हरियाणा मेल ब्यूरो
06/07/2017  :  09:10 HH:MM
अमेरिका ने दुबई से एमिरेट्स के विमानों से इलेक्ट्रॉनिक प्रतिबंध हटाया
Total View  26

नई दिल्ली अमेरिका ने दुबई अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे से अमेरिका के लिए उड़ान भरने वाले एमिरेट्स एयरलाइंस के विमानों के यात्रियों को लैपटॉप जैसे इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के साथ यात्रा करने की तत्काल प्रभाव से छूट दी है। एयरलाइन ने बुधवार को यह जानकारी दी। एमिरेट्स एयरलाइंस के एक प्रवक्ता ने एक बयान में कहा, च्च्तत्काल प्रभाव से लागू। दुबई अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से जाने वाले एमिरेट्स के विमानों पर से इलेक्ट्रॉनिक्स प्रतिबंध को हटा लिया गया है।

बयान के मुताबिक, यूएस डिपार्टमेंट ऑफ होमलैंड सिक्योरिटी के नए सुरक्षा दिशा-निर्देशों का पालन करने के लिए एयरलाइंस विभिन्न वैमानिकी पक्षों तथा स्थानीय अधिकारियों के साथ मिलकर सुरक्षा उपायों व प्रोटोकॉल को तगड़ा करने को लेकर काम कर रहा है।यह घोषणा रविवार को अमेरिका द्वारा अबु धाबी से इत्तेहाद एयरलाइंस के विमानों से इलेक्ट्रॉनिक्स प्रतिबंध हटाने के बाद की गई है।मंगलवार को तुर्की एयरलाइंस ने घोषणा की थी कि अमेरिका बुधवार से इस्तांबुल से उड़ान भरने वाले उसके विमानों पर से इलेक्ट्रॉनिक्स प्रतिबंध को हटा देगा।मार्च महीने में वाशिंगटन ने केबिन में स्मार्टफोन से बड़े आकार के इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों
के साथ यात्रा करने पर पाबंदी लगाई थी। यह पाबंदी आठ देशों मिस्र, जॉर्डन, कुवैत, मोरक्को, कतर, संयुक्त अरब अमीरात (यूएई), सऊदी अरब तथा तुर्की के 10 हवाईअड्डों पर लगाई गई थी। अमेरिका ने इस पाबंदी के पीछे तर्क दिया था कि इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों में बम के छिपे होने का खतरा है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   6050415
 
     
Related Links :-
सऊदी ने कतर के तीर्थयात्रियों को हज यात्रा की अनुमति दी
इंडोनेशिया में नौका पलटी, 10 मरे
यूएई, अमेरिका ने रक्षा, आतंकवाद पर चर्चा की
चीन में तूफान को लेकर पीली चेतावनी
नाइजीरिया में ग्रामीणों और चरवाहों के बीच संघर्ष में 33 लोगों की मौत
बोले फिलिस्तीनी पीएम अल-अक्सा पर इजरायल की संप्रभुता नहीं
दक्षिण कोरिया ने उत्तर कोरिया के सामने रखा बातचीत का प्रस्ताव
पीओके निवासी ओसामा को इलाज के लिए मिलेगा वीजा
पनामा पेपर्स लीक मामले में अपने निर्णायक चरण में पहुंचा
ब्रिटेन से जब तक भव्य स्वागत की गारंटी नहीं मिलती, नहीं आऊंगा
 
http://buypropeciaonlinecheap.com/