समाचार ब्यूरो
19/10/2017  :  11:26 HH:MM
फिल्म इंडस्ट्री में खास मुकाम बनाया सन्नी देओल ने
Total View  343

बॉलीवुड के माचोमैन सन्नी देवोल का नाम उन गिने चुने अभिनेताओं में शुमार किया जाता है जिन्होंने लगभग तीन दशक से अपने दमदार अभिनय से दर्शकों के दिल में आज भी एक खास मुकाम बना रखा है। सन्नी देवोल, जिनका जन्म 19 अक्तूबर 1956 को हुआ, को अभिनय की कला विरासत में मिली।

उनके पिता धमेन्द्र हिंदी फिल्मों के जाने माने अभिनेता थे।घर में फिल्मी माहौल रहने के कारण सन्नी देवोल अक्सर अपने पिता के साथ शूटिंग देखने जाया करते थे इस वजह से उनका भी रूझान फिल्मों की ओर हो गया और वह भी अभिनेता बनने के ख्वाब देखने लगे।सन्नी ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा मुंबई से पूरी की।इसके बाद उन्होंने इंगलैंड के मशहूर ओल्ड बेव थियेटर में अभिनय की शिक्षा पूरी की।सन्नी ने अपने अभिनय करियर की शुरूआत अपने पिता की निर्मित फिल्म "बेताब" से की।वर्ष 1983 में राहुल रवैल के निर्देशन में युवा प्रेम कथा पर बनी यह फिल्म टिकट खिडक़ी पर सुपरहिट साबित हुयी।फिल्म बेताब की सफलता के बाद सन्नी देवोल को सोहनी महिवाल, मंजिल मंजिल, सन्नी, जबरदस्त जैसी फिल्मों में काम करने का अवसर मिला लेकिन इनमें से कोई फिल्म टिकट खिडक़ी पर कामयाब नही हो सकी। वर्ष 1985 में सन्नी देवोल को एक बार फिर से राहुल रवैल के निर्देशन में बनी फिल्म "अर्जुन" में काम करने का अवसर मिला जो उनके सिने करियर की एक और सुपरहिट फिल्म साबित हुयी।इस फिल्म में सन्नी ने एक ऐसे युवा की भूमिका निभाई जो राजनीति के दलदल में फंस जाता है।फिल्म की सफलता के साथ ही सन्नी देवोल एक बार फिर से फिल्म इंडस्ट्री में अपनी खोई हुयी पहचान बनाने में कामयाब हो गये।फिल्म अर्जुन की सफलता के बाद सन्नी की छवि एंग्री यंग मैन स्टार के रूप में बन गयी।इस फिल्म के बाद निर्माता निर्देशकों ने अधिकतर फिल्मों में सन्नी देवोल की इसी छवि को भुनाया।इन फिल्मों में सल्तनत, डकैत, यतीम इंतकाम, पाप की दुनिया जैसी फिल्में शामिल है।वर्ष 1990 में प्रदर्शित फिल्म "घायल" सन्नी के सिने करियर की महत्वपूर्ण फिल्मों में शुमार की जाती है।फिल्म में अपने
दमदार अभिनय के लिये सन्नी देवोल को सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के फिल्म फेयर पुरस्कार के साथ ही राष्ट्रीय पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया।वर्ष 1991 में प्रदर्शित फिल्म "नरसिंहा" सन्नी के सिने करियर की सुपरहिट फिल्मों में शुमार की जाती है।एन. चंद्रा के निर्देशन में बनी इस फिल्म में सन्नी देवोल का किरदार पूरी तरह ग्रे शेडस लिये हुये था, बावजूद इसके, वह दर्शको की सहानुभूति पाने में कामयाब हुये और अपने दमदार अभिनय से फिल्म को सुपरहिट बना दिया। वर्ष 1993 में प्रदर्शित फिल्म "दामिनी" सन्नी के सिने करियर की एक और महत्वपूर्ण फिल्म साबित हुयी।यूं तो यह पूरी फिल्म अभिनेत्री मीनाक्षी शेषाद्री के इर्द गिर्द घूमती है लेकिन सन्नी ने अपनी विशिष्ट संवाद अदायगी से दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   3621220
 
     
Related Links :-
आर्टिस्ट अलाउड म्यूजिक अवाड्र्स के छठे एडिशन का जोरदार समापन
अक्टूबर की टीम का अनोखा आइडिया
प्रिया पर खुदा की तौहीन का आरोप
‘स्टूडेंट ऑफ द ईयर- 2’ के लिए देहरादून पहुंचे टाइगर
सलमान खान के नाम अर्पिता की इमोशनल पोस्ट, बोली, लव यू भाई
कपिल की दिमागी हालत ठीक नही
सुहानी धनकी का लाछी शो में मजबूत है किरदार
मैं बचपन में फुटबॉल सीखना चाहती थी: नोरा फतेही
नमित खन्ना को स्पीड की जरूरत है!
अनीता और रित्विक धनंजानी की नई वेब सीरीज गलती से मिस-टेक