समाचार ब्यूरो
19/06/2017  :  10:17 HH:MM
रोजगार के घटने के श्रम ब्यूरो के आंकड़े खारिज किये रुड़ी ने
Total View  318

नई दिल्ली त्न केंद्रीय कौशल विकास मंत्री ने रोजगार के अवसर घटने के श्रम ब्यूरो के आंकड़ों को सिरे से खारिज करते हुए कहा है कि ये त्रुटि पूर्ण पद्धति, अपर्याप्त सर्वेक्षण, छोटे क्षेत्र और गलत स्थानों के अध्ययन पर आधारित है। श्री रुड़ी ने यूनीवार्ता के साथ विशेष बातचीत में कहा, श्रम ब्यूरो का सर्वेक्षण आठ उद्योग क्षेत्रों और 10 से अधिक कर्मचारी वाली उद्योग इकाईयों पर आधारित है। इसमें कृषि क्षेत्र के रोजगार के अवसरों को शामिल नहीं किया जाता है।ज्ज् उन्होंने कहा कि श्रम ब्यूरो अपने अध्ययन में आठ उद्योग क्षेत्रों में 10 से अधिक कर्मचारी वाली इकाईयों को शामिल करता है। इसका तात्पर्य है कि इस सर्वेक्षण में केवल तीन करोड श्रमिकों को शामिल किया जाता है। कृषि जैसे क्षेत्र को छोड़ दिया जाता है जहां 47 करोड़ से ज्यादा लोग काम कर रहे हैं। श्रम ब्यूरो की रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 2015 और 2016 में रोजगार के अवसर वर्ष 2009 के बाद से सबसे कम रहे हैं। उन्होंने कहा कि ये आंकड़े पूरे देश के रोजगार के अवसरों को दिखाने के लिए पर्याप्त नहीं है। ये आंकडे गैर कृषि आर्थिक गतिविधियों के हैं। इनमें कृषि क्षेत्र में काम कर रहे लोगों को शामिल नहीं किया गया है। श्रम ब्यूरो के आंकड़ों में मात्र 11 राज्यों को शामिल किया जाता है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   9395582
 
     
Related Links :-
आरबीआई ने फर्जी वेबसाइट से सचेत रहने की चेतावनी जारी की
तिलक करके विदा करेगी महिला मोर्चा की कार्यकता
वशिष्ठ गोयल ने किया रैली स्थल का दौरा
जम्मू-कश्मीर विधानसभा में लगे पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे
भगवंत मान ने संसद में मुद्दे उठाने का बनाया रिकार्ड
हरियाणा को एक आदर्श राज्य बनाने में यूएनडीपी से मांगा सहयोग
युवा खाद्य प्रसंस्करण उद्योग विकसित करें : राष्ट्रपति
‘आधार’ न होने पर इस्तेमाल ईएमएस : लंदन कर सकते हैं वोटर कार्ड
उत्तराखंड की राजधानी गैरसैंण के लिए प्रधानमंत्री से गुहार उत्तराखंडियों ने प्रेस क्लब से संसद तक किया कूच
शहादत का कर्जदार है पूरा देश : सुभाष बराला