर का पारा 44 डिग्री के पार रहा। अमृतसर में 42 डिग्री, हलवारा में 43 डिग्री, पटियाला में 43 डिग्री, लुधियाना में 43 डिग्री, पठानकोट में 40 डिग्री, दिल्ली में 42 डिग्री, श्रीनगर में 27 डिग्री और जम्मू में 41 डिग्री सेल्सियस रहा । हिमाचल में गर्मी तेज पडऩे लगी है तथा गर्मी के चलते कुछ इलाकों में पानी की आपूर्ति पर असर पड़ा है। पर्यटक मैदानी इलाकों की तपन से राहत पाने के लिये पर्यटन स्थलों पर पहुंच रहे हैं। शिमला का पारा 27 डिग्री,
कांगडा का 37, मनाली का 25, उना का 41 डिग्री, सोलन का 33, कल्पा का 23, सुंदरनगर का 35, भुंतर का 34, धर्मशाला का 32 और नाहन का पारा 33 डिग्री रहा ।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   7999766
 
     
Related Links :-
मुख्यमंत्री 25 को करेंगे खसरा-रूबैला टीकाकरण अभियान की शुरूआत
फंगल सक्रंमण देश के स्वास्थ्य सेवा के लिए एक महत्वपूर्ण चुनौती
उत्तरांचल हीरोज और स्प्रिंग होप मिलकर कैंसर से लड़ेंगे!
मनुष्य के शरीर में आंखें वह अंग हैं जिसका अधिक उपयोग किया जाता है: डॉ. रावल
अमेरिका में आयोजित विश्व बैठक में वेपिंग भारत का करेगा प्रतिनिधित्व
महिलाओं को खुद स्वास्थ्य पर ध्यान देना चाहिए
सेंधा नमक से निखरेगी त्वचा
फरीदाबाद में कैंसर से हुई सर्वाधिक मौत
हलाली डैम स्थित गौशाला में 545 दिनों में 2948 गायों की मौत
एम्स से संसद तक मार्च के लिए आज जुटेंगे 10 हजार डॉक्टर