समाचार ब्यूरो
15/05/2017  :  15:38 HH:MM
भाजपा ही लाएगी हरियाणा को एसवाईएल का पानी
Total View  338

केंद्रीय इस्पात मंत्री बीरेंद्र ङ्क्षसह ने कहा है कि हरियाणा को एसवाईएल का पानी भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) ही दिलाएगी। श्री ङ्क्षसह ने आज यहां कहा कि एसवाईएल के पानी को लेकर भाजपा को छोड़ दूसरी पार्टी के नेता सिर्फ अपनी राजनीति चमकाने का काम कर रहे हैं। भाजपा सरकार सभी वर्गों के हितों को ध्यान में रख कर कार्य कर रही है। राजनीति में हर आदमी अपना स्वार्थ देखता है।

श्री ङ्क्षसह ने कहा, जाट आरक्षण में भी कुछ ऐसा ही हुआ। कुछ लोग अपना स्वार्थ सिद्ध करने में लगे जुटे थे। हमें ऐसे लोगों से सावधान रहना चाहिए जो इस तरह की राजनीति करते हैं। केन्द्रीय मंत्री कपास मंडी के पास कान्हा सेवा सदन में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों
में राज्य में पचास हजार से अधिक सरकारी नौकरियां निकाली जाएंगी। जिनमें हम अपने हिस्से से दोगुनी नौकरिया लेंगे। उन्होंने कहा कि गांव- गांव जाकर भाजपा को इतना मजबूत करेंगे कि आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा 47 की जगह 60 सीटें प्राह्रश्वत कर सकें। भाजपा के लिए काम करने वाले कार्यकर्ताओं
को संगठनों में पद दिए जाएंगे ताकि वे ज्यादा लोगों को पार्टी के साथ जोड़ सकें। भाजपा में बहुत संगठन है जिनकी अभी कार्यकारिणी नहीं बन पाई है। श्री ङ्क्षसह के अनुसार एनसीआर के दायरे में आने वाले एरिया में 160 करोड़ की लागत से 16 सडक़ों का निर्माण किया जाएगा। उचाना में एक कोङ्क्षचग सेंटर बनाया जाएगा। जहां दिल्ली के शिक्षक युवाओं को उच्च गुणवत्ता की कोङ्क्षचग देंगे ।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   8899961
 
     
Related Links :-
कॉपर ह्रश्व‍लांट के विरोध में हिंसक प्रदर्शन, 9 की मौत
राज्य की 22 हजार किलोमीटर लंबी सडक़ों को किया जाएगा गड्ढïा मुक्त
दिल्‍ली से विशाखापटनम जा रही एपी एक्‍सप्रेस में आग
डीएलएफ फेज-3 नगर निगम में होगा शामिल : राव नरबीर सिंह
३ जून से शुरू होगी स्मार्ट राशन कार्ड स्कीम : आशु
स्वच्छता की भावना को सर्वोपरि रख भारत विश्व का नेतृत्व करेगा : जैन
सीमा ने जीता 14, 9 0 9 एगेंजड कॉर्नेल अनुदान
सेकेंडरी परीक्षा का परिणाम 51.15 फीसदी
दिल्ली कमेटी ने विरोधी पक्ष पर झूठा प्रचार करने का लगाया आरोप
बिजली हालत नहीं सुधरे तो विभाग को सौंप देंगे फैक्ट्रियों की चाबी