हरियाणा मेल ब्यूरो
14/05/2017  :  11:00 HH:MM
भारतीय सिनेमा को अंतरराष्ट्रीय पहचान दिलाई मृणाल सेन ने
Total View  36

भारतीय सिनेमा जगत में मृणाल सेन का नाम एक ऐसे फिल्मकार के तौर पर शुमार किया जाता है जिन्होंने अपनी फिल्मों के जरिये भारतीय सिनेमा को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर विशेष पहचान दिलाई।14 मई 1923 को फरीदाबाद अब बंगलादेश में जन्में मृणाल सेन ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा फरीदाबाद से हासिल की।
इसके बाद उन्होंने कलकता के मशहूर स्काटिश चर्च कॉलेज से आगे की पढ़ाई पूरी की। इस दौरान वह कम्युनिस्ट पार्टी द्वारा आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रमों में हिस्सा लेने लगे ।कॉलेज से पढ़ाई पूरी करने के बाद मृणाल सेन की रूचि फिल्मों के प्रति हो गयी और वह फिल्म निर्माण से जुड़े पुस्तकों का अध्यन करने लगे। इस दौर में वह अपने मित्र ऋतविक घटक और सलिल चौधरी को अक्सर यह कहा करते कि भविष्य में वह अर्थपूर्ण फिल्म का निर्माण करेगे लेकिन परिवार की आर्थिक स्थित खराब रहने के कारण उन्हें अपना यह विचार त्यागना पड़ा और मेडिकल रिप्रेजेन्टेटिव के रूप में काम करना पड़ा । लेकिन कुछ दिनों के बाद उनका मन इस काम में नही लगा और उन्होंने यह नौकरी छोड़ दी। फिल्म के क्षेत्र में मृणाल सेन अपने करियर की शुरूआत कोलकाता फिल्म स्टूडियो में बतौर च्च्ऑडियो टेकनिशियेनज्ज् से की। बतौर निर्देशक मृणाल सेन ने अपने करियर की शुरूआत वर्ष 1955 में प्रदर्शित फिल्म च्च्रात भौरज्ज् से की। उत्तम कुमार अभिनीत यह फिल्म टिकट खिडक़ी पर बुरी तरह नाकाम साबित हुयी।





----------------------------------------------------

Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   2976685
 
     
Related Links :-
ठग ऑफ हिंदुस्तान को रफ एंड टफ बता रहे अमिताभ
छोटे निर्णयों में भी महिलाओं के साथ भेदभाव : रिचा चड्ढा
वरुण, आलिया ने मराठी फिल्म भिकारी का संगीत लांच किया
आईएफएफएम में एंबेसडर के रूप में लौटीं विद्या बालन
बॉलीवुड में बादशाह शाहरुख के 25 साल पूरे
श्रीदेवी संग काम करना सपना सच होने से कहीं अधिक : नवाजुद्दीन
शादी के बाद जाह्नवी फिल्मों में आजमाए भाग्य : श्रीदेवी
जला हाथ छिपाकर की थी इन्कलाब, शराबी की शूटिंग
मातृत्व शानदार अनुभव रहा है : आयशा टाकिया
ट्यूबलाइट से ५०० करोड़ रुपए के कारोबार की उम्मीद