19/06/2017  :  10:17 HH:MM
रोजगार के घटने के श्रम ब्यूरो के आंकड़े खारिज किये रुड़ी ने
Total View  28

नई दिल्ली त्न केंद्रीय कौशल विकास मंत्री ने रोजगार के अवसर घटने के श्रम ब्यूरो के आंकड़ों को सिरे से खारिज करते हुए कहा है कि ये त्रुटि पूर्ण पद्धति, अपर्याप्त सर्वेक्षण, छोटे क्षेत्र और गलत स्थानों के अध्ययन पर आधारित है। श्री रुड़ी ने यूनीवार्ता के साथ विशेष बातचीत में कहा, श्रम ब्यूरो का सर्वेक्षण आठ उद्योग क्षेत्रों और 10 से अधिक कर्मचारी वाली उद्योग इकाईयों पर आधारित है। इसमें कृषि क्षेत्र के रोजगार के अवसरों को शामिल नहीं किया जाता है।ज्ज् उन्होंने कहा कि श्रम ब्यूरो अपने अध्ययन में आठ उद्योग क्षेत्रों में 10 से अधिक कर्मचारी वाली इकाईयों को शामिल करता है। इसका तात्पर्य है कि इस सर्वेक्षण में केवल तीन करोड श्रमिकों को शामिल किया जाता है। कृषि जैसे क्षेत्र को छोड़ दिया जाता है जहां 47 करोड़ से ज्यादा लोग काम कर रहे हैं। श्रम ब्यूरो की रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 2015 और 2016 में रोजगार के अवसर वर्ष 2009 के बाद से सबसे कम रहे हैं। उन्होंने कहा कि ये आंकड़े पूरे देश के रोजगार के अवसरों को दिखाने के लिए पर्याप्त नहीं है। ये आंकडे गैर कृषि आर्थिक गतिविधियों के हैं। इनमें कृषि क्षेत्र में काम कर रहे लोगों को शामिल नहीं किया गया है। श्रम ब्यूरो के आंकड़ों में मात्र 11 राज्यों को शामिल किया जाता है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   2380046
 
     
Related Links :-
बवाना उपचुनाव: केजरीवाल की फिर अग्नि परीक्षा
लंबा खिंच सकता है डोकलाम में चीन के साथ गतिरोध
जांगिड़ ब्राह्मण समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष बने नेमी चन्द शर्मा
शहीद लोंगोवाल की बरसी पर उमड़े लोग
मोदी, सोनिया, मनमोहन, राहुल और प्रियंका ने दी श्रद्धांजलि
पुलिस किसी भी स्थिति से निपटने में सक्षम : संधू
डोकलाम गतिरोध : भारत-चीन के आर्थिक संबंधों का नया आयाम
ट्रैंक्विल त्रिलोग्स नामक अनूठी चित्रकला प्रदर्शनी आज से
जाटों ने कैह्रश्वटन अभिमन्यु को दिखाए काले झंडे
पर्रिकर ने सामना के संपादकीय को बताया फर्जी खबरों पर आधारित