हरियाणा मेल ब्यूरो
29/10/2017  :  10:23 HH:MM
चिनफिंग के दुबारा चुनने जाने से भारत को होगा फायदा
Total View  5

नई दिल्लीत्न भारत के पड़ोसी मुल्क चीन में राष्ट्रपति शी चिनफिंग दुबारा अपना दसू रा कायर्क ाल शरुु करन े वाल े ह।ै इस पर भारत न े चीन की कम्युि नस्ट पार्टी के कांग्रेस में तय की गई नीति और निर्देश से दोनों देशों के बीच बेहतर रिश्ता बनने की उम्मीद जताई है। क्षेत्र में इससे शांति और स्थायित्व में भी योगदान मिल सकता है। चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग के दूसरे कार्यकाल से संबंधित सवाल के जवाब में विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने यह टिह्रश्वपणी की। चीन के राष्ट्रपति ने दूसरा कार्यकाल शुरू करते हुए अपने देश की सेना को युद्ध की तयै ारी तजे करन े को कहा ह।ै कम्युि नस्ट पार्टी के कागं से्र के दौरान उन्होनं े सने ा स े युद्ध में विजय कैसे मिलेगी इस पर ध्यान केंद्रित करने को कहा। विदेश मंत्रालय के पव्र क्ता न े कहा,हमार े पध्र ानमत्र्ं ाी न े राष्टप्र ति शी को कागं से्र शरूु होन े स े पहल े शुभकामना भेजी थी। कम्युनिस्ट पार्टी का फिर से महासचिव चुने जाने पर उन्हें बधार्इ भी दी ह।ै हम ें उम्मीद ह ै कि कागं से्र द्वारा तय की गर्इ नीति और निदशर््े ा स े हमार े द्विपक्षीय रिश्त े को बल मिलगे ा। वन बल्े ट वन रोड म ें भारत को शामिल होन े की चीन की पेशकश पर रवीश कुमार ने कहा कि ओबोर पर भारत की स्थिति सर्वविदित है।चीन की ओबोर परियोजना में ही चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा भी शामिल है।






Enter the following fields. All fields are mandatory:-
Name :  
  
Email :  
  
Comments  
  
Security Key :  
   8875839
 
     
Related Links :-
अमेरिकी विशेषज्ञ ने ओबीओआर के खिलाफ खड़े होने पर मोदी की तारीफ
अमेरिका को भारत में निवेश जारी रखना चाहिए : श्राइवर
मसूद पर प्रस्ताव ब्लॉक करने में कोई अंतर्विरोध नहीं : चीन
जापान और अमेरिका में नौसैन्य अभ्यास शुरू
नेपाल ने चीनी कंपनी के साथ हाइड्रो प्रोजेक्ट डील की रद्द
रूस का दावा आईएस की मदद कर रहा है अमेरिका
सैन्य सहयोग का फैसला अभूतपूर्व
इराक-ईरान सीमा पर, मौत का तांडव
पीएम मोदी ने की ट्रंप से मुलाकात
रूस से लडऩे साइबर हथियार क्षमता बढ़ाएगा नाटो