समाचार ब्यूरो
10/09/2017  :  10:48 HH:MM
ओबीसी कोटे के श्रेणी विभाजन में किसानी पिछड़ा अड़ंगा ना लगाए
Total View  440

झज्जरत्नसामाजिक न्याय मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामकिशन सैन ने गांव माछरोली में अपने सम्बोधन में कहा कि सामाजिक न्याय मोर्चा अति पिछड़ा, अति दलित और पसमांदा मुस्लिम समाज को उनकी राजनैतिक हिस्सेदारी दिलाना चाहता है।
उन्होने कहा कि मोदी सरकार द्वारा ओबीसी कोटे का कर्पूरी ठाकुर फार्मूले के मुताबिक जो श्रेणी विभाजन की बात कही है, उसके लिए मोर्चा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी व उनकी सरकार का धन्यवाद किया। श्री सैन ने कहा कि आज तक मण्डल आयोग लागू होने के बाद जो भी ओबीसी कोटा मिला है, उसका 80 प्रतिशत हिस्सा किसानी बैकवर्ड ले गया। श्री सैन 5 नवम्बर को गोहाना में होने वाली अति पिछड़ा वर्ग जन अधिकार रैली के लिए निमंत्रण देने झज्जर पहुंचे थे उन्होने पूरे पिछड़े वर्ग चूल्हानोत न्योता दिया और कहा की एक दिन का सहयोग अति पिछड़ों की किस्मत बदल सकता है। गोहाना की रैली अति पिछड़ों की ऐतिहासिक रैली होगी। इस मौके पर प्रदेश अध्यक्ष सुखबीर प्रजापति ने कहा कि अब अति पिछड़ा वर्ग एक जमात बन चुका है। मोर्चे का मिशन चलो गांव की ओर है। मोर्चा उस अन्तिम छोर के व्यक्ति को न्याय दिलाना चाहता है, जिसके साथ सदियों से अन्याय हुआ है। केवल कर्पूरी ठाकुर फार्मूला ही अति पिछड़ों को आगे बढ़ा सकता है। राष्ट्रीय सचिव मुकेश सोनी ने कहा कि 36 बिरादरी हमारी है, अब अति पिछड़ों की बारी है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   2025720
 
     
Related Links :-
शादियां बनी नेताओं के लिए परेशानी का सबब
जेबीटी संघ नियुक्ति की मांग को लेकर नवचयनित उठाएंगे बड़ा कदम
लोकसभा चुनाव से पहले पंजाब में ‘आप’ को झटका आम आदमी पार्टी के जैतू विधायक मास्टर बलदेव सिंह ने छोड़ी पार्टी
तेल एवं गैस संरक्षण अभियान सक्षम 2019 शुरू
अभय सिंह चौटाला ने मायावती के जन्म दिवस पर दी बधाई
हरियाणा पुलिस के शहीदों के नाम पर खंड स्तरीय शौर्य पुरस्कार : मुख्यमंत्री
शीला दीक्षित ने संभाला दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी का कार्यभार
बंगाल के मैदान में उतरेगी भाजपा
दो विधायकों के जाने से सरकार को नहीं है कोई खतरा : एचडी देवेगौड़ा
बुजुर्गों का सम्मान भारतीय संस्कृति का अहम हिस्सा : उमेश अग्रवाल