हरियाणा मेल ब्यूरो
23/09/2017  :  09:28 HH:MM
नये एटीसी टावर की कमीशनिंग में लग सकता है एक साल
Total View  153

नई दिल्ली त्न दिल्ली के इंदिरा गाँधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर हवाई यातायात नियंत्रण (एटीसी) का काम पूरी तरह नये एटीसी टावर से शुरू होने में करीब एक साल और लग सकता है।नवनिर्मित टावर की ऊँचाई 102 मीटर है और यह देश का सबसे ऊँचा एटीसी टावर है।
साथ ही यह नयी दिल्ली की सबसे ऊँची इमारत भी है।इस कारण इसे लेकर काफी उत्सुकता भी है।इसकी ऊँचाई और अत्याधुनिक उपकरणों की मदद से हवाई अड्डे की दक्षता तथा विमानन सुरक्षा बढ़ाने में मदद मिलेगी।भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (एएआई ) के अध्यक्ष गुरु प्रसाद महापात्रा ने यूनीवार्ता से एक साक्षात्कार में बताया कि नये एटीसी टावर में फिलहाल प्रशिक्षण का काम चल रहा है।कर्मचारियों को नये उपकरणों एवं प्रणालियों पर प्रशिक्षित किया जा रहा है ।साथ ही साथ उपकरणों की विश्वसनीयता तथा स्थिरता की जाँच भी चलती रहेगी ।श्री महापात्रा ने कहा कि फरवरी 2018 से नये टावर में शैडो ऑपरेशन शुरू होगा, यानी यातायात नियंत्रण पुराने टावर से ही होगा, लेकिन नये टावर में सारी प्रक्रिया की जायेगी।अगले साल अप्रैल से समानांतर परिचालन शुरू होगा जिसमें नियंत्रण नये टावर से होगा, लेकिन पुराने टावर से निगरानी भी की जायेगी। यह क्रम सितम्बर तक चलने की उम्मीद है।इसके बाद नये टावर की औपचारिक कमीशनिंग होगी ।





----------------------------------------------------
----------------------------------------------------
----------------------------------------------------
----------------------------------------------------
----------------------------------------------------

Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   4481963
 
     
Related Links :-
शेयर बाजार की कमजोर शुरुआत
बिटकॉइन की कीमत में उछाल से सरकार चिंतित
जीरकपुर के गोदामों में लगी भीषण आग, करोड़ों का नुकसान
जोयआलुक्कास ने साउथ एक्सटेंशन में खोला शोरूम
एडिडास ने लाइफस्टाइल इंटरनेशनल प्राइवेट लि से साझेदारी की
जेएनपीटी सेज में 60 हजार करोड़ का निवेश करेंगी : गडकरी
पूंजी निवेश को आकर्षित करने के लिए उठाए कई कदम : मुख्यमंत्री
रिजर्व बैंक ने फंसे हुए कर्ज छिपाने वाले बैंकों को दी चेतावनी
मजबूती के साथ खुले बाजार
चेक गणराज्य पंजाब में निवेश करने का इच्छुक