समाचार ब्यूरो
07/10/2017  :  09:27 HH:MM
आरक्षण को लेकर जाट १५ को तय करेंगे रणनीति
Total View  403

जींद हरियाणा में एक बार फिर जाट आंदोलन की आग में जल सकता है, अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति अध्यक्ष मंडल की गुरूवार को हुई बैठक में सरकार द्वारा समाज की आरक्षण सहित अन्य सभी मांगों को पूरा न करने पर रोष व्यक्त किया। आरक्षण को लेकर जाट 15 अक्तूबर को जींद में सम्मेलन में करेंगे।

वीरभान ढुल तथा भरत सिंह बैनीवाल ने बैठक में कहा कि यशपाल मलिक द्वारा तीन बार भाजपा सरकार के साथ समझौते करके सरकार का बचाव किया। कोई भी मांग जाट समाज की पूरी ना होने से साबित हो गया है कि उन्होंने आंदोलन मांगों के लिए नहीं, करोड़ों रूपये बटोरने के लिए किया था, जिससे समाज अपने आपको ठगा सा महसूस कर रहा है। ढुल एवं बैनीवाल ने सरकार को चेतावनी दी कि यदि 14 अक्तूबर तक सरकार ने मांगों को पूरा नहीं किया तो 15 अक्तूबर को होने वाले सम्मेलन में सरकार के  खिलाफ सीधे आंदोलन की घोषणा करेंगे तथा उसकी जिम्मेदारी भाजपा सरकार की होगी। उन्होंने बताया कि 15 अक्तूबर के
सम्मेलन की तैयार के लिए जिलेवार टीमों का गठन किया तथा ड्यूटियां लगाई गई। सम्मेलन में सभी खाप, तपों, पंचायतों एवं जाट संगठनों को आमंत्रित किया गया। इसमें प्रदेश भर की करीबन 150 खाप पंचायतें भाग लेगी। बात दे कि पहले भी एक बार हरियाणा की खटटर सरकार के रहते हरियाणा जाट आंदोलन के कारण जल चुका है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   1101547
 
     
Related Links :-
राष्ट्रीय अध्यक्ष के विरुद्ध अनुशासनहीनता के आरोपों पर भी विचार
पराली प्रबंधन: मोबाइल वैन किए रवाना
नये साल में मिलेगा फुटओवर ब्रिज का तोहफा
केन्द्रीय मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने किया , लगभग 44 करोड़ 70 लाख की लागत से बनेगा पलवल-रसूलपुर-हसनपुर मार्ग पर रेलवे ओवर ब्रिज का शिलान्यास
सैक्टर-4 मेला ग्राउंड में होगा दशहरे का आयोजन मुख्यमंत्री करेंगे रावण दहन की रस्म अदा
प्रकाश सिंह बादल ने सुरक्षा की पेशकश को ठुकराई
हरियाणा के स्कूलों, अस्पतालों का स्टेट्स चेक करेंगे केजरीवाल
फिर से एसवाईएल के सहारे जनता की नब्ज टटोलेगी इनेल
कानून बनाकर अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का रास्ता साफ करे सरकार
यूपी और उत्तराखंड के पूर्व सीएम नारायण दत्त तिवारी नहीं रहे