समाचार ब्यूरो
20/04/2017  :  08:45 HH:MM
स्कूल प्रबंधन की मनमानी से परेशान
Total View  318

गुरुग्रामत्न डीएलएफ फेज एक स्थित ए ब्लॉक एक्सटेंशन निवासी स्कूल की बसों की अव्यवस्था के चलते स्थानीय निवासी खासे परेशान है। ए ब्लॉक 27 रोड पर स्थित कुन्सकेह्रश्वसकोलन स्कूल की बसें ए ब्लॉक एक्सटेंशन की लेन न0 42, 43, 44, 46, 48 से होकर गुजरती है जिसके चलते यहां पर रहने वाले 200 से अधिक परिवार इससे प्रभावित हो रहे है। सुबह 7:30 बजे से 8:30 बजे तक बस व स्कूल में आने वाले बच्चों के अभिभावकों की गाडिय़ों की भीड़ से लोगों की शांति भंग हो रही है।

बुधवार सुबह समस्या से परेशान स्थानीय निवासी स्कूल के बाहर जमा हो गए और बसों को ए-42 लेन से गुजरने पर एतराज जताया, यहीं नही उपस्थित लोगों ने ए-42 गेट पर ताला जडऩे की कौशिश भी की। मौके पर पहुंचे डीएलएफ कुतुब इन्कलेव आरडब्ल्यूए के प्रधान आरएस राठी, निवासी एसएस गुप्ता, पूर्व प्रधान 
आरडब्ल्यूए राकेश कुमार जैन, निवासी महेन्द्र यादव, मिलन कपूर का कहना है कि स्कूल का रास्ता ए-27 लेन से है लेकिन स्कूल प्रबंधन ने जबरदस्ती ए-42 रोड से रास्ता खोल लिया है जो कि कानूनी रूप से गल्त है। सुबह 7.30 बजे से ही लेन से बसे गुजरना शुरू हो जाती है जिसकी वजह से लोगों की शांति-चैन भंग हो चुकी है। यहीं नहीं स्कूल के नक्शें में भी रास्ता ए-27 रोड से ही है लेकिन स्कूल प्रबंधन उक्त सभी रोड़ों को अपने वाहनों के आने जाने के लिए इस्तेमाल करता है। स्थानीय निवासी पीएन पिपलानी ने स्कूल प्रबंधन को इस समस्या के लिए कई बार पत्र भी लिखा लेकिन स्कूल प्रबंधन ने कभी इसका जवाब देना तक उचित नहीं समझा। लोगों का कहना है कि सुबह 7.30 से 8.30 व दोपहर 1.30 से 2.30 बजे तक लोगों का इन लेन से आना जाना मुश्किल हो जाता है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   3642442
 
     
Related Links :-
आरबीआई ने फर्जी वेबसाइट से सचेत रहने की चेतावनी जारी की
तिलक करके विदा करेगी महिला मोर्चा की कार्यकता
वशिष्ठ गोयल ने किया रैली स्थल का दौरा
जम्मू-कश्मीर विधानसभा में लगे पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे
भगवंत मान ने संसद में मुद्दे उठाने का बनाया रिकार्ड
हरियाणा को एक आदर्श राज्य बनाने में यूएनडीपी से मांगा सहयोग
युवा खाद्य प्रसंस्करण उद्योग विकसित करें : राष्ट्रपति
‘आधार’ न होने पर इस्तेमाल ईएमएस : लंदन कर सकते हैं वोटर कार्ड
उत्तराखंड की राजधानी गैरसैंण के लिए प्रधानमंत्री से गुहार उत्तराखंडियों ने प्रेस क्लब से संसद तक किया कूच
शहादत का कर्जदार है पूरा देश : सुभाष बराला