हरियाणा मेल ब्यूरो
17/07/2017  :  09:31 HH:MM
मेक इन इंडिया कार्यक्रम फुस्स : पी चिदंबरम
Total View  11

नई दिल्ली कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व वित्त मंत्री पी चिदम्बरम का कहना है कि दुनिया में भारत को विनिर्माण क्षेत्र का केंद्र बनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दो साल पहले जिस मेक इन इंडिया कार्यक्रम की घोषणा की थी वह पूरी तरह विफल रहा है।
श्री चिदंबरम ने कहा है कि सत्ता में आने के बाद श्री मोदी ने देश को विनिर्माण क्षेत्र का प्रमुख केंद्र बनाने की घोषणा की थी और वह सचमुच बहुत अच्छी पहल थी क्योंकि कोई भी देश तब ही समृद्ध बन सकता है जब वह अपने लोगों की आवश्यकता की जरूरी वस्तुओं का खुद निर्माण करता है, लेकिन दो साल में मोदी सरकार की मेक इन इंडिया नीति घोषणा भर ही बन कर रह गयी है। इस दौरान सार्वजनिक तथा निजी क्षेत्र का निवेश पाने के प्रयास भी बेकार साबित हुये हैं। पूर्व वित्त मंत्री ने पार्टी के मुख पत्र कांग्रेस संदेश के ताजा अंक में प्रकाशित एक लेख में कहा प्रधानमंत्री मोदी बिल्कुल सही थे जब उन्होंने कहा था कि उनकी सरकार का लक्ष्य, मेक इन इंडिया कार्यक्रम को सर्वोच्च प्राथमिकता देना है। तब उन्होंने विश्व की विनिर्माण कंपनियों को आओ और भारत में बनाओ कहकर आमंत्रित किया था। कोई भी बड़ा देश समृद्ध तभी बनता है जब वह अपने लोगों के उपयोग की वस्तुओं का विनिर्माण शुरू करता है। कोई भी देश यदि अपने लोगों की आवश्यकता वाली वस्तुओं और सेवाओं का उत्पादन करने में सक्षम है वह तब ही समृद्ध हो सकता है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   8987024
 
     
Related Links :-
हमारा रिश्ता किसी से खराब नही
तेजस्वी के साथ राहुल ने किया लंच, राजनीतिक गलियारे में हलचल
मां की पुकार सुन पसीज गया फुटबॉलर से आतंकी बने माजिद का दिल
नवनिर्वाचित उपाध्यक्ष जोगिन्द्र महेश्वरी सम्मानित
‘अपनी जड़ों से जुड़ो ’ प्रोग्राम को हरी झंडी
बच्चों को अच्छे संस्कार देना बहुत आवश्यक : मुख्यमंत्री खट्टर
नूंह जिलावासियों को लगभग 119 करोड़ रुपए की सौगाते
आधार नामांकन का उद्देश्य सामाजिक लाभों से वंचित रखना नहीं है
पूर्व वित्त मंत्री कैह्रश्वटन अजय सिंह यादव का स्वागत
ग्रामीणों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है