समाचार ब्यूरो
18/06/2017  :  11:46 HH:MM
बेरोजगारी की वृद्धि दर घट रही है : दत्तात्रेय
Total View  327

विपक्ष के रोजगार के अवसर घटने के आरोपों को खारिज करते हुए केंद्रीय रोजगार एवं श्रम मंत्री बंडारु दत्तात्रेय ने आज कहा कि वैश्विक अर्थव्यवस्था के मंद रहने के बावजूद देश में बेरोजगारी की वृद्धि दर घट रही है। श्री दत्तात्रेय ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि रोजगार के अवसरों का सृजन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्राथमिकता है। सरकार सत्ता में आने के पहले दिन से ही इस दिशा में बढ़ रही है। सरकार की मेक इन इंडिया, स्किल इंडिया, डिजीटल इंडिया, प्रधानमंत्री रोजगार प्रोत्साहन योजना और मु्द्रा योजना का उल्लेख करते हुए उन्होंने दावा किया कि देश में बेरोजगारी की वृद्धि दर घट रही है जबकि विश्व स्तर पर इसमें तेजी आ रही है।
रोजगार के अवसर घटने के आरोप मात्र दुष्प्रचार : केंद्रीय मंत्री ने कहा, रोजगार के अवसर घटने के आरोप मात्र दुष्प्रचार है। सच्चाई यह है कि देश में बेरोजगारी की वृद्धि दर घट रही है। उन्होंने कहा कि श्रम ब्यूरो के आंकड़े पूरे परिदृश्य को पेश नहीं करते हैं। श्रम ब्यूरो मात्र आठ क्षेत्रों के आंकड़े एकत्र करता है। इसमें भी केवल उन उद्योग इकाईयों शामिल किया जाता है जिनमें कम से कम 10 लोग कार्यरत हों। देश का 98.5 प्रतिशत श्रमबल छोटे उद्योगों में काम करता है। उन्होंने कहा कि सरकार की योजनाओं में स्व रोजगार पर जोर दिया जा रहा है जो श्रम ब्यूरो के आंकड़ों में शामिल नहीं होता है। श्रम ब्यूरो के हाल में जारी किए आंकड़ों के अनुसार देश औपचारिक क्षेत्र में रोजगार के अवसर घटे हैं।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   4465803
 
     
Related Links :-
पंजाब में गठबंधन पर केंद्रीय नेतृत्व निर्णय करेगा : अमरिंदर
नीतीश मेरे परिवार की हत्या कराना चाहते हैं : राबड़ी
हरियाणा में सकारात्मक परिणाम आने लगे हैं : विपुल गोयल
कांगे्रसी नेताओं का बिगड़ रहा है मानसिक संतुलन : शर्मा
देश का छात्र हरियाणा में हर योजना का लाभ लेने में सक्षम
हुड्डा सरकार के 10 साल से ज्यादा हो रहा है काम
अकालियों ने किया कांग्रेस मुख्यालय का घेराव
अंत्योदय मिशन के तहत 1108 ग्राम सभाओं का चयन
‘स्टार्टअप इन्क्यूबेटर-कम-सेंटर ऑफ एक्सीलेंस’ का शुभारंभ
राज्य सरकार की तैयारी पर सांसद सैनी का कड़ा विरोध