Breaking News
अस्थायी तौर पर जेट की सभी उड़ानें रद्द की गइ  |  मतदान में बुजुर्ग भी नहीं रहे पीछे कोई एम्बुलेंस से तो कोई व्हील चेयर पर वोट डालने पहुंचे  |  अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस के प्रस्ताव को किया खारिज मसूद अजहर को लेकर चीन के रुख में कोई बदलाव नहीं  |  गुड फ्रायडे : त्याग और बलिदान का दिन  |  दिनों दिन बढ़ती जा रही है वोटिंग ताऊ की लोकप्रियत  |  राइडिंग को बनाए रोमांचक! होंडा ने भारत में शुरू किया अपना एक्सक्लुसिव प्रीमियम रीटेल होंडा बिग विंग  |  प्रशासन, विभागों और आमजन के बीच में तालमेल आवश्यक : एक्सपेंडिचर ऑब्जर्वर  |  राव अभय सिंह के भाजपा कार्यालय का राव इंद्रजीत सिंह ने किया उद्घाटन ‘विकास के हर कार्य का हिसाब दंूगा’  |  
 
 
समाचार ब्यूरो
26/06/2017  :  09:42 HH:MM
मुख्यमंत्री ने कैथल में अधिकारियों से की कार्यो की समीक्षा
Total View  537

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने जिला कैथल में विभिन्न विकास घोषणाओं के क्रियान्वयन की समीक्षा करते हुए संबंधित अधिकारियों को इन विकास परियोजनाओं के शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिए। सरकार के पास विकास कार्यों हेतू पर्याप्त धनराशि उपलब्ध है तथा फंड की वजह से कोई भी कार्य अधूरा नहीं रहेगा।

श्री मनोहर लाल कैथल के आरकेएसडी कालेज के हॉल में उच्चाधिकारियों की बैठक में मुख्यमंत्री घोषणाओं की समीक्षा कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने जिला में गौ चरांद भूमि चिन्हित करने के निर्देश देते हुए कहा कि इस भूमि का प्रयोग आवारा पशुओं को गऊशालाओं में रखने तथा उनके चारे के लिए किया जाए, ताकि आवारा पशुओं की समस्या पर काबू पाया जा सके और इन पशुओं को चारा भी उपलब्ध करवाया जा सके। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा विकास परियोजनाओं के क्रियान्वयन में पारदर्शिता लाने के लिए ई-टैंडर प्रणाली शुरू की जाए।

उन्होंने कैथल विधानसभा क्षेत्र में लंबित मुख्यमंत्री घोषणाओं के संदर्भ में कहा कि क्योडक़ व ढांड में विभिन्न तालाबों के सौंदर्यकरण व जीर्णोद्धार कार्य व तालाबों के गंदे पानी को साफ करके सिंचाई हेतू प्रयोग में लाया जाएगा। श्री लाल ने क्योडक़ गांव में मुख्यमंत्री घोषणा के तहत स्थापित होने वाले लाला लाजपत राय पशु विज्ञान विश्वविद्यालय के क्षेत्रीय केंद्र के क्रियान्वयन की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को कार्य की गति बढ़ाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि गांवों में जमीन उपलब्ध होने से इस कार्य को शीघ्र पूर्ण करवाया जाए। क्योडक़ में 5 करोड़ रुपए की लागत से कोटिकूट तीर्थ के विकास की गति को तेज करने के निर्देश दिए।

उन्होंने कुरूक्षेत्र विकास बोर्ड द्वारा प्रथम चरण में करवाए जाने वाले तीर्थों के सौंदर्यकरण के संदर्भ में भी बोर्ड की मुख्य कार्यकारी अधिकारी तथा अन्य संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशानिर्देश दिए। उन्होंने कैथल शहर में सिटी स्कवेयर एवं बैंक स्कवेयर के संदर्भ में कहा कि सरकार द्वारा 5 करोड़ रुपए की राशि जारी कर दी गई है तथा शीघ्र ही इस परियोजना पर कार्य शुरू होगा। उन्होंने कैथल-कुरूक्षेत्र रेलवे लाईन पर लघु सचिवालय के नजदीक प्रस्तावित रेलवे ओवर ब्रिज के निर्माण के संदर्भ में कहा कि इसके निर्माण का फैसला लोगों की सुविधा हेतू लिया गया है, जिसे जल्दी शुरू किया जाएगा। उन्होंने विधानसभा क्षेत्र के ग्रामीण आंचल में विकास कार्यों हेतू प्रदान की गई 10 करोड़ की धनराशि से होने वाली विकास कार्यों की भी जानकारी हासिल की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कपिलमुनि महिला महाविद्यालय को सरकार द्वारा राजकीय महाविद्यालय का दर्जा देकर इस हलके की वर्षों पुरानी लंबित मांग को जल्दी ही पूर्ण किया जाएगा। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को इस दिशा में शीघ्र उचित कार्रवाई करने के निर्देश दिए। सामुदायिक केंद्र का निर्माण, लघु सचिवालय व न्यायिक
परिसर का निर्माण, स्टेडियम का निर्माण शीघ्र ही शुरू करवाया जाएगा। उन्होंने कुरूक्षेत्र विकास बोर्ड द्वारा 7 तीर्थों के सौंदर्यकरण व जीर्णोद्धार के कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए। ग्रामीण विकास हेतू जारी की गई 10 करोड़ रुपए की राशि से होने वाले विकास कार्यों को भी शीघ्र पूर्ण करवाया जाएगा। उन्होंने स्पष्ट किया कि विकास परियोजनाओं के लिए जमीन की आवश्यकता होती है, इसलिए संबंधित ग्राम पंचायतें या नगर पालिकाएं इन विकास परियोजनाओं के लिए शीघ्र जमीन उपलब्ध करवाएं।

श्री लाल ने पूंडरी विधानसभा क्षेत्र की लंबित घोषणाओं के संदर्भ में कहा कि पूंडरीक तीर्थ के जीर्णोद्धार का कार्य शुरू कर दिया गया है तथा पाई गांव को मॉडल गांव विकसित करने के लिए महाग्राम योजना में शामिल किया गया है। उन्होंने इको टुरिज्म योजना के तहत पूंडरी में 200 एकड़ में प्रस्तावित हर्बल पार्क की स्पेशल रिपोर्ट सौंपने के निर्देश दिए तथा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को पूंडरी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में डाक्टरों की उप-ि स्थति सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने पूंडरी में स्पोर्टस स्टेडियम, इंडोर व आउटडोर स्टेडियम, कैथल-करनाल सडक़ को चार लेन करने, धेरडू नर्सिंग कालेज, पूंडरी में सामुदायिक केंद्र, फतेहपुर
माईनर के विस्तारीकरण आदि की समीक्षा की। उन्होंने ढांड व हाबड़ी में महाग्राम योजना के तहत वाटर डिस्पोजल सैंटर हेतू जमीन के हस्तांतरण करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने पूंडरी के विधायक प्रो. दिनेश कौशिक को जमीन स्थानांतरण के बारे में संबंधित लोगों से बातचीत करने को कहा, ताकि इन विकास परियोजनाओं को अमलीजामा पहनाया जा सके।

मुख्यमंत्री ने गुहला विधानसभा क्षेत्र की लंबित विकास परियोजनाओं की समीक्षा करते हुए कहा कि चीका में प्रस्तावित सॉयल टैस्टिंग लैबोरैट्री के भवन निर्माण तथा उपकरणों की खरीद शीघ्र की जाए। सीवन में माडर्न पार्क स्थापित करने के बारे में उन्होंने जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी से जमीन की उपलब्धता की 10 दिन में रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा। उन्होंने कहा कि स्थानीय विधायक कुलवंत राम बाजीगर लोगों से बातचीत करके जगह दिलवाएं। गुहला सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के भवन के निर्माण, एक्सरे एवं अल्ट्रासाउंड सुविधाओं के संदर्भ में कहा कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा एक्सरे सुविधा शुरू कर दी गई है। सीवन में महाग्राम योजना के तहत विकास कार्य शुरू करवा दिए गए हैं।

मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव कोर्डिनेशन टीसी गुप्ता ने मुख्यमंत्री घोषणाओं के क्रियान्वयन की विधानसभा अनुसार समीक्षा करवाई। दो दिन पूर्व जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ वे स्वयं लंबित घोषणाओं की समीक्षा कर चुके हैं, जिसके उपरांत इन योजनाओं के क्रियान्वयन में तेजी आई है।  कैथल के उपायुक्त संजय जून
ने मुख्यमंत्री को जिला प्रशासन द्वारा विभिन्न योजनाओं के क्रियान्वयन की प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत करते हुए कहा कि जिला प्रशासन द्वारा सरकार के फलैगशीप कार्यक्रमों को गंभीरता से लेते हुए इनका क्रियान्वयन प्राथमिकता के आधार पर किया जाता है। उन्होंने सीएम विंडों, राजस्व न्यायालयों में लंबित मामलों, हारा गांव-जगमग गांव योजना की जानकारी दी। इसके अतिरिक्त उन्होंने खुले में शौच मुक्त अभियान के बारे में कहा कि संपूर्ण कैथल जिला के ग्रामीण क्षेत्र को खुले में शौचमुक्त घोषित कर दिया गया है तथा शहरी क्षेत्र को भी 15 अगस्त तक खुले में शौचमुक्त कर दिया जाएगा। जिला में आवारा पशु प्रबंधन की जानकारी देते हुए कहा कि जिला प्रशासन द्वारा नई नंदीशाला बनाई जा रही है, जिसकी क्षमता 1200 पशुओं की है। जिला प्रशासन द्वारा निर्धारित अवधि तक आवारा पशुओं को नंदीशाला एवं गऊशालाओं में पहुंचा दिया जाएगा।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   1166136
 
     
Related Links :-
मतदान में बुजुर्ग भी नहीं रहे पीछे कोई एम्बुलेंस से तो कोई व्हील चेयर पर वोट डालने पहुंचे
प्रशासन, विभागों और आमजन के बीच में तालमेल आवश्यक : एक्सपेंडिचर ऑब्जर्वर
हरियाणा में भाजपा ने इन 10 चेहरों पर खेला दांव
आतंकवाद को घाटी के ढाई जिलों तक सीमित करने में सफल रही सरकार: मोदी
गुजरात को मुआवजा देने पर कमलनाथ ने पीएम को घेरा
पश्चिमी दिल्ली की जनता के बीच बहुत लोकप्रिय है पत्रकार सुनील सौरभ
बाला प्रीतम हरक्रिशन जी का जोति ज्योति समाने का गुरूपर्व बड़ी श्रद्धापूर्वक मनाया गया
भगवान महावीर जयंती पर विभिन्न धार्मिक और सामाजिक कार्यक्रम
विपक्ष विहीन लोकसभा क्षेत्र है गुरुग्राम राव इंद्रजीत के मुकाबले में कोई नहीं : उमेश अग्रवाल
महावीर जयंती पर निकाली प्रभात फेरी